विज्ञापन
Story ProgressBack

Char Dham Yatra 2024: एमपी के तीन श्रद्धालुओं की मौत, CM ने मदद का किया ऐलान, उत्तराखंड सरकार ने दी हिदायत

Char Dham Yatra: यात्रा में फंसे प्रदेश के श्रद्धालुओं के लिए हेल्प लाइन नं. 011-26772005 , 0755-2708055 एवं 0755-2708059 जारी किया गया है. किसी भी प्रकार की समस्या होने पर सहायता के लिए इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं.

Read Time: 4 min
Char Dham Yatra 2024: एमपी के तीन श्रद्धालुओं की मौत, CM ने मदद का किया ऐलान, उत्तराखंड सरकार ने दी हिदायत

Char Dham Yatra News: चारधाम यात्रा पर गए मध्यप्रदेश के तीन श्रद्धालुओं की मौत हो गई है. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister of Madhya Pradesh) डॉ मोहन यादव (CM Mohan Yadav) ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि चार धाम यात्रा पर गए मध्यप्रदेश के तीन श्रद्धालुओं के हार्ट अटैक के कारण असामयिक निधन का समाचार अत्यंत दुखद एवं पीड़ादायक है. ईश्वर दिवंगत आत्माओं की शांति एवं परिजनों को यह गहन दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें. मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से मृतकों के परिवारजनों को 4-4 लाख रुपए की अंतरिम सहायता राशि प्रदान की जायेगी.

हेल्प लाइन नंबर शुरु

यात्रा में फंसे प्रदेश के श्रद्धालुओं के लिए हेल्प लाइन नं. 011-26772005 , 0755-2708055 एवं 0755-2708059 जारी किया गया है. किसी भी प्रकार की समस्या होने पर सहायता के लिए इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं.

उत्तराखंड सरकार ने कहा बिना पंजीकरण यमुनोत्री-गंगोत्री धाम न आएं तीर्थयात्री

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के सचिव मीनाक्षी सुंदरम ने बुधवार को उत्तरकाशी में यमुनोत्री और गंगोत्री धाम की यात्रा व्यवस्थाओं की समीक्षा बैठक ली थी. इस दौरान यात्रा व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने पुलिस-प्रशासन को कई दिशा-निर्देश दिए. न्यूज एजेंसी आईएएनएस (IANS) के अनुसार उन्होंने कहा कि बिना पंजीकरण यात्रा करने आए श्रद्धालुयों के साथ सख्ती से निपटा जाए, उन्हें चेकिंग बैरियर से वापस भेजें. उन्होंने यमुनोत्री धाम में बिना पंजीकरण के डंडी-कंडी, घोड़ा-खच्चरों के संचालन पर भी प्रभावी रोक लगाने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा कि बगैर पंजीकरण के किसी को भी धाम में नहीं जाने दिया जाए. इसके लिए बैरियर पर सख्ती से जांच-पड़ताल कर ऐसे यात्रियों और वाहनों को सीधे वापस भेजें. इसके अलावा पंजीकरण तिथि से पहले और बाद में भी कराए गए पंजीकरण को कतई स्वीकार न करें. उन्होंने निर्देश दिए कि यात्रा कंट्रोल रूम, आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम और पुलिस कंट्रोल रूम के फोन नम्बरों का ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार करें.

उन्होंने यात्रा रूट पर सुरक्षित और अतिरिक्त पार्किंग स्थल विकसित करने के निर्देश दिए. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जिन स्थानों पर सड़क संकरी है, वहां 42 सीटर और बड़ी बसों को पहले रोक दें, ताकि जाम की स्थिति पैदा न हो. जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने कहा कि यमुनोत्री धाम में हर दिन 10 हजार से ज्यादा यात्री पहुंच रहे हैं. इसी तरह गंगोत्री धाम में 12 हजार से अधिक यात्री आ रहे हैं. दोनों धामों में क्षमता से अधिक यात्री आ रहे हैं.

जिलाधिकारी ने सुझाव दिया कि यमुनोत्री और गंगोत्री की धारण क्षमता और सड़कों की स्थिति के अनुसार, अगर यात्रियों की संख्या निर्धारित की गई तो स्थिति सामान्य हो जाएगी. इससे न तो जाम लगेगा और न ही अन्य व्यवस्थाओं में समस्या होगी. यात्रियों की सुविधा के लिए प्रशासन की ओर से भोजन, पानी की व्यवस्था और मेडिकल शिविरों की जानकारी दी गई.

सचिव ने श्री पांच गंगोत्री मंदिर समिति के पदाधिकारियों से मुलाकात कर मंदिर समिति को तीर्थयात्रियों की व्यवस्था एवं अन्य समस्याओं पर बातचीत की. इस दौरान मंदिर समिति से भी रिकॉर्ड यात्रियों के आने पर सहयोग की अपेक्षा की गई. मंदिर समिति के अध्यक्ष हरीश सेमवाल ने प्रमुख सचिव को भरोसा दिया कि वह यात्रा व्यवस्था में पूरा सहयोग कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि धाम में सभी व्यवस्थाएं ठीक हैं, लेकिन संकरे मार्ग का चौड़ीकरण, प्रमुख पड़ावों पर पार्किंग स्थल बनाकिने का सुझाव दिया, ताकि वाहनों का दवाव बढ़ने पर सुरक्षित पार्किंग कराई जाए.

यह भी पढ़ें : Lok Sabha Election 2024: पीएम मोदी के खिलाफ ताल नहीं ठोंक पाएंगे श्याम रंगीला, नामांकन हुआ रद्द

यह भी पढ़ें : थैंक यू NDTV.... 3 साल बाद हुई परीक्षा, नर्सिंग स्टूडेंट्स ने हमारी मुहिम को सराहा, देखिए रिपोर्ट

यह भी पढ़ें : विश्वनाथ की नगरी काशी में महिलाओं को सक्षम और स्वावलंबी बना रहा है अदाणी फाउंडेशन, इतने हैं लाभार्थी

यह भी पढ़ें : Madhavi Raje Funeral in Gwalior: माधव राव के नजदीक ही पंचतत्व में विलीन होंगी राजमाता, ऐसी है तैयारी

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close