विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jul 30, 2023

''अगर मैं देशद्रोही हूं तो मुझे गिरफ्तार करो'' : इंदौर में बोले कन्हैया कुमार

महिला कांग्रेस द्वारा आयोजित संवाद में ‘महिलाओं के प्रति नजरिए में बदलाव की अहमियत पर’ कमल नाथ ने कहा कि हमारे देश की संस्कृति जोड़ने की है, जो अब खतरे में है.

Read Time: 4 mins
''अगर मैं देशद्रोही हूं तो मुझे गिरफ्तार करो'' :  इंदौर में बोले कन्हैया कुमार
आदिवासी युवा पंचायत में बरसे कन्हैया कुमार

इंदौर: कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों के बड़े नेता एक ही दिन इंदौर में हैं. रविवार सुबह से शुरू हुए कांग्रेस के आयोजनों की अगर बात करें तो सबसे पहले इंदौर की विधानसभा क्षेत्र क्रमांक एक में रुद्राक्ष वितरण समारोह में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और कन्हैया कुमार शामिल हुए. 

महिलाओं के प्रति दृष्टिकोण में बदलाव की अहमियत कार्यक्रम में कमलनाथ-दिग्विजय ने दिए सवालों के जवाब
इस आयोजन में शहर की कामकाजी प्रमुख महिलाएं शामिल थीं, जिनके सवालों के मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह द्वारा जवाब दिए गए. इस आयोजन की खास बात यह रही कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की पत्नी अमृता राय भी उन महिलाओं के बीच मौजूद थीं, जो सवाल कर रही थीं. इसी दौरान अमृता राय द्वारा भी सवाल किया गया, जिसमें पूछा गया कि अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती है तो आप महिलाओं के लिए क्या करेंगे?. जिस पर कमलनाथ ने जवाब देते हुए कहा अगर मत लगाइए..सरकार बन रही है और महिलाओं के लिए कांग्रेस वह सब करेगी जो मध्यप्रदेश में अभी तक नहीं हुआ. कमलनाथ ने अन्य महिलाओं के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि छिंदवाड़ा मॉडल देख लीजिए. स्किल डेवलपमेंट और ट्रेनिंग के मामले में हमने क्या किया. स्किल डेवलपमेंट और ट्रेनिंग पर सबसे अच्छा काम छिंदवाड़ा में हुआ है, जिसे पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- सिंगरौली में लगातार बढ़ रही आपराधिक घटनाएं, 7 माह में हुई ये बड़ी वारदातें

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इंदौर में कहा कि महिलाओं के साथ हो रहे सिर्फ दस प्रतिशत अपराध ही सामने आते हैं. ज्यादातर केस तो पंजीबद्ध हो भी नहीं पाते. मध्य प्रदेश महिला अपराधों के मामले में नंबर वन है. महिलाओं को चप्पल, छाते बांटे जा रहे है. क्या मध्य प्रदेश का मतदाता बिकाऊ है. कई सरकारी योजनाएं कागजों पर अच्छी लगती हैं, लेकिन जमीन पर फेल हो जाती हैं. भाजपा सरकार को चुनाव के समय ही सारी योजनाएं याद आ रही हैं.

महिला कांग्रेस द्वारा आयोजित संवाद में ‘महिलाओं के प्रति नजरिए में बदलाव की अहमियत पर' कमल नाथ ने कहा कि हमारे देश की संस्कृति जोड़ने की है, जो अब खतरे में है. देश के अलग-अलग राज्यों में भाषा, धर्म, जाति के नाम पर बांटा जा रहा है. मणिपुर में पहले से इस जाति के आधार पर हिंसा हो रही है.

ये भी पढ़ें- इंदौर में पॉश इलाके में हो रहा था गंदा काम, 6 महिलाओं समेत 2 पुरुष गिरफ्तार

आदिवासी युवा पंचायत में बरसे कन्हैया कुमार 
इंदौर में आदिवासी पंचायत में कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार ने कहा कि मैं देशद्रोही हूं तो मुझे गिरफ्तार कर लो, इंदौर में देश के 2- 2 गृह मंत्री मौजूद हैं. एक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और दूसरे मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा. दोनों में अगर हिम्मत है तो आरोप लगाने की बजाय मुझे गिरफ्तार कर लें. 

आदिवासी युवा पंचायत को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि देश में हालात क्या हो रहे हैं. यह किसी से छिपा नहीं है. आदिवासियों के साथ मध्यप्रदेश में अत्याचार बढ़ते जा रहे हैं. मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पर तंज कसते हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि मध्य प्रदेश में महिलाओं पर अत्याचार सबसे ज्यादा हो रहे .हैं उन्हें पहले महिला अत्याचार पर ध्यान देना चाहिए.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
रेवती रेंज में पौधारोपण शुरू: महिलाओं ने बजाए शंख, विजयवर्गीय ने की पूजा-अर्चना... इंदौर में आज रोपे जाएंगे 11 लाख पौधे
''अगर मैं देशद्रोही हूं तो मुझे गिरफ्तार करो'' :  इंदौर में बोले कन्हैया कुमार
MP News Madhya Pradesh High Court issued notice to Leader of Opposition Umang Singhar in the assembly election case
Next Article
MP News: नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार की बढ़ेंगी मुश्किलें? हाईकोर्ट ने विधानसभा निर्वाचन मामले में मांगा जवाब
Close
;