विज्ञापन
Story ProgressBack

National Doctor’s Day 2024: मामूली फीस में इलाज करते हैं डॉ डावर, मिल चुका है सेवा के लिए पद्मश्री सम्मान

Doctors Day 2024: डॉ डावर का कहना है सिर्फ दिखावे के लिए पैसे लगता है 'सादा जीवन जियो कुछ नहीं लगता. जब 1972 में क्लीनिक खोली थी तभी जो टेबल, कुर्सी और हॉस्पिटल बेड खरीदा था, वह आज भी चल रहा है फिर ज्यादा पैसे की जरूरत ही क्या है.

National Doctor’s Day 2024: मामूली फीस में इलाज करते हैं डॉ डावर, मिल चुका है सेवा के लिए पद्मश्री सम्मान

National Doctor's Day 2024 Inspirational Story: जबलपुर (Jabalpur) के डॉक्टर (कैप्टन) एमसी डावर (Dr M C Dawar)  76 की उम्र में अपनी झुकी कमर के बाद भी पिछले 30 साल से 5 रुपए में रोज 200 मरीज देख रहे थे, महंगाई बढ़ी तो मरीजो ने ही सलाह दी तो 5 रुपये को फीस (Doctor's Fees) 50 साल में अब 20 रुपए हो गई. डॉक्टर डावर के यहां क्लीनिक खुलने के पहले से ही 10- 20 मरीज जुट जाते हैं. साधारण सी क्लीनिक में रखी बेंच में सब एक से बैठते हैं. गरीब, अमीर, वीआईपी सब अपने अपने नंबर आने पर ही डॉक्टर (कैप्टन) एमसी डावर से मिल सकते हैं. आइए जानते है इनकी कहानी...

National Doctor's Day 2024: Dr M C Dawar

National Doctor's Day 2024: Dr M C Dawar

सेना में रहे हैं डॉ डावर

डॉक्टर (कैप्टन) एमसी डावर  सेना में डॉक्टर रहे, 1971 की जंग में घायल सैनिको का इलाज किया था. डॉ डावर का जन्म 1946 में पाकिस्तान में हुआ था. बंटवारे के पहले ही डेढ़ साल की उम्र में ही उनके पिता का निधन हो गया था. कठिन परिस्थितियों में उन्होंने स्कूल की पढ़ाई पंजाब के जालंधर से की, जिसके बाद जबलपुर, मध्य प्रदेश के मेडिकल कालेज से उन्होंने MBBS की डिग्री हासिल की.

डॉ. डावर ने बताया कि जब सेना में भर्ती के लिए निकली तब 533 उम्मीदवारों लोगो ने परीक्षा फिर इंटरव्यू दिया सिर्फ 23 ही चयनित हुए थे. डॉक्टर (कैप्टन) एमसी डावर 9वें नंबर पर थे. तभी 1971 की भारत-पाकिस्तान जंग शुरू हुई उनकी पोस्टिंग बांग्लादेश में हुई, घर वाले चिंतित हुए, लेकिन डॉ डावर ने सैंकड़ों घायल जवानों का इलाज किया. युद्ध खत्म होने के बाद कुछ उन्हें स्वयं के स्वास्थ्य के कारण सेना से रिटायरमेंट लेना पड़ा और उन्होने 1972 से  जबलपुर में अपनी प्रैक्टिस शुरू की जो सेना में सीखा था वो जनसेवा में लगा दिया.

जबलपुर में ऐसे हुई शुरुआत

डॉक्टर (कैप्टन) एमसी डावर ने 10 नवंबर 1972 को जबलपुर में अपने सबसे पहले मरीज की जांच की थी. डॉक्टर (कैप्टन) एमसी डावर ने एनडीटीवी को बताया कि 1986 तक 2 रुपए फीस ली, फिए 3 रुपए लेना शुरू किया, 1997 में 5 रुपए और फिर 15 साल बाद 2012 में फीस 10 रुपए तक बढ़ाई. पिछले साल नवंबर से ही फीस 20 रुपए बढ़ा दी है, कई बार गरीब मरीज से वह भी नहीं लेते. आज भी जबलपुर में वे 2 रुपये वाले डाक्टर के नाम से मशहूर हैं. 

डॉ डावर का कहना है सिर्फ दिखावे के लिए पैसे लगता है 'सादा जीवन जियो कुछ नहीं लगता. जब 1972 में क्लीनिक खोली थी तभी जो टेबल, कुर्सी और हॉस्पिटल बेड खरीदा था, वह आज भी चल रहा है फिर ज्यादा पैसे की जरूरत ही क्या है. डॉ डावर ने अपने बेटे को भी यही सीख दे डाक्टर बनया है और बेटी को भी अच्छी शिक्षा दी. बेटा आज जबलपुर में डॉ ऋषि डावर के नाम से विख्यात है.
National Doctor's Day 2024: Dr M C Dawar

National Doctor's Day 2024: Dr M C Dawar

पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित

74वें गणंतत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों (Padma Awards 2023) की घोषणा की गई थी. पद्म श्री पुरस्कार पाने वालों में जबलपुर, मध्य प्रदेश के एक डॉक्टर भी शामिल थे. वे थे डॉ. मुनीश्वर चंद्र डावर, इस अवार्ड से पूरा प्रदेश झूम उठा लोगों को लगा कि सही व्यक्ति को सही अवार्ड दिया गया है.

National Doctor's Day 2024: Dr M C Dawar

National Doctor's Day 2024: Dr M C Dawar

पीएम मोदी ने डॉ एससी डावर से मुलाकात की

लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए पीएम मोदी संस्कारधानी जबलपुर पहुंचे. पीएम मोदी ने एयरपोर्ट में सबसे पहले डॉ एससी डावर से मुलाकात की. एमसी डावर के साथ मुलाकात की फोटो पीएम मोदी ने अपने सोशल मीडिया एक्स पर शेयर की है. पीएम मोदी ने फोटो शेयर करते हुए लिखा- "जबलपुर एयरपोर्ट पर पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित डॉ एमसी डावर से मिलने का अवसर मिला. गरीबों और वंचित वर्गों के इलाज के उनके प्रयासों के लिए जबलपुर और आसपास के इलाकों में कई लोग उनकी प्रशंसा करते हैं." NDTV कामना करता है की डॉ. मुनीश्वर चंद्र डावर शतायु हो और नई पीढ़ी के डाॅक्टर उनसे शिक्षा लें.

यह भी पढ़ें : National Doctor's Day 2024: डॉ धनंजय को शिक्षा से है प्यार, रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन से मानद उपाधि प्राप्त

यह भी पढ़ें : National Doctor's Day 2024: मूक-बधिरों की टीम के साथ OT में काम, ऑर्थोपेडिक सर्जन में नामदार हैं डॉ जामदार

यह भी पढ़ें : रानी दुर्गावती बलिदान दिवस: मुगलों के आगे सिर नहीं झुकाने वाली महान योद्धा और गोंड शासक की ऐसी है कहानी

यह भी पढ़ें : Ambedkar Jayanti 2024: बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का ऐसा था जीवन, पढ़िए उनके प्रेरणादायी विचार

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
National Doctor’s Day 2024: मूक-बधिरों की टीम के साथ OT में काम, ऑर्थोपेडिक सर्जन में नामदार हैं डॉ जामदार
National Doctor’s Day 2024: मामूली फीस में इलाज करते हैं डॉ डावर, मिल चुका है सेवा के लिए पद्मश्री सम्मान
Bidhan Chandra Roy National Doctor's Day 2024 Who was Dr BC Roy in whose memory National Doctor's Day is celebrated
Next Article
National Doctor's Day 2024: कौन थे डॉ बीसी रॉय, जिनकी याद में मनाया जाता है राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस
Close
;