विज्ञापन
Story ProgressBack

Night Shift: शोध में हुआ बड़ा खुलासा, रात में काम करने वाले में बढ़ सकता है इन गंभीर बीमारियों का खतरा

जर्नल ऑफ प्रोटीन रिसर्च में प्रकाशित अध्ययन में "मस्तिष्क में मास्टर जैविक घड़ी" के बारे में बताया गया है. यह घड़ी शरीर को दिन और रात के अनुसार लय का पालन करने के लिए प्रेरित करती है. प्रोफेसर हंस वान डोंगेन के मुताबिक जब यह "अव्यवस्थित" हो जाता है, तो यह तनाव का कारण बनता है और स्वास्थ्य की दृष्टि से घातक होता है.

Read Time: 3 min
Night Shift: शोध में हुआ बड़ा खुलासा, रात में काम करने वाले में बढ़ सकता है इन गंभीर बीमारियों का खतरा

Night Shift impact Health: एक अध्ययन में पाया गया है कि सिर्फ तीन रात की शिफ्ट मधुमेह, मोटापा और अन्य कई बीमारियों का खतरा बढ़ा सकती है. वाशिंगटन स्टेट यूनिवर्सिटी (Washington State University), अमेरिका (America) के शोधकर्ताओं ने खुलासा किया है कि रात की शिफ्ट में ब्लड शुगर (Blood Sugar) से संबंधित शरीर की प्रोटीन (Protine) लय गड़बड़ा सकती है.

जर्नल ऑफ प्रोटीन रिसर्च में प्रकाशित अध्ययन में "मस्तिष्क में मास्टर जैविक घड़ी" के बारे में बताया गया है. यह घड़ी शरीर को दिन और रात के अनुसार लय का पालन करने के लिए प्रेरित करती है. प्रोफेसर हंस वान डोंगेन के मुताबिक जब यह "अव्यवस्थित" हो जाता है, तो यह तनाव का कारण बनता है और स्वास्थ्य की दृष्टि से घातक होता है.

शोट में ये मिला रिजल्ट

वान डोंगेन ने कहा कि केवल तीन-रात की शिफ्ट लय को बाधित कर सकती है और स्वास्थ्य जोखिम बढ़ सकता है. इससे मधुमेह और मोटापे की समस्या भी खड़ी हो सकती है. टीम ने रक्त-आधारित प्रतिरक्षा प्रणाली कोशिकाओं में मौजूद प्रोटीन की पहचान की. इनमें से कुछ की लय मुख्य जैविक घड़ी से निकटता से जुड़ी हुई थी और रात की शिफ्ट की प्रतिक्रिया में कोई बदलाव नहीं दिखा. लेकिन, अधिकांश अन्य प्रोटीनों में परिवर्तन दिखा. ग्लूकोज विनियमन में शामिल प्रोटीन का विश्लेषण करते हुए टीम ने रात की शिफ्ट में प्रतिभागियों में ग्लूकोज लय का लगभग पूर्ण उलट पाया.

ये भी पढ़ें Health News: गर्मियों के मौसम में इन सब्जियों से बना लें दूरी, सेहत पर पड़ सकता है उल्टा असर

रात में काम करने से शरीर में ये होते हैं बदलाव

इसके अलावा, उन्होंने पाया कि रात की शिफ्ट के श्रमिकों में इंसुलिन उत्पादन और संवेदनशीलता से जुड़ी प्रक्रियाएं तालमेल से बाहर थीं. पिछले अध्ययनों से भी पता चला है कि रात की शिफ्ट में काम करने से रक्तचाप पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. इससे हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है.

ये भी पढ़: Brain Health: दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए इन चीजों से दूरी है बेहद जरूरी, न करें इनका सेवन

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close