विज्ञापन
Story ProgressBack

ऐसे कैसे हो गया सर! BSc के अधिकांश बच्चों को मिले 0 नंबर, संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय में हुआ हंगामा

Exam Results: जशपुर और सरगुजा जिले के शासकीय कॉलेजों के बीएससी द्वितीय वर्ष का परीक्षा परीक्षा परिणाम हाल ही में विश्वविद्यालय के द्वारा जारी किया गया है. इसमें अधिकांश छात्र-छात्राओं को जीरो नंबर प्राप्त हुए है. जबकि इससे पूर्व में हुए एग्जाम में छात्रों ने अच्छे अंक प्राप्त किए थे.

Read Time: 4 mins
ऐसे कैसे हो गया सर! BSc के अधिकांश बच्चों को मिले 0 नंबर, संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय में हुआ हंगामा

Sant Gahira Guru Vishwavidyalaya Exam Results: मुख्यमंत्री विष्णु देव साय (CM Vishnu Deo Sai) के गृह जिले जशपुर के छात्र-छात्राओं ने आज सरगुजा के संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय (Sant Gahira Guru Vishwavidyalaya) पहुंचे और प्रभारी कुल सचिव से मुलाकात कर उत्तर पुस्तिका (Answer sheet) के पुनर्मूल्यांकन (Revaluation) की मांग की है. इस संबंध में ज्ञापन भी सौंपा गया है. जिसमें उन्होंने विश्वविद्यालय प्रबंधन को चेतावनी दी है कि अगर जल्द से जल्द उचित कार्रवाई नहीं की गई तो उग्र आंदोलन करने के लिए बच्चे बाध्य होंगे. वहीं विश्वविद्यालय के कुल सचिव ने छात्र-छात्राओं को आश्वत करते हुए कहा है कि परीक्षा परिणाम की जांच करवाएंगे.

क्या है मामला?

जशपुर और सरगुजा जिले के शासकीय कॉलेजों के बीएससी द्वितीय वर्ष का परीक्षा परीक्षा परिणाम हाल ही में विश्वविद्यालय के द्वारा जारी किया गया है. इसमें अधिकांश छात्र-छात्राओं को जीरो नंबर प्राप्त हुए है. जबकि इससे पूर्व में हुए एग्जाम में छात्रों ने अच्छे अंक प्राप्त किए थे. वहीं मुख्य परीक्षा में जीरो नंबर दिए जाने से छात्र संतुष्ट नहीं हैं. इस मामले को लेकर छात्रों ने आजाद सेवा संघ के बैनर तले संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय पहुंचकर प्रभारी कुल सचिव से मुलाकात की और उसके बाद उत्तर पुस्तिका की पुर्नमूल्यांकन की मांग की.

विश्वविद्यालय पहुंचे छात्रों में मनु विश्वकर्मा ने NDTV को बताया कि वे आत्माराम शासकीय महाविद्यालय इंग्लिश मीडियम की बीएससी द्वितीय वर्ष की छात्र है. हाल में ही विश्वविद्यालय प्रबंधन के द्वारा उनके महाविद्यालय का भी परीक्षा परिणाम जारी किया गया लेकिन उनके महाविद्यालय के अधिकांश छात्रों को एक पेपर में जीरो मार्क्स दिए गए हैं, जो संभव नहीं है.

छात्र ने आगे बताया कि जिले का एकमात्र उनका महाविद्यालय इंग्लिश मीडियम का है जहां पर बेहतरीन पढ़ाई होती है. परीक्षा से पूर्व उनके महाविद्यालय प्रबंधन के द्वारा सभी विषयों का टेस्ट भी लिया गया था, जिसमें उनके अच्छे परिणाम आए थे. ऐसे में एक विषय में जीरो मार्क्स आना उन्हें समझ में नहीं आ रहा है. इसलिए वह चाहते हैं कि उनकी कॉपी का फिर से मूल्यांकन कराया जाए ताकि सच्चाई सामने आ सके.

आजाद सेवा संघ के रचित मिश्रा ने बताया कि यह पहला मौका नहीं है जब छात्रों के पेपर जचने में विश्वविद्यालय प्रबंधन के द्वारा गड़बड़ी की गई है इससे पहले भी ऐसा देखा गया है कि महाविद्यालय के छात्रों को जीरो मार्क्स मिले हैं.

जल्दी परीक्षा परिणाम जारी करने के चक्कर में ऐसा होता है!

विश्वविद्यालय कैम्पस में विरोध प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं ने बताया कि संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय में ऐसी गड़बड़ी हर वर्ष होती है. उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय प्रबंधन के द्वारा जल्दी-जल्दी से परीक्षा परिणाम जारी करने के कारण ऐसा होता है. छात्रों का कहना है कि हर विषय का दो पेपर होता है ऐसे में एक पेपर में छात्र अगर अच्छा नम्बर लाता है तो दूसरे पेपर में जीरो मार्क्स कैसे ला सकता है.

विश्वविद्यालय प्रबंधन का क्या कहना है?

संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय के कुल सचिव शारदा त्रिपाठी ने कहाना है. छात्रा अपने परिणाम को लेकर असंतुष्ट हैं यह एक स्वाभाविक प्रक्रिया है. उन्होंने ने कहा विश्वविद्यालय के प्रोफेसर का अभीमत लेकर आगे की कार्यवाही की जाएगी ताकि छात्रों का किसी भी स्तर पर नुकसान ना हो सके.

यह भी पढ़ें : CM Rise School: 3 साल से भटक रहा है ये स्कूल, जिम्मेदार अधिकारियों ने कहा- अभी भी तलाश जारी है

यह भी पढ़ें : कथावाचक और भजन गायक ने फांसी लगाकर दे दी अपनी जान, मरने से पहले पत्नी पर लगाए थे प्रताड़ना के आरोप

यह भी पढ़ें : Daru Chhodane Ki Dawai: एमपी के मंत्री का अजीब तर्क, कहा- बाहर पीने वाले पतियों से पत्नियां यह कहें

यह भी पढ़ें : PM JANMAN योजना में प्रधानमंत्री आवास के लिए ली थी रिश्वत, NDTV पर पीड़ितों ने बताई जनमन की बात

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए बड़ी खबर...   इस तारीख तक करा सकते हैं फसलों का बीमा 
ऐसे कैसे हो गया सर! BSc के अधिकांश बच्चों को मिले 0 नंबर, संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय में हुआ हंगामा
First FIR: Under the new law, the country's first FIR was registered in Kabirdham, Chhattisgarh, the new criminal law came into force from today
Next Article
First FIR: नए कानून के तहत छत्तीसगढ़ के कबीरधाम में दर्ज हुई देश की पहली FIR, आज से लागू हुआ नया क्रिमिनल कानून
Close
;