विज्ञापन
Story ProgressBack

दो साल में करोड़ों खर्च करने के बाद भी अब तक नहीं हुई स्कूलों की मरम्मत, अधिकारी दे रहे गोलमोल जवाब

CG News: बेमेतरा में स्कूल जतन योजना के तहत किया जा रहा मरम्मत का कार्य अब तक पूरा नहीं हो सका है. दो साल बीत जाने के बाद भी कार्य अधूरा पड़ा है. जिसको लेकर जिम्मेदार अधिकारी गोलमोल जवाब दे रहे हैं.

Read Time: 3 mins
दो साल में करोड़ों खर्च करने के बाद भी अब तक नहीं हुई स्कूलों की मरम्मत, अधिकारी दे रहे गोलमोल जवाब
बेमेतरा जिले में स्कूलों की मरम्मत का कार्य अब तक अधूरा है.

Schools Not Repaired in Bemetara, Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले (Bemetara) की स्कूलों में किए जा रहे मरम्मत के कार्य अभी तक अधूरे पड़े हैं. हालत यह है कि 15 जून को स्कूल खुल जाएंगे लेकिन, तब तक निर्माण कार्य (School Construction Work) पूरा होने की संभावना न के बराबर है. इसको लेकर जिले के जिम्मेदार अधिकारी गोलमोल जवाब देते नजर आ रहे हैं. वहीं कैबिनेट मंत्री दयालदास बघेल (Dayaldas Baghel) के आदेश का भी असर होता दिखाई नहीं दे रहा है.

दरअसल, छत्तीसगढ़ सरकार (CG Government) की ओर से स्कूल जतन योजना एवं समग्र शिक्षा योजना के तहत बेमेतरा जिले के स्कूलों (Schools in Bemetara) में मरम्मत के साथ ही अतिरिक्त कक्ष का निर्माण किया जाना था, दोनों कार्य के लिए अब 3 करोड़ 17 लाख रुपये की स्वीकृति प्रदान की गई थी और निर्माण कार्य की जिम्मेदारी आरईएस व हाउसिंग बोर्ड को सौंपी गई थी. जिसके तहत 697 स्कूलों में मरम्मत, 216 स्कूलों में अतिरिक्त कक्ष निर्माण हुआ. वहीं 63 स्कूलों में दोनों तरह के कार्य किए जाने थे.

2 साल बाद भी निर्माण कार्य नहीं हुआ पूरा

बेमेतरा जिले में मरम्मत और निर्माण कार्य के नाम पर स्वीकृत 976 स्कूलों में से अभी भी 430 स्कूलों के निर्माण कार्य जारी है, अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए 48 लाख रुपये स्वीकृत किए गए हैं, जिसमें से कई स्कूलों का निर्माण कार्य तो दो-दो साल से चल रहा है. हालत यह है कि 15 जून को स्कूल खुल जाएंगे लेकिन, तब तक निर्माण कार्य पूरा नहीं हो पाएगा. कहीं-कहीं स्कूलों में शुरुआती लेवल तक ही काम हुआ है, तो कहीं पर छज्जा लेवल तक और कहीं पर छत की ढलाई हो चुकी है, लेकिन पूर्ण निर्माण कार्य किसी भी स्कूल का नहीं हो पाया है.

जिला शिक्षा अधिकारी का गोल-गोल जवाब

वहीं इस पूरे मामले पर जिम्मेदार अधिकारी का कहना है कि निर्माण एजेंसी रेसी और उनके द्वारा कार्य किया जा रहा है, लेकिन किसी कारण से वह बंद है. इसको लेकर निर्माण एजेंसी से जानकारी ली जाएगी. बेमेतरा जिले के जिला शिक्षा अधिकारी इस तरह से गोलमोल जवाब देकर बचते नजर आए.

कैबिनेट मंत्री के आदेश के बाद भी निर्माण कार्य अधूरा

स्कूल भवन के निर्माण कार्य में देरी को लेकर सबसे ज्यादा नवागढ़ विधानसभा की हालत खराब है. इसको लेकर छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री दयालदास बघेल ने भी जांच के आदेश दिए हैं, लेकिन अब तक न तो निर्माण कार्य पूर्ण हुए हैं और न ही जांच पूरी हो सकी है. सिर्फ कागजों पर लीपापोती का खेल चल रहा है.

यह भी पढ़ें - IPL Betting:कोरबा पुलिस ने किया बड़े सट्टेबाजी गिरोह का पर्दाफाश,100 करोड़ से अधिक का मिला ट्रांजेक्शन

यह भी पढ़ें - कंप्यूटर ऑपरेटर का रसूख ऐसा कि कलेक्ट्रेट में लगवा दी आग, जानें शिवपुरी में हुए बड़े घोटाले के मास्टरमाइंड की कहानी

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
NEET के बाद अब NET Exam पर उठे सवाल, एडमिट कार्ड न मिलने से परीक्षार्थी परेशान, NTA नहीं कर रहा समाधान
दो साल में करोड़ों खर्च करने के बाद भी अब तक नहीं हुई स्कूलों की मरम्मत, अधिकारी दे रहे गोलमोल जवाब
Sukma CRPF Arogyadham Hospital Naxalite Commander Hidma Puwrti Village 
Next Article
नक्सली कमांडर हिड़मा के गांव  में CRPF का ‘आरोग्यधाम’, 16 प्रकार की बीमारियों का होगा फ्री में इलाज 
Close
;