विज्ञापन
Story ProgressBack

Naxalite In Chhattisgarh : "पूना नर्कोम" अभियान से प्रभावित होकर दो नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, एक पर था दो लाख का इनाम...

आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में से एक तो दो लाख का इनामी है. ये कई गतिविधियों में शामिल रह चुका है. वहीं दूसरा नक्सली साल 2016 से अब तक पालाचलमा आरपीसी अंतर्गत जनताना सरकार उपाध्यक्ष के पद पर काम कर रहा था.

Read Time: 3 min
Naxalite In Chhattisgarh :
आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में से एक तो दो लाख का इनामी है

Naxalite in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ शासन (Chhattisgarh Government) की नक्सलवाद उन्मूलन नीति और सुकमा पुलिस द्वारा चलाए जा रहे "पूना नर्कोम" अभियान से प्रभावित होकर दो लाख के इनामी समेत दो नक्सलियों ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. दोनों नक्सली किस्टाराम इलाके में सक्रिय रूप से काम रहे थे. ये जिले में घटित कई बड़ी नक्सली घटनाओं में शामिल थे.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सलियों के अमानवीय, आधारहीन विचारधारा और उनके शोषण, अत्याचार से तंग आकर गुरुवार को नक्सली संगठन में सक्रिय दो लाख का इनामी प्लाटून नंबर 4 सेक्शन कमांडर दिनेश ऊर्फ जोगा करको और आरपीसी जनताना सरकार उपाध्यक्ष माड़वी हुंगा ने नक्सल ऑपरेशन कार्यालय सुकमा में सरेंडर कर दिया. सरेंडर करने वाले नक्सलियों को शासन की ‘‘छत्तीसगढ़ नक्सलवाद उन्मूलन नीति'' के तहत सहायता रााशि व अन्य सुविधाए दी जाएंगी.

नक्सलियों का विवरण...

आत्मसमर्पित नकली दिनेश उर्फ जोगा करको का नक्सली संगठन में वर्ष 2006 - 2008 तक किस्टाराम आरपीसी अन्तर्गत सीएनएम सदस्य के रूप में शामिल हुआ था. ये साल 2009 - 2011 तक किस्टाराम एलओएस सदस्य बन गया. इसके बाद साल 2012 - 2015 तक रिजनल कंपनी नंबर 2 पार्टी सदस्य रहा. साल 2016 - 2018 तक प्लाटुन नंबर 4 सेक्शन कमांडर के पद पर काम कर रहा था.

साल 2016 में गांव एलाड़मड़गू से चिंतागुफा पहुंचमार्ग पर मार्ग निर्माण कार्य की सुरक्षा में लगे पुलिस बल पर फायरिंग करके एक जेसीबी, तीन टिप्पर और एक ट्रैक्टर जलाने की घटना में शामिल रहा. इस घटना में 4 नग टिफिन बम पुलिस के द्वारा सुरक्षित निकाले गए थे साथ ही पुलिस के 3 जवान शहीद हुए थे और एक नक्सली मारा गया था. वहीं साल 2017 में ग्राम ऐटेगट्टा के जंगल में एम्बुश लगाकर पुलिस पार्टी पर हमला करने की घटना में शामिल था.

ये भी पढ़ें चुनावी बॉन्ड योजना पर रोक: पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा- पार्टियों को होती है फंड की जरूरत

माड़वी हुंगा की नक्सली गतिविधियां

माड़वी हूंगा साल 2010 - 2013 तक गांव मेट्टागुड़ा बाल संघम सदस्य रहा. साल 2013 - 2015 तक पालाचलमा आरपीसी अंतर्गत सीएनएम अध्यक्ष बन गया. साल 2016 से अब तक पालाचलमा आरपीसी अंतर्गत जनताना सरकार उपाध्यक्ष के पद पर काम कर रहा था. माड़वी हूंगा साल  2019 में ग्राम मेट्टागुड़ा के पश्चिम दिशा में कोयामेट्टा नामक पहाड़ी के नीचे लगभग 50-60 अलग-अलग स्थानों पर पुलिस को जान से मारने की नीयत से लकड़ी के नुकीले स्पाईक बनाकर लगाने की घटना में शामिल रहा था. साल 2015 में नक्सली बंद के दौरान गोलापल्ली से मेहता की ओर जाने वाली मुख्यमार्ग पर लगभग 50-60 अलग-अलग स्थानों पर रोड खोदकर मार्ग अवरोध करने मे शामिल था.

ये भी पढ़ें इंसानियत शर्मसार! 6 साल की दिव्यांग बच्ची के साथ खेत में दुष्कर्म, मासूम ने इशारों में बताई आपबीती 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close