विज्ञापन
Story ProgressBack

Bastar: वोटिंग से पहले पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 5 महिला, 3 नाबालिग समेत इतने नक्सलियों ने किया सरेंडर

Naxalites Surrender in Bastar: लोकसभा चुनाव की वोटिंग से पहले पुलिस को छत्तीसगढ़ में बड़ी कामयाबी मिली है. यहां नक्सल प्रभावित बस्तर इलाके के 26 नक्सलियों ने सरेंडर कर दिया है.

Read Time: 3 mins
Bastar: वोटिंग से पहले पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 5 महिला, 3 नाबालिग समेत इतने नक्सलियों ने किया सरेंडर
प्रतीकात्मक फोटो

Lok Sabha Election First Phase Voting: लोकसभा चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित इलाकों (Naxalite Area of Chhattisgarh) में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले (Dantewada) में सोमवार को पांच महिलाओं और तीन किशोरों सहित कुल 26 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी. दंतेवाड़ा, बस्तर लोकसभा सीट (Bastar Lok Sabha Seat) का हिस्सा है, जहां 19 अप्रैल को मतदान होगा. ये सभी नक्सलियों ने पुलिस (Chhattisgarh Police) के पुनर्वास अभियान 'लोन वर्राटू' से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण किया है. वोटिंग से महज कुछ दिनों पहले हुए इस आत्मसमर्पण (Naxalites Surrendered) को पुलिस की बड़ी कामयाबी मानी जा रही है.

1 लाख के इनामी नक्सली ने भी किया सरेंडर

दंतेवाड़ा जिले के पुलिस अधीक्षक गौरव राय ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में जोगा मुचाकी प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) की 'कोराजगुड़ा पंचायत जनताना सरकार' का प्रमुख था और उसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम है. राय ने कहा, ' जिन नक्सलियों ने पुलिस और सीआरपीएफ (CRPF) अधिकारियों के सामने हथियार डाला, वे दक्षिण बस्तर में माओवादियों की किस्टाराम, भैरमगढ़, मलांगीर और कटेकल्याण क्षेत्र समितियों का हिस्सा थे.' उन्होंने बताया कि नक्सली पुलिस के पुनर्वास अभियान 'लोन वर्राटू' से प्रभावित हैं तथा माओवादियों की खोखली विचारधारा से निराश हैं.'

सरेंडर करने वालों में 3 नाबालिग शामिल

पुलिस अधीक्षक ने बताया, 'इन माओवादियों को सड़क खोदने, सड़कों को अवरुद्ध करने के लिए पेड़ गिराने और नक्सलियों द्वारा बुलाए गए बंद के दौरान पोस्टर और बैनर लगाने का काम सौंपा गया था. उन्हें सरकार की आत्मसमर्पण और पुनर्वास नीति के अनुसार सुविधाएं प्रदान की जाएंगी.' पुलिस के अनुसार आत्मसमर्पण करने वाले 26 नक्सलियों में पांच महिलाएं और दो लड़कियां और एक लड़का शामिल हैं, तीनों की उम्र 17 साल है. 

अधिकारियों ने बताया कि इसके साथ ही, जून 2020 में शुरू किए गए पुलिस के 'लोन वर्राटू' (अपने घर/गांव वापस लौटो) अभियान के तहत अब तक जिले में 717 नक्सली मुख्यधारा में शामिल हो चुके हैं, जिनमें से 176 के सिर पर नकद इनाम है.

यह भी पढ़ें - 'कौन बनेगा करोड़पति' की तर्ज पर 'कौन बनेगा मतदाता' शो हुआ आयोजित, मतदान जागरुकता के लिए कलेक्टर का नवाचार

यह भी पढ़ें - दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया आज दाखिल करेंगे नामांकन, छिंदवाड़ा में अमित शाह का मेगा रोड शो

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Naxal Attack: जवानों के मूवमेंट के बीच नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, दो जवान शहीद
Bastar: वोटिंग से पहले पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 5 महिला, 3 नाबालिग समेत इतने नक्सलियों ने किया सरेंडर
Tragic Accident Involving Vaishno Devi Pilgrims 3 Dead 48 Injured from Durg
Next Article
वैष्णो देवी से लौट रही बस हुई हादसे का शिकार, दुर्ग के 48 लोग घायल... 3 की मौत
Close
;