विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 21, 2023

छत्तीसगढ़ के किसान फिर से दिलाएंगे कांग्रेस को जीत... शराबबंदी पर सुनें भूपेश बघेल का जवाब

चुनाव के लिए टिकट से इनकार किए जाने के बाद कुछ मौजूदा कांग्रेस विधायकों में असंतोष के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'करीब 83 टिकट हम लोग बांट चुके हैं. लेकिन दो चार जगह नाराजगी तो रहती है. जिसका टिकट कटेगा उसकी नाराजगी तो स्वाभाविक है.'

Read Time: 5 mins
छत्तीसगढ़ के किसान फिर से दिलाएंगे कांग्रेस को जीत... शराबबंदी पर सुनें भूपेश बघेल का जवाब
भूपेश बघेल ने कहा कि टिकट कटने पर कार्यकर्ताओं की नाराजगी स्वाभाविक है

Bhupesh Baghel News: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में किसानों के मतों को निर्णायक बताया है और कहा है कि उनके समर्थन से कांग्रेस को 75 से अधिक सीटें हासिल करने में मदद मिलेगी. 'पीटीआई-भाषा' को दिए एक इंटरव्यू में बघेल ने यह भी कहा कि उनकी सरकार ने राज्य में शराबबंदी लागू करने की कोशिश की, जो पिछले विधानसभा चुनाव में पार्टी द्वारा किए गए प्रमुख वादों में से एक था, लेकिन वह इसे लागू नहीं कर पाए क्योंकि कई लोगों ने नकली शराब पीना शुरू कर दिया था तथा उनमें से कई की मृत्यु हो गई. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की 90 सदस्यीय विधानसभा के लिए सात और 17 नवंबर को दो चरणों में चुनाव होंगे.

बघेल से जब पूछा गया कि ऐसे कौन से मुद्दे हैं जिनसे कांग्रेस को 75 से अधिक सीटें मिल सकती हैं, तब उन्होंने कहा 'सबसे बड़ा मुद्दा किसान है और फिर महिलाएं, युवा और व्यवसायी हैं. हमने विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों और युवाओं की जेब में पैसा डाला है. जब बाजार में पैसा पहुंचता है, तो व्यापारी भी खुश हो जाते हैं.' मुख्यमंत्री ने कहा, 'हमने पिछले पांच वर्षों में किसानों और तेंदूपत्ता संग्राहकों (तेंदूपत्तों का उपयोग बीड़ी बनाने के लिए किया जाता है) से किया गया वादा पूरा किया है. इसी तरह, शिक्षा, स्वास्थ्य, संस्कृति और बुनियादी ढांचे के क्षेत्रों में काम किया गया है. इन सभी कार्यों से लोगों के जीवन में विशेष रूप से आर्थिक रूप से बदलाव आया है.'

यह भी पढ़ें : BJP की डबल इंजन सरकार में बढ़ा नक्सलवाद, हमने इसे कम करने के लिए किए कई प्रयास : भूपेश बघेल

'कांग्रेस की योजनाओं से बदला लोगों का जीवन'

बघेल ने कहा कि कांग्रेस सरकार में किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ और महिला स्वयं सहायता समूहों को रोजगार मिला. उन्होंने कहा, 'राजीव गांधी किसान न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना और गोधन न्याय योजना सहित राज्य सरकार की कई योजनाओं ने लोगों के जीवन को बदल दिया है.' बघेल ने कहा, 'आदिवासियों के 'जल, जंगल, जमीन' के अधिकारों की रक्षा के प्रयास किए गए. कभी नक्सलवाद से जल रहे बस्तर में शांति लौट रही है. ये सभी मुद्दे हमें (चुनाव में) मदद करेंगे.'

'किसानों से खरीदा प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान'

उन्होंने कहा, 'हमने किसानों से प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान खरीदने का फैसला किया है और प्रधानमंत्री आवास योजना में केंद्र के सहयोग नहीं करने के बाद अपनी आवास योजना शुरू की है. प्रियंका गांधी ने राज्य में जातिगत जनगणना कराने की घोषणा की है. हमने अब तक ये तीन प्रमुख घोषणाएं की हैं, लेकिन भाजपा इस पर चुप है कि वह क्या करेगी और वह सिर्फ आरोप लगा रही है.'

'पीएम से करूंगा देशव्यापी प्रतिबंध की मांग'

बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की तीन प्रमुख किसानोन्मुख योजनाओं ने कांग्रेस को पिछले पांच वर्षों में राज्य के ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में अपनी स्थिति मजबूत करने में मदद की है. यह पूछे जाने पर कि क्या शराबबंदी के वादे को पूरा करने में कांग्रेस की विफलता से उसके महिला वोट बैंक पर असर पड़ेगा, बघेल ने कहा, 'हमने शराबबंदी लागू करने की कोशिश की और कोविड-19 महामारी के दौरान यह किया जा सकता था, लेकिन तब जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हो गई. हम लोगों को यह समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि नशा एक सामाजिक बुराई है और इसे हमें मिलकर खत्म करना होगा. भाजपा ने अपने 15 साल के शासनकाल में कुछ नहीं किया. उसने इसे लागू क्यों नहीं किया. मैं पीएम मोदी से पूरे देश में शराब पर प्रतिबंध लगाने की मांग करूंगा.'

यह भी पढ़ें : CG Election 2023 : CM बघेल बोले- ''मौका मिला तो केंद्र सरकार कर सकती है मुझे गिरफ्तार''

'टिकट कटने पर नाराजगी स्वाभाविक'

संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण के लंबित वादे पर उन्होंने कहा, 'हमने संविदा कर्मियों के मानदेय में काफी वृद्धि की है. 27 फीसदी से 40 फीसदी तक की वृद्धि हम लोगों ने की है. इससे लोगों को लाभ हुआ है. वे काफी हद तक संतुष्ट भी हैं.' चुनाव के लिए टिकट से इनकार किए जाने के बाद कुछ मौजूदा कांग्रेस विधायकों में असंतोष के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'करीब 83 टिकट हम लोग बांट चुके हैं. लेकिन दो चार जगह नाराजगी तो रहती है. जिसका टिकट कटेगा उसकी नाराजगी तो स्वाभाविक है. वे हमारे परिवार के सदस्य हैं. उन लोगों से बात करेंगे. लगातार बातचीत हो भी रही है. बहुत सारे लोग हैं जो मान भी गए हैं. और लोग भी नाराज हैं, उनसे भी बात की जाएगी.'

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कोरिया में RTE आवेदन में सामने आ रही गड़बड़ी, 2700 बच्चों ने दिया आवेदन
छत्तीसगढ़ के किसान फिर से दिलाएंगे कांग्रेस को जीत... शराबबंदी पर सुनें भूपेश बघेल का जवाब
If British Built Dams Were Maintained There Wouldnt Be Such a Water Crisis
Next Article
अंग्रेजों के बनाए डैम को संभाल लेते तो.... पानी की नहीं होती इतनी किल्लत
Close
;