विज्ञापन
Story ProgressBack

45 लाख रुपये खर्च करने के बाद भी पार्क खस्ताहाल ! कहीं झूले खराब तो कहीं फव्वारे पड़े हैं बंद

Tourism Places in Chhattisgarh : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के एमसीबी (MCB) ज़िले में लाखों की लागत से बना नीलम सरोवर पार्क बदहाल स्थिति में पड़ा हुआ है. इस पार्क के म्यूजिकल फाउंटेन पूरा सूखा पड़ा हुआ है. इन पार्कों में साफ़-सफाई का भी अभाव है. लेकिन इसे सही कराने को कराने के लिए नगर निगम के अधिकारी भी दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं.

Read Time: 3 mins
45 लाख रुपये खर्च करने के बाद भी पार्क खस्ताहाल ! कहीं झूले खराब तो कहीं फव्वारे पड़े हैं बंद
45 लाख रुपये खर्च करने के बाद भी पार्क खस्ताहाल ! कहीं झूले खराब तो कहीं फव्वारे पड़े हैं बंद

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के एमसीबी (MCB) ज़िले में 6 साल पहले एक म्यूजिकल फाउंटेन लगाया गया था. नगर पालिका निगम चिरमिरी (Chirmiri) के नीलम सरोवर पार्क (Neelam Sarovar Park) में इस फाउंटेन (Musical Fountain) को लगवाने में करीब 45 लाख रुपए का खर्चा आया था. अब लाखों की लागत से नीलम सरोवर पार्क में मनोरंजन (Entertainment) और पर्यटकों (Tourists) को आकर्षित करने के लिए म्यूजिकल फाउंटेन बदहाल स्थिति में पड़ा हुआ है. यही नहीं, फाउंटेन के साथ पार्क के तमाम टॉय भी खराब हो गए हैं. इसके अलावा चिरमिरी के गोदरीपारा बीटाईप (Godripara Betatype) में बने एक और पार्क की भी यही हालत है. 

6 सालों से बंद पड़ा म्यूजिकल फव्वारा 

दरअसल, ये फाउंटेन बनने के बाद कुछ महीने तक ही चालू रहा. बंद म्यूजिकल फाउंटेन को शुरू कराने के लिए नगर निगम के अधिकारी भी दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं. जबकि इसमें थोड़ी बहुत मरम्मत कर फाउंटेन को शुरू किया जा सकता है. नीलम सरोवर पार्क में टॉय ट्रेन भी कई सालों से बंद है. नगर निगम को इसकी भी परवाह नहीं है. निगम अफसरों ने कहा है कि जल्द ही पार्क को ठीक कराएंगे. लेकिन इसे कब तक सही किया जाएगा इस बारे में कोई जवाब सामने नहीं आया है. 

नगर निगम को नहीं कोई सरोकार 

इसी तरह चिरमिरी के गोदरीपारा बीटाईप में बना निगम का पार्क व आजाद नगर पार्क की तरफ भी नगर निगम ध्यान नहीं दे रहा है. पार्क बेहद ही बदहाल स्थिति में पड़े हैं. कई सालों से निगम ने पार्क की मरम्मत और नए झूले लगाने की तरफ पहल नहीं की है. SECL कॉलोनियों में बने पार्क स्थल भी वीरान पड़े हैं. ऐसे में इन पार्कों में साफ़-सफाई का भी अभाव है. आसपास के लोगों का कहना है कि पार्कों के खाली होने की वजह से कोई भी यहां पर घूमने नहीं आता है. 

ये भी पढ़ें : 

हर वोट है जरूरी : बुजुर्ग मतदाताओं के घर पहुंच रहा चुनाव आयोग, पन्ना में 107 साल की महिला ने किया मतदान

MP की इस सीट पर अन्नदाता नहीं बनेंगे पार्टियों के 'भाग्यविधाता', चुनावी माहौल में क्यों लिया बहिष्कार का फैसला?

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
UGC-NET Exam 2024: यूजीसी नेट 2024 की परीक्षा रद्द,18 जून को हुई थी परीक्षा, जाने क्या है पूरा मामला?
45 लाख रुपये खर्च करने के बाद भी पार्क खस्ताहाल ! कहीं झूले खराब तो कहीं फव्वारे पड़े हैं बंद
Now board exams will be held twice a year in Chhattisgarh, government has issued notification
Next Article
Trending News: छत्तीसगढ़ में अब साल में दो बार बोर्ड परीक्षा दे सकेंगे 10वीं और 12वीं के छात्र, सरकार ने जारी की अधिसूचना
Close
;