विज्ञापन
Story ProgressBack

धमतरी में ACB ने की कार्रवाई: नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

ACB Big Action Against Corruption: एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने धमतरी के नायब तहसीलदार को 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है. तहसीलदार एक ग्रामीण से जमीन कब्जा मामले में 50 हजार रुपये की रिश्वत मांग की थी.

धमतरी में ACB ने की कार्रवाई: नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल  को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

ACB Big action in Dhamtari: धमतरी में एंटी करप्शन ब्यूरो (Anti Corruption Bureau) की टीम ने नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल को 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है. नायब तहसीलदार एक ग्रामीण से जमीन कब्जा मामले में 50 हजार की रिश्वत मांग की थी. पीड़ित की शिकायत पर एसीबी ने तहसील कार्यालय में कार्रवाई कर नायब तहसीलदार को पकड़ा है. 

नायब तहसीलदार को पैसे लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा

पोटियाडीह गांव में दिलीप गोस्वामी का 85 डिसमिल जमीन पर लंबे समय से कब्जा था. उसी कब्जे वाली जमीन को आशीष गोयल नाम के व्यक्ति ने खरीदा. इसी जमीन को लेकर दोनों पक्षों में काफी दिनों से विवाद चल रहा था. आशीष गोयल ने जमीन विवाद सुलझाने धमतरी तहसील कार्यालय में आवेदन दे रखा था. जिसे लेकर नायब तहसीलदार ने पैसे की मांग की थी.

पहले 1 लाख रुपये की मांग की

शिकायतकर्ता दिलीप पुरी गोस्वामी ने बताया कि आशीष गोयल के नाम पर ग्राम पोटियाडीह में 85 डिसमिल जमीन है. जिसे कब्जा कर दिलीप पुरी गोस्वामी ने कई वर्षों से उस जमीन पर फसल उगा रहा है. सीमांकन के बाद नायब तहसीलदार के पास यह मामला गया. जमीन को दिलीप पुरी गोस्वामी के नाम पर करने के लिए अधिकारियों ने पहले एक लाख रुपये की मांग की थी, लेकिन दिलीप पुरी गोस्वामी ने नायब तहसीलदार को 1 लाख रुपये देने से मना कर दिया. इसके बाद अधिकारी ने 50 हजार रुपये की मांग की और फिर 5 जुलाई की शाम अपने कार्यालय में पैसे लेकर बुलाया.

रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

पैसे को हाथों में ना लेकर अधिकारी ने पैसे को कार्यालय के लॉकर में रखवा दिया. वहीं शिकायतकर्ता दिलीप गिरी गोस्वामी ने बताया कि 14 जून को इस मामले की शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो में की थी. उसके बाद 27 जून को 50 हजार रुपये देने की बात तय हुई. वहीं नायब तहसीलदार को 5 जुलाई को पैसा देने के लिए तहसील कार्यालय आया. इस बीच एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने दबिश दी और अधिकारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया.

85 डिसमिल का जमीन कब्जा हटाने के लिए रिश्वत की डिमांड

एंटी करप्शन ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सी डी तिर्की ने कहा कि दिलीप पुरी गोस्वामी के शिकायत पर नायब तहसीलदार को रिश्वत लेते हुए उनकी टीम ने पकड़ा है. आशीष गोयल के नाम पर 85 डिसमिल का जमीन कब्जा किया हुआ है और इसे  दिलीप पुरी गोस्वामी के नाम पर करने के लिए 50 हजार रुपये की राशि की मांग की गई थी. वहीं कई घंटों तक पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जा रही है.

ये भी पढ़े: एक पेड़ मां के नाम... भोपाल में आज लगाए जाएंगे 12 लाख पौधे, CM जंबूरी मैदान में करेंगे पौधारोपण

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Chhattisgarh: सरकार ने की बड़ी कार्रवाई, इस विभाग के 6 ईई निलंबित और 4 को थमाया नोटिस
धमतरी में ACB ने की कार्रवाई: नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल  को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा
Jagannath Rath Yatra 2024 Lord Jagannath will be seated in a tent in Kanker, this will happen for the first time in 92 years
Next Article
Jagannath Rath Yatra: कांकेर में भगवान जगन्नाथ टेंट में होंगे विराजमान, 92 साल में ऐसा होगा पहली बार
Close
;