विज्ञापन
Story ProgressBack

MP Election 2023 : सीधी को बड़ी जिम्मेदारी मिलने की आस, 2003 से अब तक नहीं बना कोई मंत्री

Madhya Pradesh Results 2023 : सीधी जिले के चार विधानसभा क्षेत्र में से इस बार तीन सीट पर कमल खिला है, जिसमें दो नेताओं की मजबूत दावेदारी मानी जा रही है. पहला नाम रीति पाठक का है जो एक बार जिला पंचायत अध्यक्ष, दो बार सांसद निर्वाचित होने के बाद अब सीधी विधानसभा क्षेत्र से विधायक निर्वाचित हुई हैं. इसके अलावा धौहनी विधानसभा क्षेत्र से लगातार जीत का चौका लगाने वाले कुवंर सिंह टेकाम आदिवासी नेता हैं, जिन्हें सीनियरिटी का लाभ मिल सकता है.

Read Time: 5 min
MP Election 2023 : सीधी को बड़ी जिम्मेदारी मिलने की आस, 2003 से अब तक नहीं बना कोई मंत्री
सीधी:

Madhya Pradesh Assembly Election Result 2023 : सीधी जिला वर्ष 2003 से अब तक उपेक्षा का दंश झेल रहा है. भारतीय जनता पार्टी सरकार (BJP Government) के 20 वर्षों के कार्यकाल में अब तक जिले को मंत्री पद नसीब नहीं हो सका है. उपेक्षाओं का दंश झेल रहे सीधी (Sidhi District) को इस बार काफी उम्मीद है कि जिला एवं क्षेत्र के विकास के लिए मंत्री पद मिलेगा. सीधी संसदीय क्षेत्र में सीधी, सिंगरौली जिले के तहत कुल 7 विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं. वर्ष 2008 में सीधी को विभाजित कर सिंगरौली को नया जिला बना दिया गया है.

दो चर्चित नेताओं की मजबूत दावेदारी

सीधी जिले के चार विधानसभा क्षेत्र में से इस बार तीन सीट पर कमल खिला है. जिसमें दो नेताओं की मजबूत दावेदारी मानी जा रही है. पहला नाम रीति पाठक (Riti Pathak) का है जो एक बार जिला पंचायत अध्यक्ष, दो बार सांसद निर्वाचित होने के बाद अब सीधी विधानसभा क्षेत्र से विधायक निर्वाचित हुई हैं. उनकी दावेदारी सबसे मजबूत मानी जा रही हैं. उपमुख्यमंत्री या मंत्री पद के लिए सीधी की जनता आस लगाए हुए हैं. लाड़ली बहना के साथ-साथ महिला कोटा से मध्य प्रदेश सरकार की कैबिनेट में जगह मिलने की बड़ी उम्मीदें हैं.

इसके अलावा धौहनी विधानसभा क्षेत्र से लगातार जीत का चौका लगाने वाले कुवंर सिंह टेकाम आदिवासी नेता हैं, जिन्हे सीनियरिटी का लाभ मिल सकता है. कुंवर सिंह को मंत्री पद से नवाज कर भाजपा सीधी सिंगरौली सहित आसपास के अन्य आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रो को साध सकती है. सीडब्ल्यूसी मेंबर एवं पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल को शिकस्त देने वाले विश्वामित्र पाठक भी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं.

PM मोदी और अमित शाह से संपर्क का मिल सकता है लाभ

सीधी विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित होकर विधानसभा पहुंची रीति पाठक का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) एवं गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) व राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से सीधा संपर्क है. 10 वर्ष तक बतौर सांसद रीति पाठक लोकसभा सदन में भी जनहित के मुद्दों को रखती आई हैं. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह व भाजपा संगठन के निर्णय से उन्हें कोई न कोई बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है, ऐसी उम्मीदें जिले वासियों को है. विधानसभा चुनाव जीतने के बाद रीति पाठक सीधे दिल्ली पहुंची हैं और भाजपा के बड़े नेताओं से मुलाकात कर रही हैं. इधर विधायक दल के नेता चुने जाने के लिए केंद्रीय पर्यवेक्षकों की नियुक्ति भी हो गई है और जल्द ही मुख्यमंत्री, सहित मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों के चेहरे साफ हो जाएंगे.

कांग्रेस के शासनकाल में होते थे दो-दो मंत्री

कांग्रेस की सरकार में सीधी जिले से दो-दो मंत्री हुआ करते थे पहला नाम इंद्रजीत कुमार पटेल का एवं दूसरा नाम पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल का था. वर्ष 2003 के पहले तक सीधी को सरकार में बराबर महत्व मिला, लेकिन जैसे ही वर्ष 2003 में मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी, तब से लेकर आज तक सीधी जिला मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट में मंत्री जैसे पद के लिए लालायित हैं. हर बार के विधानसभा चुनाव में सीधी को बड़ी आस रही है. सीधी विधानसभा क्षेत्र से लगातार तीन बार जीत दर्ज करने वाले केदारनाथ शुक्ला भी सुर्खियों में रहे, कभी विधानसभा अध्यक्ष की बात तो कभी भैया जाएंगे मंत्री बनकर आएंगे के नारे लगते रहे लेकिन सीधी के हित में ऐसा कुछ भी अभी तक नहीं हो पाया. अब इस विधानसभा चुनाव में रीति पाठक, कुवंर सिंह टेकाम एवं विश्वामित्र पाठक विधानसभा में पहुंचे हैं.

अधूरे विकास से हो रही किरकिरी

सीधी एवं सिंगरौली जिला प्राकृतिक संपदा से भरपूर है, किंतु विकास के नाम पर कुछ भी देखने को नहीं मिल रहा है.सीधी सिंगरौली सड़क, रेल परियोजना ,उद्योग धंधों की स्थापना सहित तमाम ऐसे मुद्दे हैं, जिन पर बहुत काम करना बाकी है मंत्री पद मिलने के बाद अधूरे विकास कार्यों को गति मिलेगी और प्रदेश सरकार सहित भाजपा की होने वाली किरकिरी भी दूर होगी, ऐसा जिले वासियों का कहना है. इसके अलावा सीधी विकास के क्षेत्र में कोसों दूर है सीधी जिले की चार विधानसभा क्षेत्र सहित आसपास के विधानसभा क्षेत्र में भी तेजी से विकास होगा और यह क्षेत्र अन्य विकसित क्षेत्र के बराबरी में जाना जाने लगेगा.

यह भी पढ़ें : CG News : छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी ने कहा वोट % में कमी न आना बड़ी उपलब्धि, 'हम निराश हुए हताश नहीं'

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close