विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Sep 05, 2023

पवित्र नगरी मैहर बना प्रदेश का 55 वां जिला, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐलान

आखिरकार पवित्र नगरी मैहर जिला बन ही गया. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बहुप्रतीक्षित मांग को पूरा करने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि राज्य का ये 55 वां जिला होगा और इसके विकास में कोई कमी नहीं रखी जाएगी.

Read Time: 4 mins
पवित्र नगरी मैहर बना प्रदेश का 55 वां जिला, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐलान

लंबे समय से सतना के मैहर इलाके को जिला घोषित करने की मांग की जा रही थी...जिसे अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूरा कर दिया है. दरअसल चित्रकूट से चलकर जन आर्शीवाद यात्रा पवित्र नगरी मैहर पहुंची थी. जहां से यात्रा की शुरुआत होने पर CM ने इस बाबत ऐलान किया. दरअसल मैहर के विधायक नारायण त्रिपाठी लंबे समय से इलाके को  जिला बनाने की मांग कर रहे थे. शुरू में तो इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया लेकिन वक्त बीतने के साथ ये मांग जोड़ पकड़ने लगी. इलाके के तमाम जनप्रतिनिधियों ने इस संबंध में सरकार से पत्र व्यवहार किया था. जिसे ऐन चुनाव के पहले मुख्यमंत्री ने पूरा कर दिया है. इससे पहले सीएम शिवराज ने छिंदवाड़ा में पदुर्णा, शिवपुरी में पिछोर और उज्जैन में नागदा को जिला बनाने की घोषणा की थी. मैहर को जिला बनाने का ऐलान करते हुए शिवराज सिंह ने ट्वीट कर लिखा. 

शारदा की पवित्र नगरी मैहर को जिला बनायेंगे और इसकी प्रक्रिया हम आज से ही प्रारंभ कर रहे हैं.मैहर के विकास में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. मैया के आशीर्वाद से विकास और जनकल्याण के सभी संकल्प पूर्ण होंगे.

शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश

 बता दें कि  मैहर को जिला बनाने की मंजूरी कमलनाथ ने मुख्यमंत्री रहते हुए की थी पर गजट नोटिफिकेशन जारी करने से पहले ही सरकार गिर गई और मैहर जिला बनते -बनते रह गया था. हालांकि अब मौजूदा मुख्यमंत्री के ऐलान के बाद नोटिफिकेशन जारी होने की संभावना बढ़ गई है. मैहर जिले में अमरपाटन ,रामनगर और उचेहरा तहसील के कुछ गांव को शामिल किया जा सकता है. 

MLA नारायण की एक मांग हुई पूरी

भारतीय जनता पार्टी से मैहर विधानसभा का चुनाव जीतने वाले नारायण त्रिपाठी अलग जिले की मांग तथा विंध्य प्रदेश को लेकर लगातार अभियान चला रहे थे. फिलहाल सरकार ने उनकी पहली मांग मैहर को जिला बनाकर पूरी कर दी है. ऐसी स्थिति में अब देखना होगा कि क्या नारायण त्रिपाठी की नाराजगी कम होती है या फिर वे विंध्य प्रदेश बनाए जाने तक अपनी आवाज उठाते रहेंगे.वैसे कहा जाता है कि भाजपा के सर्वे में मैहर से टिकट के लिए कोई अन्य दावेदार मजबूत दिखाई नहीं दिया लिहाजा नारायण की नाराजगी दूर करने यह औपचारिक घोषणा की गई है.

55 वां जिला बना

मध्य प्रदेश में 2023 तक कुल 52 जिले थे लेकिन पिछले कुछ महीनो के अंदर तीन जिलों की बढ़ोतरी हो गई. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सबसे पहले रीवा से मऊगंज को अलग कर जिला बनाया. वहीं पांढुर्णा को भी जिला बनाने का ऐलान पिछले दिनों किया गया।अब मैहर को जिला बनाने की भी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. लिहाजा अब मध्य प्रदेश में कल 55 जिले हो जाएंगे. हालांकि चर्चा यह भी है कि अभी कुछ और घोषणाएं संभव है ऐसे में जिलों की संख्या बढ़ सकती है.

ये भी पढ़ें: रीवा: 'भूत प्रेत' का झांसा देकर चोर बना रहे महिलाओं को ठगी का शिकार, जांच में जुटी पुलिस

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Amarwara Bypolls: अमरवाड़ा उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने धीरन शाह इनवाती को बनाया उम्मीदवार, कल कर सकते हैं नामांकन
पवित्र नगरी मैहर बना प्रदेश का 55 वां जिला, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐलान
New package of Ayushman Bharat Health Insurance Scheme: Now Ayushman beneficiaries will get new state-of-the-art medical services in Madhya Pradesh
Next Article
Ayushman Bharat Yojana: नए पैकेज से MP में आयुष्मान हितग्राहियों को मिलेगी नई अत्याधुनिक मेडिकल सेवाएं
Close
;