विज्ञापन
Story ProgressBack

Andhvishwas: 14 भूत भगाने के 40 लाख, घर भी कराया दान..... जालसाजों ने जबलपुर के परिवार से ऐसे ठगे 1 करोड़ रुपये

MP News: जबलपुर में भूत प्रेत भगाने के नाम पर एक परिवार से एक करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी हुई है. जालसाजों ने पीड़ित परिवार से पूजा पाठ के नाम पर ठगी की.

Read Time: 5 mins
Andhvishwas: 14 भूत भगाने के 40 लाख, घर भी कराया दान..... जालसाजों ने जबलपुर के परिवार से ऐसे ठगे 1 करोड़ रुपये
प्रतीकात्मक फोटो

Superstition in Madhya Pradesh: आज के वैज्ञानिक युग में भी पढ़े-लिखे और एलीट कहे जाने वाले लोग भी जालसाजों की बातों में ठगी का शिकार हो रहे हैं. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) से एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जिसमें भूत-प्रेत बाधा और पूजा पाठ करने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी की गई. यह मामला जबलपुर के गोरा बाजार क्षेत्र का है. खास बात यह है कि शहर की सबसे एलीट कहे जाने वाली अनंतारा कॉलोनी में यह धोखाधड़ी हुई है.

अनंतारा कॉलोनी की निवासी शकुंतला बातव ने पुलिस (Jabalpur Police) को सूचना दी कि पिछले कुछ वर्षों में तीन जालसाजों ने मिलकर उनके साथ ठगी की है. जालसाजों में दो सगे भाई और एक उनका दोस्त है. ठगी की शिकार शकुंतला बातव के अनुसार, उन्हें पूजा-पाठ के नाम पर एक करोड़ से अधिक रुपये की ऐंठ लिए गए. शकुंतला देवी ने पुलिस को बताया कि अरुण दुबे और वरुण दुबे नाम के दो सगे भाई, जिनकी दोस्ती 2016 में शकुंतला के बेटे बृजेंद्र बातव से सोशल मीडिया के माध्यम से हुई. कुछ दिनों तक बातचीत और चैटिंग होने के बाद अरुण और वरुण दुबे ने बताया कि वे वेद ज्योतिष शास्त्र के प्रकांड विद्वान हैं और किसी भी परेशानी को चुटकियों में दूर कर सकते हैं. 

जालसाजों ने ये भी बताया कि जो परेशानी ज्योतिष शास्त्र से दूर नहीं होती, उनके गुरु दंडी स्वामी उसे भी तुरंत ठीक कर देते हैं. पीड़ित शकुंतला देवी और उनका बेटा विजेंद्र, दोनों जालसाज भाइयों की बातों में आ गए और उन्हें यह लगने लगा कि उनके घर में प्रेत का साया है. घबराकर उन्होंने दोनों भाइयों और उसके एक मित्र से पूजा पाठ कराई.

जालसाजों ने अपने गुरु के नाम पर कराई पूजा

पूजा पाठ के बाद जालसाज अरुण दुबे और वरुण दुबे ने शकुंतला देवी को बताया कि उन्हें एक चिट्ठी दंडी स्वामी को लिखनी होगी, जिससे उनकी सभी समस्याओं का निदान हो जाएगा. पीड़ित परिवार ने दंडी स्वामी के नाम एक पत्र लिखा और अपनी समस्याओं का बखान किया. कुछ दिनों के बाद दोनों भाई दंडी स्वामी का पत्र लेकर पहुंचे, जो शकुंतला देवी के पत्र के उत्तर में लिखा गया था. इस पत्र में ये बताया गया कि उनके पास जो जमीन है उसमें 14 भूत प्रेत रहते हैं. इसी कारण उनके जीवन में समस्याएं हैं.

शकुंतला बातव ने जालसाजों की बात का भरोसा कर लिया और एक के बाद एक भूत प्रेत भगाने का सिलसिला चालू हुआ. आरोपियों ने 14 भूत भगाने के नाम पर पीड़ित परिवार से लगभग 40 लाख रुपये वसूल किए. इस ठगी में दोनों सगे भाइयों अरुण दुबे और वरुण दुबे के साथ ही शांति नगर के अंबेडकर चौक में रहने वाला सचिन उपाध्याय भी आरोपी है. ये तीनों मिलकर पीड़ित परिवार के साथ ठगी करते रहे.

पीड़ित परिवार का दूसरा घर भी हड़पा

थोड़े दिनों बाद तीनों आरोपी दंडी स्वामी का दूसरा पत्र लेकर पीड़ित परिवार के पास पहुंचे. जिसमें उन्होंने बताया कि शकुंतला देवी के पास जो एक और घर है, उसमें भी सैकड़ों प्रेत रहते हैं. जालसाजों ने ये भी बताया कि ये प्रेत शकुंतला बातव के परिवार के लिए वहां निवास कर रहे हैं, यदि उस घर को दान कर दिया जाए तो परिवार के सभी कार्य सफल होने लगेंगे. जालसाज भाइयों ने यह भी कहा कि प्रेत बाधा खत्म हो जाने पर यह घर वापस उनके नाम कर दिया जाएगा. पीड़ित परिवार ने जालसाजों के बहकावे में आकर अपना घर दान कर दिया. और भवन दान होते ही दुबे बंधु उसमें रहने लगे.

जमीन के नीचे सैकड़ों टन सोना होने का दिया लालच

इसके अलावा शकुंतला बातव के परिवार को जालसाज दुबे बंधु ने गड़ा धन मिलने का लालच भी दिया. जिसमें परिवार बुरी तरह फंस गया. अंधविश्वास में फंस चुके इस परिवार को यह लालच दिया गया कि शकुंतला देवी की जो जमीन है उसके नीचे सैकड़ों टन सोना और चांदी है, जो दंडी स्वामी को साधना में दिख रहा है. इसे भी पूजा से हासिल किया जा सकता है. इस पूजा के लिए करीब 6 लाख रुपये खर्च किए गए. इसके अलावा सोने की अंगूठी भी दी गई, जिसमें 90 हजार रुपये का पुखराज नग लगा था. इसे पहनने के लिए भी 1 लाख 25 हजार रुपये अलग ले लिए गए.

बहू के गहने के पैसे भी ठग लिए

शकुंतला देवी के परिवार से इतने रुपयों की ठगी करने के बाद भी जालसाज दुबे बंधुओं का पेट नहीं भरा और आरोपियों ने शकुंतला देवी के परिवार को ठगना नहीं छोड़ा. इस बार आरोपियों ने बेटे और पति गुलाबचंद की मौत का भय दिखाकर उनकी बहू के जेवर बेचवा दिए और इसके पैसे भी जालसाजों ने हड़प लिए. इस तरह जालसाजों ने शकुंतला देवी के परिवार से एक करोड़ रुपये से अधिक की ठगी की. अपना सब कुछ लुटा देने के बाद बातव परिवार पुलिस की शरण में आया है.

पुलिस ने गिरफ्तारी की कही बात

वहीं इस मामले को लेकर एडिशनल एसपी सूर्यकांत शर्मा ने बताया कि अरुण, वरुण और सचिन उपाध्याय के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया गया है. बहुत जल्द उनकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी, क्योंकि ये जबलपुर के ही रहने वाले हैं और उनकी जानकारी भी है. पुलिस जल्द ही इन्हें गिरफ्तार कर चालान पेश करेगी.

यह भी पढ़ें - पहली ही बारिश में फूटा परकोलेशन टैंक, हाथ लगाने से उखड़ा कंक्रीट, जल संरक्षण के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार

यह भी पढ़ें - Yug Purush Ashram: फिर विवादों में इंदौर का युग पुरुष आश्रम, इस योजना को लेकर कांग्रेस ने लगाए आरोप

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
पहली ही बारिश में फूटा परकोलेशन टैंक, हाथ लगाने से उखड़ा कंक्रीट, जल संरक्षण के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार
Andhvishwas: 14 भूत भगाने के 40 लाख, घर भी कराया दान..... जालसाजों ने जबलपुर के परिवार से ऐसे ठगे 1 करोड़ रुपये
Good news came before Sawan, Railway will run a special train from Bhopal for the devotees of Mahakal, here is the detail
Next Article
सावन से पहले आई खुशखबरी, महाकाल के भक्तों के लिए रेलवे चलाएगा स्पेशल ट्रेन, ये रही डिटेल
Close
;