विज्ञापन
Story ProgressBack

Corruption: उप स्वास्थ्य केंद्र चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट, निर्माण में इस्तेमाल हुए घटिया सामग्री की ऐसे खुली पोल 

MP News: 49 लाख रुपये की लागत से बनाया जा रहा उप स्वास्थ्य केंद्र का भवन खुद अस्वस्थ नजर आ रहा है. ऐसे और कुछ भी उप स्वास्थ्य केंद्र निर्माण किये जा रहे हैं जो भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुके हैं.

Read Time: 3 mins
Corruption: उप स्वास्थ्य केंद्र चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट, निर्माण में इस्तेमाल हुए घटिया सामग्री की ऐसे खुली पोल 
उप स्वास्थ्य केंद्र भवन के निर्माण में भ्रष्टाचार

Sub Health Center Building: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बड़वानी (Barwani) जिले में उप स्वास्थ्य केंद्र भवन (Sub Health Centre) के निर्माण में घटिया सामग्री इस्तेमाल किए जाने का मामला सामने आया. इसका जनपद पंचायत अध्यक्ष (Panchayat Adhyaksh) ने निरीक्षण किया. मौके से फोन पर विभाग के अधिकारी को खराब निर्माण की जानकारी थी. पाटी स्वास्थ्य केंद्र बीएमओ नहीं, निर्माण एजेंसी को कार्य सुधार का नोटिस दिया. आरोप है कि यहां का ठेकेदार फॉर्मेलिटी के तौर पर काम कर रहा है. हालांकि डॉक्टर राजेश ने बताया है कि हमने ठेकेदार को नोटिस जारी कर कार्य में सुधार की लेकिन, चेतावनी के बाद भी कार्य में कोई सुधार नहीं है..

क्या है पूरा मामला

बड़वानी जिले के तहसील मुख्यालय के ग्राम पंचायत गोलपाटीवाड़ी और ग्राम पंचायत सीधी में इन दिनों उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का निर्माण कराया जा रहा है. भवन निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग करने से नाराज ग्रामीणों ने मौखिक शिकायत जनपद पंचायत अध्यक्ष को की थी. शिकायत के बाद जनपद पंचायत अध्यक्ष थानसिंग सस्ते ने ग्राम गोलपाटीवाड़ी और ग्राम पंचायत सीधी पहुंचकर निर्माणाधीन उप स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया. जनप्रतिनिधियों ने बताया कि निर्माण कार्य में ठेकेदार द्वारा निर्धारित मापदंड का ध्यान नहीं रखा जा रहा है. विभागीय अधिकारियों ने निर्माण कार्य की जांच की जानी चाहिए. 

49 लाख की राशि से बन रहा स्वास्थ्य केंद्र

बता दें कि गोलपाटीवाड़ी गांव में 49 लाख रुपये की राशि से गांव में उप स्वास्थ्य केंद्र के भवन का निर्माण कराया जा रहा है. ग्रामीणों ने भवन निर्माण की गुणवत्ता को लेकर आपत्ति जता रहे है. जिसकी शिकायत जनपद पंचायत अध्यक्ष थानसिंग सस्ते को करने पर अध्यक्ष समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण कर विभाग के अधिकारियों से आवश्यक जानकारी प्राप्त की. 

ठेकेदार कर रहे हैं मनमानी

जनप्रतिनिधियों का आरोप हैं कि ठेकेदार के द्वारा अपनी मनमानी करते हुए भवन निर्माण की गुणवत्ता पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है और न ही इस ओर उच्च अधिकारियों द्वारा मॉनिटरिंग की जा रही है. विभाग के अधिकारियों व ठेकेदार से इस मामले को लेकर कई बार अवगत कराया गया. लेकिन, वह भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें :- बलौदा बाजार हिंसा मामले में नया मोड़ ! MLA देवेंद्र यादव को जारी हुआ नोटिस

जनपद पंचायत का बयान

जनपद पंचायत अध्यक्ष थानसिंग सस्ते ने बताया कि शासन की मंशा है कि ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य की सुविधा ग्रामीणों को गांव में ही मिल जाए. लेकिन, स्वास्थ्य की सुविधाएं गांव में उपलब्ध कराने के लिए बनाए जा रहे भवन में ही ठेकेदार द्वारा घटिया निर्माण कार्य कर भवन को कमजोर कर रहा है. ऐसी स्थिति में स्वास्थ्य विभाग का अमला कैसे स्वास्थ्य का लाभ ग्रामीण देगा. उप स्वास्थ्य केंद्र निर्माण में घटिया ईटों का निर्माण कराया जा रहा है.

ये भी पढ़ें :- Ujjwala Yojana: इस संरक्षित आदिवासी समाज तक नहीं पहुंची उज्ज्वला, चूल्हे पर धुंए में खाना पकाने को हैं मजबूर

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Amarwara Assembly Bypoll: चुनावी रण में पटवारी की फिसली जुबान, अपने ही प्रत्याशी को बताया भ्रष्ट, फिर हुआ ये..
Corruption: उप स्वास्थ्य केंद्र चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट, निर्माण में इस्तेमाल हुए घटिया सामग्री की ऐसे खुली पोल 
Health Hazard Contaminated Salt with Gravel Found in Ration Distribution in MP District
Next Article
MP में जनता की सेहत से खिलवाड़ ! लोगों ने कहा- कब तक खाएं कंकड़ वाला नमक ?
Close
;