विज्ञापन
Story ProgressBack

मर्डर के बाद ऐशो आराम की काट रहे थे ज़िंदगी, अब चढ़े पुलिस के हत्थे

Crime News MP : कत्ल करने के बाद आरोपियों ने दोनों की लाशें खाली बोरों में भरीं और ट्रैक्टर की लिफ्ट पर रखकर भगवानपुर से तीस किलोमीटर दूर बिजरोनी और मुगर्रा गांव के बीच फेंक दीं.

मर्डर के बाद ऐशो आराम की काट रहे थे ज़िंदगी, अब चढ़े पुलिस के हत्थे
मर्डर के बाद ऐशो आराम की काट रहे थे ज़िंदगी, अब चढ़े पुलिस के हत्थे

Ashok Nagar Crime News : अशोकनगर जिले की ईशागढ़ पुलिस ने तीन साल पुराने पति-पत्नी के अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझा लिया है. पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया. दरअसल, पुलिस ने तीन साल पहले एक दंपति की हत्या कर ऐशो आराम की जिंदगी बिता रहे तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर दिया. ईसागढ़ थाना प्रभारी जंग बहादुर सिंह तोमर ने सोमवार को इस अंधे कत्ल का खुलासा  किया.

जानिए पूरा मामला

इस घटना के तार तीन साल पुराने हैं. सितंबर 2021 में शिवपुरी जिले के इंदार के बिजरोनी और मुगर्रा गांव के बीच एक बोरे में भरी हुई दो लाशें मिली थीं. यह लाशें एक युवक और युवती की थीं. दो साल तक इन लाशों की पहचान नहीं हो सकी, इसलिए यह मामला इंदार थाने में अज्ञात के रूप में पड़ा रहा.

बोरे में मिली थी लाश

चार साल पहले शिवपुरी के खोड़ से गुमशुदा हुई युवती माना बाई की पहचान लावारिस महिला की लाश के तौर पर हुई, जिससे पूरी कहानी बदल गई. पुलिस जांच में पता चला कि माना बाई अपने प्रेमी के साथ भागकर शादी कर अशोकनगर जिले के ईसागढ़ के भगवानपुर गांव में रह रही थी.  उसका पति प्रहलाद आदिवासी भगवानपुर के जाट परिवार के खेतिहर मजदूर था.

गला घोंटकर की हत्या

दोनों पति-पत्नी भगवानपुर के खेतों में झोपड़ी बनाकर रहते थे. इसी कड़ी में  5 सितंबर 2021 को भगवानपुर के ब्रजपाल उर्फ वकील जाट, पालसिंह उर्फ पालू जाट और घनश्याम उर्फ राजू जाट खेतों पर बनी झोपड़ी पर पहुंचे. उन्होंने प्रह्लाद और माना बाई के साथ अभद्रता की और उन्हें अपने साथ ले जाने की कोशिश की... लेकिन जब वे सफल नहीं हो पाए, तो उन्होंने गला घोंटकर दोनों की हत्या कर दी.

30 Km दूर फेंकी लाशें

कत्ल करने के बाद आरोपियों ने दोनों की लाशें खाली बोरों में भरीं और ट्रैक्टर की लिफ्ट पर रखकर भगवानपुर से तीस किलोमीटर दूर बिजरोनी और मुगर्रा गांव के बीच फेंक दीं. आरोपी ट्रैक्टर के पीछे अपनी लाल रंग की स्विफ्ट कार भी ले गए थे.

ये भी पढ़ें : 

दहेज कानून के लपेटे में पटवारी, बीवी ने दर्ज कराया मारपीट का मामला

CCTV से हुआ खुलासा

जहां लाशें फेंकी गई थीं, वहां से कुछ दूरी पर एक कैमरा लगा हुआ था. कैमरे में कैद हुआ कि लाल रंग के महिंद्रा ट्रैक्टर पर लाशें रखकर लाई गईं और पीछे से एक लाल रंग की स्विफ्ट कार भी आई थी. इसके अलावा मामले में एक  चश्मदीद व्यक्ति ने इस अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में अहम भूमिका निभाई.

ये भी पढ़ें : 

50 लाख का गबन ! खुलासा होने पर BMO समेत 4 पर गिरी गाज, FIR दर्ज

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
भाजपा पार्षद पर आर्थिक सहायता के बहाने महिला से दुष्कर्म का लगा आरोप, एक्टिव हुई पुलिस
मर्डर के बाद ऐशो आराम की काट रहे थे ज़िंदगी, अब चढ़े पुलिस के हत्थे
167 year old tradition was followed in Rewa Tajia was taken out on the day of Moharram know the history of Moharram month of islam religion
Next Article
रीवा में निभाई गई 167 साल पुरानी परंपरा, मोहर्रम के दिन निकाली गई ताजिया, जानें इन दिन का इतिहास
Close
;