विज्ञापन
Story ProgressBack

MP हाईकोर्ट ने जेल में बंद आरोपी को दी MPPSC एग्जाम देने की अनुमति, 64 करोड़ के ड्रेनेज घोटाले का है आरोप

MP News: मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने 64 करोड़ के ड्रेनेज घोटाले में जेल में बंद एक आरोपी को मध्य प्रदेश सिविल सेवा परीक्षा में बैठने की अनुमति दी है.

MP हाईकोर्ट ने जेल में बंद आरोपी को दी MPPSC एग्जाम देने की अनुमति, 64 करोड़ के ड्रेनेज घोटाले का है आरोप
फाइल फोटो
इंदौर (मध्यप्रदेश):

MPPSC Civil Service Exam 2024: देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर (Indore) में 64 करोड़ रुपये के ड्रेनेज घोटाले के आरोपियों में शामिल सहायक लेखा परीक्षक (ऑडिटर) को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट (MP High Court) ने राज्य सिविल सेवा परीक्षा में बैठने की मंजूरी दे दी है. हाईकोर्ट की इंदौर पीठ (MP High Court Indore Bench) के जस्टिस विनय सर्राफ ने गुरुवार को दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद रामेश्वर परमार को राज्य सेवा परीक्षा 2024 (Madhya Pradesh State Civil Service Exam 2024) में बैठने की अनुमति दे दी. आपको बता दें कि हाईकोर्ट ने यह मंजूरी 23 जून (रविवार) को होने वाले प्री एग्जाम के लिए दी है.

इंदौर नगर निगम में सहायक लेखा परीक्षक के रूप में पदस्थ रामेश्वर परमार ड्रेनेज घोटाले में गिरफ्तारी के बाद एक स्थानीय जेल में बंद है. उसने राज्य सेवा परीक्षा में बैठने के लिए हाईकोर्ट में अस्थायी जमानत की याचिका दायर की थी.

अभ्यर्थी पर फर्जी बिल भुगतान का है आरोप

अदालत ने इस याचिका की सुनवाई करते हुए जेल प्रशासन को निर्देश दिया कि वह आरोपी को रविवार को पुलिस हिरासत में परीक्षा केंद्र तक ले जाने और वापस जेल लाने के उचित इंतजाम करे. इस मामले में डीसीपी पंकज कुमार पांडे ने 'पीटीआई-भाषा' को बताया कि परमार और इंदौर नगर निगम के अन्य ऑडिटर पर आरोप है कि उन्होंने शहर में ड्रेनेज के काम के नाम पर ठेकेदारों की ओर से पेश फर्जी बिलों की भुगतान से पहले जांच नहीं की.

उन्होंने बताया, "पुलिस की अब तक की छानबीन में पता चला है कि गुजरे वर्षों के दौरान शहर में ड्रेनेज लाइन बिछाने के नाम पर ठेकेदारों की 10 फर्मों ने इंदौर नगर निगम में लगभग 64 करोड़ रुपये के फर्जी बिल पेश किए. इनमें से 47.53 करोड़ रुपये के बिलों का बगैर जांच-पड़ताल के भुगतान भी कर दिया गया." डीसीपी ने बताया कि ड्रेनेज घोटाले में अब तक नौ ठेकेदारों और इंदौर नगर निगम के आठ कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया है.

1.83 अभ्यर्थी देंगे एग्जाम

अधिकारियों ने बताया कि मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) की आयोजित राज्य सेवा परीक्षा 2024 के रविवार को होने वाले प्री एग्जाम में 1.83 लाख उम्मीदवार शामिल होंगे. यह परीक्षा कुल 110 पदों पर भर्ती के लिए हो रही है, जिनमें डिप्टी कलेक्टर के कुल 15 पद और डीएसपी के 22 पद शामिल हैं.

यह भी पढ़ें - MP की 16 यूनिवर्सिटीज को UGC ने डिफॉल्टर घोषित किया, MCU-RGPV समेत ये विश्वविद्यालय शामिल

यह भी पढें - Forest Department की बड़ी लापरवाही, लाखों की हाईटेक नर्सरी-ग्रीन हाउस को कबाड़ बना डाला, देखिए NDTV पड़ताल

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Shiv Temple: भोलेनाथ का ऐसा मंदिर जिसे अंग्रेजों ने बनवाया, यहां भक्त की भी होती है पूजा, जानें मंदिर के बारे में
MP हाईकोर्ट ने जेल में बंद आरोपी को दी MPPSC एग्जाम देने की अनुमति, 64 करोड़ के ड्रेनेज घोटाले का है आरोप
Weather Department on Rain in Madhya Pradesh and bhopal weather Monsoon in state from this date
Next Article
MP Weather Update: सावधान! प्रदेश की कई नदियां उफान पर... मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
Close
;