विज्ञापन
Story ProgressBack

MP News: निवाड़ी में रिश्वत लेते हुए आरक्षक का Video हुआ Viral , फिर भी बचा रहे थे अफसर तो पीड़ित ने सामने आकर खोल दी पोल

MP Crime : एमपी (Madhya Pradesh) के निवाड़ी में रिश्वत कांड (Bribery scandal) में चौकाने वाला खुलासा हुआ है, पृथ्वीपुर में आरक्षक रिश्वत लेते हुए का वायरल वीडियो चर्चा का विषय है.आरक्षक को बचाने के लिये वरिष्ठ अधिकारी भी साथ देने लगे हैं.

Read Time: 3 mins
MP News: निवाड़ी में रिश्वत लेते हुए आरक्षक का Video हुआ Viral , फिर भी बचा रहे थे अफसर तो पीड़ित ने सामने आकर खोल दी पोल

Bribery scandal In Niwari: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के निवाड़ी (Bribery scandal) के पृथ्वीपुर में आरक्षक का एक बाइक चालक से रिश्वत लेते हुए वायरल वीडियो (Viral Video) चर्चा में है. इस मामले में चौंकाने वाला खुलासा भी हुआ है. मामले में खास बात यह है कि आरक्षक को बचाने के लिए वरिष्ठ अधिकारी भी इसके पक्ष में बोलने लगे थे.

हालांकि, अब शख्स सामने आ गया है, जिससे रिश्वत की मांग की गई थी. उसने बताया कि 300  रुपये के बदले एक हजार रुपये लिए गएथे. इसने आरोप लगाया है कि आरक्षक ने 300 रुपये चालान में जमा किये और 700 रुपये अपने पास रख लिए. यह आरोप वायरल वीडियो में फरियादी ने आरक्षक पर लगाए हैं.

वायरल वीडियो में मामले का सच..

निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर थाने से दो दिन पहले रिश्वत का मामला सामने आया था. इसमें बाइक चालक से थाने के बाहर ही रिश्वत ली जा रही थी. वीडियो वायरल होने के बाद उसे चालान के पैसे वसूलने का रूप दिया था और आरक्षक का बचाव किया गया था. वीडियो सामने आने के बाद साफ तौर पर देखा गया कि एक आरक्षक को बचाने के लिए रिश्वत के खेल में वरिष्ठ अधिकारी जांच करने या कार्रवाई करने के बजाय उसका कितना साथ देते हैं.

बिना जांच के सफाई पेश की

 वहीं, जिस युवक के मोटरसाइकिल का चालान काटा गया था, उसने पुलिस के झूठ की पोल खोल कर रख दी है. पृथ्वीपुर पुलिस थाने में पदस्थ आरक्षक शिशुपाल नरवरिया को बचाने के लिए एसडीओपी पृथ्वीपुर ने बिना जांच के अपनी सफाई पेश करते हुए एक वीडियो जारी किया था, जिसमें वह कह रहीं थी कि वाहन चेकिंग में 22 मई को एक मोटरसाइकिल पकड़ी गई थी, जिसका हेलमेट का 300 रुपये का चालान काटा गया था. आरक्षक ने कोई भी रिश्वत नहीं ली है. 

अधिकारी आखिर झूठ क्यों बोल रहे हैं?

वहीं, वायरल वीडियो में साफ दिख रहा था कि आरक्षक थाना परिसर के अंदर पैसे गिन रहा है, जिसमें एक 500 रुपये का नोट है और तीन 100 रुपये के नोट हैं, बाकी 10 और 20 रुपये के नोट गिनते साफ दिखाई दे रहे हैं. इस वीडियो में सारी चीज स्पष्ट साफ दिखाई दे रही है, फिर भी जिम्मेदार अधिकारी झूठ बोल कर मामले को दबाने का प्रयास कर रहे हैं. 

ये भी पढ़ें- Lok Sabha 2024: सरोज पांडे की गारंटी, भाजपा कोरबा समेत छत्तीसगढ़ की सभी 11 सीटों पर लहराएगी परचम

700 रुपये रखने का आरोप 

मुकेश रैकवार नाम के जिस फरियादी का चालान काटा गया था, वह वीडियो में साफ कह रहा है कि आरक्षक हमारी गाड़ी उठाकर ले गए. जब वो थाने पहुंच कर अपनी गाड़ी मांगी, तब आरक्षक ने 300 का चालान काटने की बात कही. इसके बाद आरक्षक ने मुकेश से एक हजार रुपये ले लिए. मुकेश का आरोप है कि 300 रुपये का चालान काटकर 700 रुपये उन्होंने अपने पास रख लिए.

ये भी पढ़ें- CM साहब ! छिंदवाड़ा में 8 का कत्ल करने वाले का नहीं, सिस्टम का दिमाग 'करेक्ट' करिए

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
अमीर बनने के लिए 4 युवकों ने आजमाया तांत्रिक का नुस्खा और पहुंच गए जेल, जानें क्या है पूरा मामला?
MP News: निवाड़ी में रिश्वत लेते हुए आरक्षक का Video हुआ Viral , फिर भी बचा रहे थे अफसर तो पीड़ित ने सामने आकर खोल दी पोल
Khargone Municipality gave notice to 67 landlords before monsoon
Next Article
मानसून से पहले 67 मकानों पर मंडराया बुलडोज़र का खतरा, जानिए वजह 
Close
;