विज्ञापन
Story ProgressBack

हरियाली की रखवाली ! इंदौर के लोग अब पासबुक में रखेंगे पेड़ का हिसाब

Tree Protection : इंदौर में पेड़ों को बचाने के लिये लोगों ने चिपको आंदोलन शुरू कर दिया है. स्मार्ट सिटी ने एक प्लॉट बेचा है जिसमें पेड़ कटने हैं लेकिन स्थानीय लोगों सालों पुराने इन पेड़ों को बचाने के लिए मुहिम के साथ मैदान में उतरे हैं.

Read Time: 3 mins
हरियाली की रखवाली ! इंदौर के लोग अब पासबुक में रखेंगे पेड़ का हिसाब
हरियाली की रखवाली ! इंदौर के लोग अब पासबुक में रखेंगे पेड़ का हिसाब

Indore News MP : इंदौर में पेड़ों को बचाने के लिये लोगों ने चिपको आंदोलन शुरू कर दिया है. स्मार्ट सिटी ने एक प्लॉट बेचा है जिसमें पेड़ कटने हैं लेकिन स्थानीय लोगों सालों पुराने इन पेड़ों को बचाने के लिए मुहिम के साथ मैदान में उतरे हैं. इंदौर में इस हरियाली की रखवाली के लिये इन पेड़ों को लिस्टेड किया जा रहा है. एक-एक पेड़ पर उसका नंबर, जानकारी लिखी जा रही है.  बाकायदा इसके लिए एक पासबुक भी बनाई है, जिसमें ये हिसाब दर्ज रहेगा.

क्या बोले आस-पास के लोग ?

हमने 99 साल पूरे किए हैं.... हमने गैजेटियर 1930 देखा उसमें ये दर्शाता है कि ये 80-100 साल पुराने वृक्ष हैं. ये वृक्ष जब नई सिटी थी सबने घरों के सामने वृक्ष लगाए थे. अब प्रशासन बड़े निर्दयता के इन्हें साथ काट रहा है. अब तक 100 से ज्यादा वृक्षों को काटा गया है. हम ऐसा नहीं होने देंगे. यहां 4 गगनचुंबी इमारतें और एक नया बाजार बनाने की तैयारी है.

अमित शिंदे

स्थानीय निवासी

पासबुक में दर्ज होगा हिसाब

ऐसे में अगर एक भी पेड़ कटा तो इसका हिसाब पासबुक में दर्ज होगा. स्थानीय लोगों का कहना है कि नगर-निगम एक प्रोजेक्ट के लिए बिना प्लानिंग कई पेड़ काट रहा है. पेड़ बचाने सांकेतिक रूप से लोग पेड़ों से चिपककर विरोध दर्ज करा रहे हैं, उनकी मुहिम को शहर के लोगों का साथ मिल रहा है. लोगों का कहना है कि यहां 4 बड़ी-बड़ी और ऊंची इमारतें और एक नया बाजार बनाने की तैयारी है. वहीं, नगर-निगम का कहना है हम कुछ पेड़ों की शिफ्टिंग करेंगे, लेकिन 10 गुना लगाएंगे.

ये नगर निगम नहीं स्मार्ट सिटी का मामला है... स्मार्ट सिटी ने एक फर्म को प्लॉट बेचा है, उसने एक आवेदन लगाया था. इसमें  24 पेड़ काटने की, 15 पेड़ शिफ्टिंग 9 पेड़ काटने का पैसे लेकर अनुमति दी गई है. अनुमति तो देना पड़ता है, निजी प्लॉट है ये नियम के तहत है नगर निगम ने बेचा है. स्मार्ट सिटी के तहत हर पेड़ की गिनती युद्धस्तर पर कर रहे हैं. हम 51 लाख पेड़ लगाना चाहते हैं. अभी 9 परसेंट ग्रीनरी है इसको 25 परसेंट तक बढ़ाना है.

राजेंद्र राठौर

उद्यान समिति प्रभारी (नगर निगम)

भी पढ़ें :

बलौदा बाजार सेक्स स्कैंडल का मास्टरमाइंड फरार, अब कोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक 

बॉस ने किया रेप तो लड़की ने ऑफिस में की खुदकुशी... WhatsApp चैट ने खोले राज

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Katni: जल संरक्षण के लिए अदाणी फाउंडेशन द्वारा तालाबों का किया जा रहा जीर्णोद्धार, 800 किसानों को होगा फायदा
हरियाली की रखवाली ! इंदौर के लोग अब पासबुक में रखेंगे पेड़ का हिसाब
Crossing all limits of cruelty, killed mother-in-law by attacking her 100 times with a sickle, 30 years later the court awarded death sentence to daughter-in-law
Next Article
Rarest Murder: क्रूरता की सारी हदें की पार, सास को दरांती से 100 बार हमलाकर की हत्या, 30 साल बाद कोर्ट ने बहू को सुनाई फांसी की सजा
Close
;