विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 12, 2023

Diwali 2023: पहल बनी परंपरा, यहां बच्चों संग दीपावली मनाती हैं एक शिक्षिका

Diwali Special: शिक्षिका ने हर बार की तरह इस बार भी दीपावली के मौके पर शिक्षा के साथ ही दीपावली का उपहार देने स्कूली बच्चों के बीच पहुंची. इस दौरान उन्होंने बच्चों को मिठाई खिलाकर  और अनार व फुलझड़ी जैसे पटाखे जलाकर दीपोत्सव की शुरुआत की.

Diwali 2023: पहल बनी परंपरा, यहां बच्चों संग दीपावली मनाती हैं एक शिक्षिका

Diwali 2023 in India: उत्साह और उमंग से भरा दीपावली (Diwali Festival) का त्यौहार हर किसी के जीवन में  खुशियां लेकर आता है. लिहाजा, इस मौके पर एक दुसरे से दूर रहने वाले परिजन और रिश्तेदार भी इकट्ठे होकर दीपोत्सव का त्योहार अपने घर में मनाते हैं. वहीं, बालाघाट के शासकीय स्कूल बगड़मारा (Bagadmara) के सरकारी स्कूल की शिक्षिका तिलोत्तमा कटरे (Tilottama Katre) इन सब से हटकर साल भर होने वाले सभी त्यौहार अपने स्कूल के बच्चों के साथ मनाती हैं.

शिक्षिका ने हर बार की तरह इस बार भी दीपावली के मौके पर शिक्षा के साथ ही दीपावली का उपहार देने स्कूली बच्चों के बीच पहुंची. इस दौरान उन्होंने बच्चों को मिठाई खिलाकर  और अनार व फुलझड़ी जैसे पटाखे जलाकर दीपोत्सव की शुरुआत की.

बच्चों की सफलता को बनाया जिंदगी का उद्देश्य

 जानकारी के अनुसार सरकारी स्कूल की शिक्षिका तिलोत्तमा कटरे स्कूली बच्चों के बेहतर पढ़ाई को लेकर काफी प्रयास कर रही हैं, जिसके लिए अपने क्लास के एक-एक बच्चों की पढ़ाई पर फोकस कर उन्हें नम्बर वन बनाने के लिए लगातार प्रयासरत रही हैं. इसके अलावा बच्चों के शिक्षा संबंधी सामान शिक्षिका यथासंभव उपलब्ध कराती हैं. शिक्षिका तिलोत्तमा कटरे कहती हैं कि सरकारी स्कूल के बच्चों को मैं अपना परिवार मानती हुं. इसकी वजह से हर त्यौहारों में बच्चों के बीच पहुंचकर खुशियां बांटती हुं, जिससे मुझे असीमित खुशियां मिलती है.


ये भी पढ़ें- ग्वालियर में 266 वर्षों से चल रही है प्राकृतिक रंग से दीवाली पूजन के चित्र बनाने की परंपरा, राष्ट्रपति से पीएम तक हैं इस कला के मुरीद
 

बेहतर प्रबंधन के लिए मिल चुके ढेरों पुरस्कार

शासकीय स्कूल बगड़ मारा की शिक्षिका तिलोत्तमा कटरे की बच्चों के प्रति इस लगाव की वजह से उन्हें कई सम्मानों से सम्मानित किया जा चुका है. प्राथमिक शिक्षा के बेहतर प्रबंधन के लिए राज्य स्तरीय पुरस्कार पिछले दिनों उन्हें मिला था. इसके साथ ही इससे पहले भी उन्हें अनेक संगठनों और जिला प्रशासन की ओर से भी सम्मानित किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- Vidisha News: दिवाली पर फूलों की बढ़ी मांग, सजावटी सामानों से पटा बाजार
 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Gwalior: बालिका गृह में फिल्मी स्टाइल में घुसे नकाबपोश, किशोरी को नींद से जगाया और अगवा कर ले गए, CCTV में कैद हुई घटना
Diwali 2023: पहल बनी परंपरा, यहां बच्चों संग दीपावली मनाती हैं एक शिक्षिका
Bhojshala dispute: ASI presented 2000 page report in High Court Indore, next hearing will be on July 22
Next Article
भोजशाला विवादः ASI ने हाई कोर्ट में पेश की 2000 पन्नों की रिपोर्ट, जानें- कितनी मूर्तियां मिलने का है दावा
Close
;