विज्ञापन
Story ProgressBack

Jugad: डिंडौरी के किसानों का कमाल, सरकार ने नहीं पहुंचाया पानी, तो खुद बना ली नहर, अब लहलहाने लगी फसलें

MP News: किसानों ने NDTV को बताया की वर्ष 1992 में उनके गांव में जल संसाधन विभाग के द्वारा लाखों रूपये खर्च करके विशाल जलाशय एवं नहरों का निर्माण कराया गया था जो पूरी तरह से भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया और जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के द्वारा तीस साल पहले किये गए भ्रष्टाचार का खामियाजा सैंकड़ों किसान आज भी भुगतने को मजबूर हैं.

Jugad: डिंडौरी के किसानों का कमाल, सरकार ने नहीं पहुंचाया पानी, तो खुद बना ली नहर, अब लहलहाने लगी फसलें

Farmers News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के डिंडोरी (Dindori) जिले में कछारी गांव के किसानों (Farmers) ने कमाल कर दिया है. डिंडौरी जिले में सरकारी सिस्टम (Government System) से हताश कछारी गांव के किसानों ने खेतों की सिंचाई (Irrigation) के लिए आपस में चंदा जुटाकर पानी (Irrigation Water) का जुगाड़ (Jugad) किया है. पानी की किल्लत के चलते फसलों (Crops) को बचाने के लिए किसानों ने हर बार की तरह इस बार भी पहले जल संसाधन विभाग (Water Resource Department) के अधिकारियों से गुहार लगाई थी, लेकिन जब अधिकारियों ने किसानों की नहीं सुनी तो उन्होंने आपस में चंदा कर पैसे जुटाए और खेतों की सिंचाई के लिए पानी का जुगाड़ कर लिया. अब आप यहां आकर देख सकते हैं कि इस जुगाड़ के पानी से किसानों के खेतों में उड़द और मक्के की फसल कैसे लहलहा रही है. किसानों ने कैसे जुगाड़ के सहारे खेतों तक पानी पहुंचाया जानते हैं इस रिपोर्ट में...

Farmers News: खुद किसानों ने चंदा कर खेतों तक पहुंचाया पानी

Farmers News: खुद किसानों ने चंदा कर खेतों तक पहुंचाया पानी

किसानों का आरोप नहर से आजतक नहीं मिला एक बूँद पानी 

डिंडौरी जिले के शहपुरा तहसील क्षेत्र अंतर्गत कछारी गांव में अपनी फसलों को बचाने के लिए किसानों द्वारा जुगाड़ के सहारे पानी का इंतज़ाम किया है. जलसंकट (Water Crisis) से जूझ रहे कछारी गांव के किसानों ने खेतों में सिंचाई के लिए पानी का इंतज़ाम करने आपस में चंदा जुटाकर पैसे एकत्रित किये और जेसीबी मशीन के जरिये पहले नाले में पानी को जमा किया, फिर मोटर पंप और पाइपलाइन के सहारे पानी को तालाब तक लाया गया. इसके बाद तालाब में दूसरा मोटर पंप और पाइप लगाकर खेतों तक पानी पहुंचा दिया. हैरान करने वाली बात यह है कि कछारी गांव में लाखों की लागत से बनाया गया बड़ा जलाशय है और खेतों तक नहरें भी बनी हुई हैं, लेकिन नहरों से किसानों को एक बूंद पानी भी नसीब नहीं होता है.

Farmers News: d

Farmers News: जल संसाधन विभाग द्वारा वर्ष 1992 में किया गया था बांध और नहर का निर्माण

किसानों ने NDTV को बताया की वर्ष 1992 में उनके गांव में जल संसाधन विभाग के द्वारा लाखों रूपये खर्च करके विशाल जलाशय एवं नहरों का निर्माण कराया गया था जो पूरी तरह से भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया और जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के द्वारा तीस साल पहले किये गए भ्रष्टाचार का खामियाजा सैंकड़ों किसान आज भी भुगतने को मजबूर हैं.
Farmers News: किसानों ने पहले तालाब में भरा पानी फिर खेतों तक पहुंचाया

Farmers News: किसानों ने पहले तालाब में भरा पानी फिर खेतों तक पहुंचाया

किसानों ने यह भी बताया की बांध और नहरों की मरम्मत के नाम पर जल संसाधन विभाग के अधिकारी हर साल लाखों रुपये निालते हैं जबकि नहर से किसानों को एक बूंद पानी भी नसीब नहीं हो पाता है. बांध और नहर को शोपीस बतलाते हुए क्षेत्र के किसानों ने जिले के जिम्मेदार अधिकारीयों एवं जनप्रतिनिधियों से भी मामले की शिकायत की है, लेकिन अबतक किसी ने भी किसानों की सुध नहीं ली है.

बांध और नहर निर्माण के दौरान हुआ था जमकर भ्रष्टाचार : पूर्व विधायक

शहपुरा विधानसभा के पूर्व विधायक भूपेंद्र मरावी ने क्षेत्र में बाँध और नहरों के निर्माण में जलसंसाधन विभाग के अफसरों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं. पूर्व विधायक ने बताया कि जल संसाधन विभाग के रिकाॅर्ड के मुताबिक जिले के बांध और नहरों से हजारों हेक्टेयर भूमि सिंचित दर्ज़ है, जबकि जमीनी हकीकत बिल्कुल इससे परे है. डिंडौरी जिले में एक दो बांध को छोड़कर बाकी के बांध और नहर सिर्फ सफ़ेद हाथी की तरह है। ख़ास बात यह है की बांध और नहरों से किसानों को भले एक बूँद पानी नहीं मिलता है लेकिन इन बाँध और नहरों की मरम्मत के नाम पर विभाग के अधिकारी सरकार से हरसाल करोड़ों रूपये का बजट प्राप्त कर लेते हैं.

यह भी पढ़ें : ठेकेदार की दबंगई... स्कूल बिल्डिंग के लिए रोक दिया नहर का पानी, लोग जलसंकट से परेशान, अधिकारी मौन

यह भी पढ़ें : Desi Jugaad: डिंडौरी के बैगाओं ने दिखाया कमाल, जुगाड़ से बनाई नल-जल योजना सरकारी सिस्टम को दे रही मात

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Ujjain: अखाड़े पर वर्चस्व के लिए संत ने महंत पर किया हमला, केस दर्ज होते ही हुआ फरार 
Jugad: डिंडौरी के किसानों का कमाल, सरकार ने नहीं पहुंचाया पानी, तो खुद बना ली नहर, अब लहलहाने लगी फसलें
Bhojshala Survey Temple or Mosque in Dhar Bhojshala ASI will present report in High Court today
Next Article
धार के भोजशाला में मंदिर या मस्जिद? आज हाई कोर्ट में रिपोर्ट पेश करेगी ASI की टीम
Close
;