विज्ञापन
Story ProgressBack

Chhatarpur: गेट पर लगा था ताला, अंदर पशु आहार-गधे की लीद मिलाकर बना रहे थे नकली मसाले

Chhatarpur Fake Masala Factory: प्रशासन की टीम ने नकली मसाला फैक्ट्री पर छापामार की कार्रवाई की है. यहां धनिया और मिर्च की जगह इस नकली मसालों में गधे की लीद सुखाकर और पशु आहार का भी उपयोग किया जाता है. इसे ग्रामीण इलाकों में बेच सीधे लोगों की सेहत के साथ बड़ा खिलवाड़ किया जा रहा था. इस कार्रवाई के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है.

Read Time: 3 min
Chhatarpur: गेट पर लगा था ताला, अंदर पशु आहार-गधे की लीद मिलाकर बना रहे थे नकली मसाले

Administration team raided: मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के राजनगर बाईपास पर संचालित एक मसाला फैक्ट्री में प्रशासन की टीम ने छापा मारा है. जब टीम यहां पहुंची तो नजारा देख अफसरों के होश उड़ गए. जांच के दौरान टीम को फैक्ट्री में मिलावटी मसाले मिले हैं. मसालों को जब्त कर सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं.  

लगातार मिल रही थी शिकायतें

बता दें कि प्रशासन को नकली मसाले बनाने की लगातार शिकायतें मिल रही थी. ऐसे में कलेक्टर संदीप जीआर ने ADM नमःशिवाय अरजरिया को जांच के आदेश दिए. इसके बाद एक टीम बनाकर जांच के लिए भेजा. जब टीम फैक्ट्री के बाहर पहुंची तो फैक्ट्री में बाहर से ताला लगा हुआ था और अंदर फैक्ट्री संचालित थी. यहां देर तक गेट पर अधिकारी रुके रहे. लेकिन किसी ने गेट नहीं खोला. इतना ही नहीं नकली मसाला बनाने वाले इस फैक्ट्री के संचालक ने गेट के बाहर CCTV कैमरे भी लगाकर रखे हुए हैं. ताकि आने-जाने वालों को आसानी से देख सके. लेकिन शुक्रवार को जब टीम पहुंची तो इसकी एक भी शातिरता नहीं चली और प्रशासन की टीम ने इसकी तमाम व्यवस्थाओं पर पानी फेर दिया.

ये भी पढ़ें BJP National Council 2024: मध्य प्रदेश से 1200 से अधिक प्रतिनिधि होंगे शामिल, मोदी के 'मंत्र' पर होगी चर्चा

टीम ने ऐसे दी दबिश 

फैक्ट्री के अंदर मौजूद लोगों ने जब गेट नहीं खोला तो पीछे के रास्ते से सीढ़िया लगाकर अफसर-कर्मी अंदर दाखिल हुए. देखा तो अधिकारियो के होश उड़ गए. यहां के एक-एक मसालों की जांच की तो  मिलावट का सारा भंडाफोड़ हो गया. बता दें कि कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत राजनगर बाईपास मार्ग पर मोतीलाल साहू  पिछले करीब दो सालों से राठौर ट्रेडर्स नाम से मसाला फैक्ट्री का संचालन कर रहा है.ओर यही मसाला शहर सहित ग्रामीण इलाकों में बेचा जाता था. सूत्रों की माने तो धनिया और मिर्च की जगह इस नकली मसालों में गधे की लीद सुखाकर और पशु आहार का भी उपयोग किया जाता है. फिलहाल SDM वलवीर रमन,तहसीलदार रंजना यादव, CSP अमन मिश्रा,फूड अधिकारी अमित वर्मा,कोतवाली टीआई अरविन्द्र कुजूर ने मौके पर कार्रवाई करते हुए गोदाम को सील कर जांच शुरू कर दी है. 

ये भी पढ़ें Satna: आदिवासी युवक को बंधक बनाकर पीटने वाले दबंग पिता-पुत्र पहुंचे सलाखों के पीछे, ये है पूरा मामला 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close