विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 02, 2023

अनूपपुर: पिहरी खाने से एक ही परिवार के 5 लोग हुए बीमार, जिला अस्पताल में भर्ती

अनुपपुर जिला अस्पताल के सिविल सर्जन एसआर परस्ते ने बताया कि अब बीमार लोग खतरे से बाहर है. उन सभी के हालात में सुधार देखने को मिल रहा है. 1-2 दिन में सभी को अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.

अनूपपुर: पिहरी खाने से एक ही परिवार के 5 लोग हुए बीमार, जिला अस्पताल में भर्ती

मध्यप्रदेश/अनूपपुर: जिले में बरसात के मौसम में जंगली फल-फूल भी लोगों के खाने का एक बड़ा साधन है. आदिवासी समाज के लोग बिजली कड़कने के बाद जंगल में पीहरी की तलाश में जाते हैं. बीते 2-3 से यहां पर तेज गरज चमक के लगातार बारिश हो रही है. इसी बीच एक परिवार के 5 लोग जंगली पिहरी खाने से बीमार हो गए और हालत गंभीर हो गई, जिन्हें गंभीर हालत में जिला अस्पताल अनूपपुर लाया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है.

ऐसा भी मानना है कि आदिवासी समाज में जंगली पिहरी खाने का बड़ा महत्व हैं. पिहरी की तलाश में लोग जंगल मे जाते हैं. आदिवासी खानपान में पिहरी सब्जी जो जमीन के नीचे पाई जाती है. औषधिय गुण पाए जाते हैं जो प्राकृतिक रूप से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सक्षम हैं. आदिवासियों के खान-पान में मुख्य रुप से जंगल, जमीन से मिलने वाले खाद्य पदार्थ शामिल होते हैं. इनमें एमिनो एसिड, विटामिन सी, आयरन, फोलिक एसिड की मात्रा पर्याप्त होती है, जिससे उनकी प्रतिरोधक क्षमता प्राकृतिक रूप से बढ़ती है.

जानकारी अनुसार ये पाचों सदस्य एक ही परिवार के है और सभी अनूपपुर जिले के ग्राम लहसुना के रहने वाले हैं. इन्हें लगातार उल्टी होने पर 108 एम्बुलेंस की मदद से वेंकटनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, फिर भी इनके तबीयत में सुधार नहीं होने से सभी सदस्यों की हालत गंभीर थी, जिसे देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया.

आनंद राम भैना और उसकी पत्नी राजकुमारी दोनों ही खेत में काम करने के गए थे, जहां बांस के पेड़ के पास में जंगली पिहरी दिखाई पड़ी, जिसे घर लाकर सब्जी के रूप में खाने के लिए बनाया गया. खाने के कुछ ही देर बाद से आनंद राम और उसकी पत्नी राजकुमारी और उसके तीन बेटियां प्रतिज्ञा, साक्षी एवं समृद्धि की हालत बिगड़ गई. अनुपपुर जिला अस्पताल के सिविल सर्जन एसआर परस्ते ने बताया कि अब बीमार लोग खतरे से बाहर है. उन सभी के हालात में सुधार देखने को मिल रहा है. 1-2 दिन में सभी को अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.

ये भी पढ़ें:- 
बेरहम गुरु! स्कूल से मिली यूनिफॉर्म के बारे में दोस्तों को बताया तो टीचर ने पीट-पीटकर किया अधमरा

मध्यप्रदेश के कूनो में एक और चीते की मौत, अब तक 9 की गई जान

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बड़वानी: कस्तूरबा आश्रम में खाना खाते ही बिगड़ी 44 छात्राओं की तबीयत, प्रशासन में मचा हड़कंप
अनूपपुर: पिहरी खाने से एक ही परिवार के 5 लोग हुए बीमार, जिला अस्पताल में भर्ती
The boys side refused dowry in the marriage in Niwari returned 11 lakh rupees of dowry
Next Article
MP News: ससुराल से मिले 11 लाख रुपये लौटाए, कहा-दहेज समाज की है सबसे बड़ी कुप्रथा
Close
;