विज्ञापन
Story ProgressBack

PM Kisan Samman Nidhi: 9.26 करोड़ से अधिक किसानों को ₹20 हजार Cr, आज PM Modi जारी करेंगे 17वीं किस्त

PM-KISAN Scheme: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से पीएम-किसान के तहत लगभग 20,000 करोड़ रुपये की 17वीं किस्त जारी करेंगे. इस कार्यक्रम में 732 कृषि विज्ञान केंद्रों Krishi Vigyan Kendra (KVK), 1 लाख से अधिक प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों और देश भर के 5 लाख कॉमन सर्विस सेंटरों के 2.5 करोड़ से अधिक किसान शामिल होंगे.

PM Kisan Samman Nidhi: 9.26 करोड़ से अधिक किसानों को ₹20 हजार Cr, आज PM Modi जारी करेंगे 17वीं किस्त

PM  Kisan Samman Nidhi Yojana: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज 18 जून 2024 को पीएम-किसान योजना की 17वीं किस्त (17th instalment of the PM-KISAN Scheme) जारी करेंगे, जिसमें 9.26 करोड़ से अधिक किसानों को 20,000 करोड़ रुपये से अधिक का लाभ मिलेगा. प्रधानमंत्री कृषि सखियों (Krishi Sakhi) के रूप में प्रशिक्षित 30,000 से अधिक स्वयं सहायता समूहों (Self Help Groups) को पैरा एक्सटेंशन वर्कर के रूप में कार्य करने के लिए प्रमाण पत्र भी वितरित करेंगे. इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel, Governor of Uttar Pradesh), उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath, Chief Minister of Uttar Pradesh), केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan, Union Agriculture Minister) एवं कई राज्य मंत्री शामिल होंगे. इस कार्यक्रम में 732 कृषि विज्ञान केंद्रों Krishi Vigyan Kendra (KVK), 1 लाख से अधिक प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों और देश भर के 5 लाख कॉमन सर्विस सेंटरों के 2.5 करोड़ से अधिक किसान शामिल होंगे.

किसानों को इस बारे में किया जाएगा जागरुक

50 चयनित कृषि विकास केंद्रों (केवीके) पर विशेष कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है, जिसमें बड़ी संख्या में किसान शामिल होंगे. इन केंद्रों पर कई केंद्रीय मंत्री भी आएंगे और किसानों से बातचीत करेंगे.

किसानों को अच्छी कृषि पद्धतियों, कृषि क्षेत्र में नई उभरती प्रौद्योगिकियों, जलवायु अनुकूल कृषि आदि के बारे में भी जागरूक किया जाएगा.

उन्हें यह भी सिखाया जाएगा कि वे अपने पीएम-किसान लाभार्थी की स्थिति, भुगतान की स्थिति आदि की जांच कैसे करें, किसान-ई-मित्र चैटबॉट का उपयोग कैसे करें. माननीय केंद्रीय मंत्री क्षेत्र की प्रशिक्षित कृषि सखियों को प्रमाण पत्र भी वितरित करेंगे.

कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ है : केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान

केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि कृषि हमेशा से प्रधानमंत्री की प्राथमिकता रही है. 2019 में शुरू की गई पीएम-किसान योजना (PM-KISAN Scheme) ने किसानों को सीधे उनके बैंक खातों में वित्तीय सहायता प्रदान करके काफी लाभ पहुंचाया है. उन्हें कृषि जैसे महत्वपूर्ण विभाग की जिम्मेदारी सौंपे जाने के लिए उन्होंने आभार व्यक्त किया और कहा कि कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ है. उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि कृषि के माध्यम से आज भी सर्वाधिक रोजगार के अवसर उत्पन्न होते हैं और देश के खाद्य भंडार को बनाए रखने में किसान महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. उन्होंने कृषि और किसानों की सेवा को भगवान की पूजा के समान बताया. कृषि क्षेत्र को बढ़ाने के लिए सरकार का समर्पण, उसके निरंतर प्रयासों और आगामी 100-दिवसीय योजना सहित रणनीतिक योजनाओं से स्पष्ट है.

क्या है पीएम किसान सम्मान निधि? (What is PM Kisan Samman Nidhi)

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना 24 फरवरी, 2019 को शुरू की गई है, जो उच्च आय की स्थिति के कुछ मानदंडों के अधीन सभी भूमि-धारक किसानों की वित्तीय जरूरतों को पूरा करती है. प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (DBT) मोड के माध्यम से देश भर के किसानों के परिवारों के बैंक खातों में हर चार महीने में तीन बराबर किस्तों में 6,000 रुपये प्रति वर्ष का वित्तीय लाभ हस्तांतरित किया जाता है. लाभार्थियों के पंजीकरण और सत्यापन में पूर्ण पारदर्शिता बनाए रखते हुए, भारत सरकार ने देश भर में 11 करोड़ से अधिक किसानों को 3.04 लाख करोड़ रुपये से अधिक का वितरण किया है.

कृषि सखी प्रोग्राम क्या है? Krishi Sakhi Program

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री का संकल्प है तीन करोड़ लखपति दीदी बनाने का जिसमें से लगभग एक करोड़ लखपति दीदी बन चुकी हैं, 2 करोड़ और बनानी हैं. उसी का एक आयाम है कृषि सखी. किसानों की सहायता के लिए कई बहनों को प्रशिक्षण देकर तैयार किया है ताकि वो खेती में अलग-अलग कामों के माध्यम से किसानों का सहयोग कर सकें और लगभग 60-80 हजार रुपये तक की सालाना अतिरिक्त आय अर्जित कर पाएं.

पीएम किसान की किस्त जारी करने के कार्यक्रम के साथ-साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 30,000 से अधिक स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को कृषि सखियों के रूप में प्रमाण पत्र भी प्रदान करेंगे और एक प्रतीक के रूप में माननीय प्रधानमंत्री 5 कृषि सखियों को प्रमाण पत्र वितरित करेंगे. कृषि सखी कार्यक्रम को चरण-1 में 12 राज्यों; गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान, ओडिशा, झारखंड, आंध्र प्रदेश और मेघालय  में शुरू किया गया है.

कृषि सखियों को कृषि पैरा-विस्तार कार्यकर्ताओं के रूप में इसलिए चुना जाता है क्योंकि वे विश्वसनीय सामुदायिक संसाधन व्यक्ति और अनुभवी किसान हैं. कृषि सखियों को पहले से ही विभिन्न कृषि पद्धतियों में व्यापक प्रशिक्षण प्राप्त है, जिससे वे साथी किसानों को प्रभावी ढंग से सहायता और मार्गदर्शन देने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. 70,000 में से 34,000 से अधिक कृषि सखियों को पैरा-विस्तार कार्यकर्ताओं के रूप में प्रमाणित किया गया है.

यह भी पढ़ें : Kisan Samman Nidhi: किसानों के लिए आई बड़ी खुशखबरी, पीएम मोदी इस दिन अन्नदाताओं के खाते में डालेंगे 20 हजार करोड़ रुपये

यह भी पढ़ें : Kisan Samman Program: केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज ने शुरू की 'लाडली' बहनों के लिए नई योजना, जानें किन राज्यों में महिलाओं को होगा फायदा

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Priyanka Gandhi के वायनाड से 'पॉलिटिकल डेब्यू' पर BJP का तंज, कांग्रेस ने जताई खुशी, जानें कैसा रहा है राजनीतिक जीवन
PM Kisan Samman Nidhi: 9.26 करोड़ से अधिक किसानों को ₹20 हजार Cr, आज PM Modi जारी करेंगे 17वीं किस्त
Political Analysis: Union Agriculture Minister Shivraj Singh Chauhan's show of strength in MP, while former Union Minister and senior BJP MP is angry, know its meaning, NDA
Next Article
शक्ति प्रदर्शन और कसक! केंद्रीय मंत्री शिवराज की MP में हुंकार, वरिष्ठ सांसद का छलका दर्द, क्या हैं मायने
Close
;