विज्ञापन
Story ProgressBack

Chhattisgarh: एक्सीडेंट में पिता घायल, खुद के सिर-पैर में लगे टांके, फिर भी परीक्षा देने पहुंच गई छात्रा

Chhattisgarh News: नेहा के पिता का पांव फैक्चर हो चुका है और उनके चेहरे में भी गंभीर चोटे आई है।  छात्रा के चेहरे और पांव में चार टांके लगने के बाद भी एग्जाम दिलाने की जिद में अड़ी रही.  

Read Time: 3 mins
Chhattisgarh: एक्सीडेंट में पिता घायल, खुद के सिर-पैर में लगे टांके, फिर भी परीक्षा देने पहुंच गई छात्रा

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में लापरवाही के बीच इंसानियत की मिसाल और लक्ष्य साधने का जज्बा की एक तस्वीर सामने आई है.कन्या शाला में बीएड का एग्जाम दिलाने बिना चप्पल, आंख, चेहरे और पैर में चार टांके और दो इंजेक्शन लगने के बाद पहुंची छात्रा नेहा सेन को देखकर एक मर्तबा तो सब ठिठक गए . एग्जाम सेंटर के  प्रभारी को उसने जब अपनी इस हालत के बारे में बताया तो सभी उसकी हिम्मत को सलाम करने लगे. नेहा ने घायल अवस्था में ही 6 घण्टे के अंतराल में होने वाले प्री बीएड और प्री डीएड का एग्जाम दिलाने की बात कही.

ऐसे हुआ हादसा

रविवार की सुबह राजिम के कौंदकेरा के योगेश्वर सेन अपनी पुत्री नेहा सेन को प्री-बीएड और प्री-डीएड का एग्जाम दिलाने के लिए अपने गांव कौंदकेरा से मोटरसाइकिल पर सवार होकर निकले थे. इस दौरान गरियाबंद से 12 किलोमीटर पहले नेशनल हाईवे पर बारूका के पास पीछे से आ रही मां शारदा बस के ड्राइवर ने लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए पिता-पुत्री पीछे से टक्कर मार दी और मौके से फरार हो गया. इस दौरान गरियाबंद से रायपुर की ओर जा रहे गरियाबंद निवासी आशीष शर्मा ,सुनील यादव और प्रशांत मानिकपुरी ने मिलकर घायल लड़की को जिला अस्पताल पहुंचाने की व्यवस्था कराई तो वहीं दूसरी ओर उसके पिता को 108 के माध्यम से जिला अस्पताल लाया गया. 

जिला अस्पताल में इलाज के दौरान पता चला कि लड़की के पिता का पांव फैक्चर हो चुका है और उनके चेहरे में भी गंभीर चोटे आई है. जिसकी वजह से वह चल फिर नहीं पा रही थी. वहीं छात्रा चेहरे और पांव में चार टांके लगने के बाद भी एग्जाम दिलाने की जिद में अड़ी रही.  

चूंकि एग्जाम सुबह 10:00 बजे से था और छात्र को जिला अस्पताल में इलाज करते 9:50 बज चुका था, इसलिए छात्रा की जिद को देखते हुए पुलिस विभाग के स्टाफ ने मानवता का परिचय देते हुए उसके प्रारंभिक इलाज के बाद उसे पीसीआर वाहन में बिठाकर कन्या शाला एग्जाम सेंटर में छोड़ा .

ये भी पढ़ें Exclusive: IAS अफसर के फर्जी दस्तखत कर गटक लिए 78 लाख रुपये, खुली पोल तो बुरी तरह नप गया ये समन्वयक

फरार हुआ ड्राइवर 

लड़की के पिता योगेश्वर सेन ने बताया कि वह एग्जाम के लिए सुबह अपने घर से निकले थे इस दौरान दारू का के पास कचना धुर्वा मंदिर से थोड़ा आगे जाने पर पीछे की ओर से आ रही मां शारदा ट्रेवल्स की बस के ड्राइवर ने लापरवाही पूर्वक बस चलाते हुए उन्हें टक्कर मार दी और टक्कर मारने के बाद घटनास्थल से फरार हो गया. इस पूरी घटना की जानकारी सामने आने के बाद सिटी कोतवाली पुलिस ने मैनपुर थाना से संपर्क कर मां शारदा ट्रेवल्स की बस क्रमांक सीजी 23 एच 1541 के दुर्घटना करने के बाद मैनपुर की ओर जाने की जानकारी दी. 

ये भी पढ़ें राधारानी से नाक रगड़कर माफ़ी मांगने वाले पं. प्रदीप मिश्रा... जानें कैसे बने इतने प्रसिद्ध कथावाचक?

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
ट्रंप पर चली गोलियां, बाल-बाल बची जान, बाइडेन बोले -हिंसा के लिए... 
Chhattisgarh: एक्सीडेंट में पिता घायल, खुद के सिर-पैर में लगे टांके, फिर भी परीक्षा देने पहुंच गई छात्रा
Doctors in Balrampur do fake surgery of woman for piles without any authenticity
Next Article
Chhattisgarh News: यहां है झोलाछाप डॉक्टरों का बोलबाला! इलाज के नाम पर लोगों की जिंदगी से हो रहा खिलवाड़
Close
;