विज्ञापन
Story ProgressBack

यह कैसी दबंगई! खदान के पास खाली पड़ी जमीन पर ट्रक खड़े करने के देने पड़ रहे पैसे.. जानें क्या है मामला?

Chhattisgarh: कोयलांचल सूरजपुर में कोयले की खदान हजारों लोगों के लिए रोजगार का अहम स्त्रोत है..लेकिन, इन कोयला खदानों पर अवैध लोगों की निगाहें भी टिकी रहती है.. ऐसा ही कुछ हुआ है एसईसीएल विश्रामपुर के गायत्री भूमिगत कोयला खदान में. आइए आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला..

Read Time: 3 mins
यह कैसी दबंगई! खदान के पास खाली पड़ी जमीन पर ट्रक खड़े करने के देने पड़ रहे पैसे.. जानें क्या है मामला?
खाली पड़ी जमीन पर पार्किंग के लिए देना पड़ रहा है अवैध टैक्स

Illegal Tax in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के सूरजपुर (Surajpur) जिले के गेतरा स्थित गायत्री भूमिगत कोल माइंस (Gayatri Coal Mines) से रोजाना सैकड़ों ट्रक कोयले का परिवहन होता है. इस कोल माइंस (Coal Mines) के आसपास वन भूमि की खाली पड़ी जमीन है. लेकिन, इस जमीन की आड़ में गेतरा गांव के सरपंच और दो दर्जन लोग अवैध पार्किंग  (Illegal Parking) बनाकर प्रति ट्रक 100 रुपए सुरक्षा के नाम पर वसूल रहे हैं. ऐसे में रोजाना लगभग 100 से ज्यादा ट्रक कोयला परिवहन (Coal Transport) करती है जिससे यहां हर महीने तीन लाख रूपए से ज्यादा की अवैध वसूली होती हैं. इतना ही नहीं, जो ड्राइवर पैसा नहीं देता उसकी बेदम पिटाई भी की जा रही हैं. पंचायत सरपंच से लेकर उनके गुर्गों के द्वारा किसी प्रकार का न तो प्रशासन से और न ही वन विभाग से अनुमति ली गई है.

ट्रक ड्राइवरों को हो रही परेशानी

खदान में पार्किंग के लिए जहां एक तरफ ट्रक मालिक से लेकर ड्राइवर तक बेहद परेशान हैं, वहीं पंचायत सरपंच की दलील है की ट्रकों की पार्किंग और सुरक्षा के नाम पर एक महीने में होने वाले तीन लाख से ज्यादा की इनकम को गांव के काम में ही लगाया जाता है. लेकिन, हैरानी की बात ये है कि गांव वालों को इसकी भनक तक नहीं है. मामले में ड्राइवरों का कहना है कि पार्किंग स्थल से आए दिन चोरी होती है. पार्किंग के नाम पर अवैध वसूली करने साथ उनके साथ मारपीट भी की जाती हैं.

Latest and Breaking News on NDTV

खदान के सुरक्षा कर्मी बने मूक दर्शक

गांव वालों की दादागिरी ऐस चरम पर पहुंच गई है कि कोल माइंस कंपनी के सुरक्षा कर्मियों ने टोल गेट पर ही अपना डेरा जमा लिए हैं. कंपनी के सुरक्षा कर्मी खुद पूरे मामले से परेशान और लाचार हैं. अवैध वसूली को रोकने के लिए ना तो एसईसीएल कंपनी का कोई जिम्मेदार सामने आता है और न ही प्रशासनिक जिम्मेदार अधिकारी यहां आते हैं.

Illegal Parking Tax in Mines

Illegal Parking Tax in Mines

ये भी पढ़ें :- शर्मनाक! इटली की टूरिस्ट से MP में फ्रॉड, दोस्ती कर खजुराहों में पार की विदेशी मुद्रा यूरो, ये रही कहानी

पंचायत सीईओ ने कही ये बात

पूरे मामले की जानकारी जिले के पंचायत सीईओ को लगने के बाद जांच कर कार्रवाई करने की बात की. साथ ही,पंचायत के नाम पर होने वाली लाखों की वसूली सुन हैरत में पड़ गई जिसकी भी जांच करने का दावा किया. बहरहाल,रोजाना कोल परिवहन में लगे ट्रक चालकों की परेशानी को दूर करने और तथाकथित गेतरा पंचायत के अवैध वसूली कर्ताओं के खिलाफ कौन जिम्मेदार पहल करता है, यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा..

ये भी पढ़ें :- LPG Price Cut: MP में सस्ता हो गया LPG गैस सिलेंडर, 25 रुपये तक घटे दाम... यहां देखें नए रेट

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Parliament Session: 18वीं लोकसभा का आगाज आज, प्रोटेम स्पीकर दिलाएंगे सांसदों को शपथ, विपक्ष रहेगा हमलावर
यह कैसी दबंगई! खदान के पास खाली पड़ी जमीन पर ट्रक खड़े करने के देने पड़ रहे पैसे.. जानें क्या है मामला?
Cabinet expansion postponed in Chhattisgarh, CM Vishnu Deo Sai, who returned from Delhi, said, we will have to wait now...
Next Article
Cabinet expansion: छत्तीसगढ़ में टला मंत्रिमंडल विस्तार, सीएम विष्णु देव साय बोले, अभी करना होगा इंतजार...
Close
;