विज्ञापन
Story ProgressBack

लापरवाही: कोरोना से मरने वालों के शव रखकर भूला प्रशासन, कंकाल में तब्दील हुई लाशें, अब किया अंतिम संस्कार

Covid Dead Body in Raipur: साल 2020 के कोरोना के पहले चरण में तीन लोगों की जान गई थी. उनके शव अभी तक अस्पताल में पड़े-पड़े कंकाल बन गए. इसके बाद इन शवों का अंतिम संस्कार किया गया.

Read Time: 3 mins
लापरवाही: कोरोना से मरने वालों के शव रखकर भूला प्रशासन, कंकाल में तब्दील हुई लाशें, अब किया अंतिम संस्कार
Covid Dead Body Cremation in Raipur

Raipur News: कोरोना काल (Covid 19) को गए हुए तो लगभग तीन साल हो गए है, लेकिन इससे जुड़ा ताजा मामला फिर सामने आया है. जी हां, छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) से एक अनोखा और हैरान करने वाला मामला सामने आया. यहां कोरोना के पहले दौर में मृत (Covid 19 Death) तीन लोगों के शव का अब अंतिम संस्कार (Cremation) किया गया. इन सबका शव रायपुर के मेकहारा अस्पताल में तब से लेकर अब तक पड़ा रहा और कंकाल में तब्दील हो गया. इसकी खबर सामने आने के बाद और कलेक्टर डॉ. गौरव सिंह के निर्देश पर कोविड-19 से मरने वाले इन लोगों का अंतिम संस्कार हुआ.

किसी ने शवों की नहीं ली सुध

कोरोना से मरने वाले जिन तीन शवों का अंतिम संस्कार शनिवार को किया गया, वह रायपुर के मेकाहारा हॉस्पिटल में लावारिस हालत में पड़े हुए थे. पहले दौर में ही इनकी जान गई थी और तब से अब तक इनकी किसी ने सुध नहीं ली. मामले को लेकर यहां रहने वाले लोगों का कहना है कि मीडिया में खबर आने के बाद प्रशासन एक्शन में आई और शवों का अंतिम संस्कार किया गया. बल्कि, अंतिम संस्कार शवों की जगह उनके कंकाल का किया गया.

इस वजह से नहीं हुआ था अंतिम संस्कार

रायपुर के मेकाहारा हॉस्पिटल में पिछले लगभग साढ़े 3 साल से कोरोना से मृत इन शवों को पीपीई कीट में बंद करके रखा गया था. बता दें कि यह अस्पताल राज्य के सबसे बड़े सरकारी अस्पतालों में से एक है. यहां रोजाना बहुत सारे मरीज इलाज के लिए भी आते हैं. ऐसे में उनके स्वास्थ्य के साथ भी लापरवाही हो रही थी. अंतिम संस्कार के समय इन शवों की हालत इतनी खराब थी कि इनके बारे में यह भी पता लगा पाना मुश्किल हो गया कि किस जेंडर के शव हैं.

नहीं हुआ था पोस्टमार्टम

कोरोना के दौरान मौत होने के कारण इन शवों के अंतिम संस्कार के समय तक भी इनका पोस्टमार्टम नहीं किया गया. जब अधिकारियों से इस संबंध में सवाल किए गए तो उनका कहना था कि शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए जिला कलेक्टर ने निर्देश नहीं दिए थे. उनका निर्देश आने के बाद ही शवों का अंतिम संस्कार किया गया.

ये भी पढ़ें :- World Veterinary Day: 20 बाघों को रेस्क्यू कर दे चुके हैं नई जिंदगी, जानिए कौन हैं यह जानवरों के मसीहा

कलेक्टर के निर्देश पर मृतकों का अंतिम संस्कार

जिला कलेक्टर डॉ. गौरव सिंह के निर्देश पर कोविड-19 से तीन मृतकों का देवेंद्र नगर मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया गया. इससे पहले मृतकों के परिजनों की सहमति भी ली गई, फिर अंतिम संस्कार की प्रक्रिया की गई. अंतिम संस्कार कोविड-19 के गाइड लाइन का पालन करते हुए किया गया. इस दौरान जिला प्रशासन, नगर निगम, मेकाहारा, पुलिस विभाग की टीम उपस्थित रही.

ये भी पढ़ें :- Accident: पशुपतिनाथ के दर्शन करने नेपाल जा रहे थे श्रद्धालु, खड़े ट्रक के नीचे घुसी कार, दर्शन से पहले रास्ते में ही तीन की मौत

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
सीएम के गृहजिले में मनचले की धुनाई, सगी बहनों को छेड़ा तो बहादुर बेटियों ने सीखा दिया बड़ा सबक, Video Viral
लापरवाही: कोरोना से मरने वालों के शव रखकर भूला प्रशासन, कंकाल में तब्दील हुई लाशें, अब किया अंतिम संस्कार
Scorching Heat and Water Crisis Chirmiri Residents Desperate for Clean Drinking Water
Next Article
तपती गर्मी , पानी की किल्लत ! पेयजल की एक-एक बूंद को मोहताज हुए लोग
Close
;