विज्ञापन
Story ProgressBack

सरगुजा में अफ्रीकी बोअर नस्ल के सीमेन का आयात, बकरी पालन को मिलेगा बढ़ावा

Goat Farming in Chhattisgarh : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सरगुजा (Surguja) जिले में आर्थिक रूप से कमजोर ग्रामीणों के लिए एक अहम कदम उठाया गया है. पशुपालन विभाग ने अफ्रीकी बोअर नस्ल के सीमेन का आयात किया है.

Read Time: 2 mins
सरगुजा में अफ्रीकी बोअर नस्ल के सीमेन का आयात, बकरी पालन को मिलेगा बढ़ावा
सरगुजा में अफ्रीकी बोअर नस्ल के वीर्य का आयात, बकरी पालन को मिलेगा बढ़ावा

Chhattisgarh News in Hindi : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सरगुजा (Surguja) जिले में आर्थिक रूप से कमजोर ग्रामीणों के लिए एक अहम कदम उठाया गया है. पशुपालन विभाग ने अफ्रीकी बोअर नस्ल के सीमेन का आयात किया है, जिससे यहां के आदिवासी क्षेत्रों में बकरी प्रजनन और उत्पादकता को बढ़ावा मिलेगा. पशुपालन विभाग के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. चंदू मिश्रा ने बताया कि अफ्रीकी बोअर नस्ल की बकरियां मजबूत होती हैं और तेजी से बढ़ती हैं. इस कदम से सरगुजा में बकरी पालन में क्रांति की उम्मीद है और किसानों की आय दुगनी होने का अनुमान है.

कैसे मिलेगा ज़्यादा मुनाफा ?

दरअसल, सरगुजा की जलवायु इन बकरियों के लिए काफी अच्छी है, जिससे किसानों को ज़्यादा मांस उत्पादन और बेहतर मुनाफा मिलेगा. विभाग ने विशेषज्ञों के परामर्श और स्थानीय जलवायु को ध्यान में रखते हुए यह वीर्य की खरीदी शुरू की गई है. इसका मकसद जिले के किसानों को इसे अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना है.

जानिए बकरियों की खासियत

सरगुजा के आदिवासी किसान कृषि के साथ-साथ बकरी पालन में भी रुचि दिखाते हैं. राज्य सरकार ने जिला प्रशासन की पहल पर यह निर्णय लिया है, जिससे किसानों में काफी उत्साह है. अफ्रीकी बोअर नस्ल की बकरियां 80 से 100 किलोग्राम तक वजन की हो जाती हैं और इनकी मादा बकरियां दो से तीन बच्चे देती हैं. इसके साथ ही ये बकरियां दो से तीन लीटर दूध भी देती हैं.

ये भी पढ़ें : 

MP में गोवंश के अवैध परिवहन पर CM यादव ने सुनाया बड़ा फैसला

जिला स्तर पर कवायद तेज़

पशुपालन विभाग ने बकरियों में कृत्रिम गर्भाधान के लिए 7800 सीमेन मंगाए हैं, जिसमें जमुनापारी, सिरोही, बारबरी के साथ विदेशी नस्ल अफ्रीकन बोअर का सीमेन भी शामिल है. सीमेन की उपलब्धता उत्तराखंड लाइव स्टॉक डेवलपमेंट बोर्ड ऋषिकेश की तरफ से सुनिश्चित की गई है और इसके लिए राशि कलेक्टर सरगुजा की तरफ से स्वीकृत की गई है.

ये भी पढ़ें : 

गोवंशों के शवों से पटा सिवनी का ये जंगल, छानबीन के बाद जांच में जुटी पुलिस

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
 छत्तीसगढ़: यहां कुत्ते को फांसी देने के बाद अब गाभिन गाय के पेट में मारी गई चाकू, इनके उड़े होश
सरगुजा में अफ्रीकी बोअर नस्ल के सीमेन का आयात, बकरी पालन को मिलेगा बढ़ावा
Breast Cancer Swedish researchers create tool to predict nerve damage in breast cancer treatment - good news for cancer patients
Next Article
Breast Cancer मरीजों के लिए अच्छी खबर, शोधकर्ताओं ने नर्व डैमेज का पूर्वानुमान लगाने वाले उपकरण बनाए
Close
;