विज्ञापन
Story ProgressBack

कैश खत्म! बैंकों के आगे लगीं लंबी-लंबी कतारें, किसानों को एक बार में मिल रहे सिर्फ 10 हजार रुपए

किसानों का कहना है कि खड़गवां में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक का एटीएम नहीं है. जबकि बचरा पोड़ी में एक एटीएम लगाया गया है. यदि खड़गवां शाखा में भी एटीएम लगाया जाए तो भीड़ कुछ कम हो जाएगी.

Read Time: 3 min
कैश खत्म! बैंकों के आगे लगीं लंबी-लंबी कतारें, किसानों को एक बार में मिल रहे सिर्फ 10 हजार रुपए
कोरिया जिले की बैंकों में कैश खत्म

Banks in Korea: सहकारी बैंकों में कैश की कमी से किसान परेशान हैं. खड़गवां में किसानों को एक बार में 10 हजार रुपए का भुगतान किया जा रहा है. सहकारी बैंक की शाखाओं में अलग-अलग समितियों के लिए हफ्ते में दिन निर्धारित हैं फिर भी बैंकों में किसानों भीड़ हो रही है. किसान सुबह 9 बजे से बैंक के बाहर लाइन लगा रहे हैं. धान बिक्री का रुपए निकालने के लिए बैकुंठपुर, चिरमिरी, मनेन्द्रगढ़, खड़गवां सभी जगह किसानों की भीड़ है. 

बता दें कि जिले के सहकारी केंद्रीय बैंकों में 25 जनवरी से किसानों की लंबी लाइन देखने को मिल रही है. कोरिया जिले की बैकुंठपुर शाखा व खड़गवां विकासखण्ड में नगर निगम क्षेत्र चिरमिरी, खड़गवां में बैंक की दोनों शाखाओं में यही स्थिति है. खड़गवां ब्रांच को खुले 4 साल हो गए हैं पर जो स्थिति चिरमिरी में थी, उतनी ही भीड़ यहां भी देखने को मिल रही है. सप्ताह में सभी 6 दिन अलग-अलग समिति क्षेत्र के लिए तय हैं. बावजूद बैंक में रुपए निकालने के लिए किसानों की भीड़ रहती है.

यह भी पढ़ें : PM मोदी ने झाबुआ को दी 7,550 करोड़ की सौगात, इन विकास परियोजनाओं का किया उद्घाटन व शिलान्यास

1 लाख रुपए निकालने के लिए 10 बार लाइन में लगना होगा

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक में किसान या खाताधारक की नहीं चलती बल्कि बैंक जो लिमिट तय कर देता है उतना ही नकद रुपया लाइन लगकर किसान निकासी कर पाते हैं. गुरुवार, शुक्रवार को किसान सुबह से लाइन में खड़े रहे लेकिन बैंक से उन्हें 10 हजार रुपए नकद ही दिया गया. किसी किसान के खाते में 1 लाख रुपए है, तो उसे 10-10 हजार करके 10 बार लाइन में लगना होगा. बैंक प्रबंधक का कहना है कि चेस्ट ब्रांच से नकदी की व्यवस्था न होने के कारण 10 हजार रुपए दिया जाता है. किसानों को एटीएम कार्ड, चेक बुक नहीं दिए गए हैं.

एटीएम लगने से कम होगी भीड़

किसानों का कहना है कि खड़गवां में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक का एटीएम नहीं है. जबकि बचरा पोड़ी में एक एटीएम लगाया गया है. यदि खड़गवां शाखा में भी एटीएम लगाया जाए तो भीड़ कुछ कम हो जाएगी. प्रदेश सरकार ने कोरिया जिले में धान खरीदी पर 19 हजार 654 किसानों के खातों में 271 करोड़ 27 लाख 11 हजार 935 रुपए का भुगतान किया है, जिसमें करीब 50 करोड़ 39 लाख 40 हजार रुपए ऋण वसूली की गई है. यानी किसानों के खातों में 220 करोड़ 87 लाख 71 हजार रुपए दिया गया है.

यह भी पढ़ें : करोड़ों साल पहले समुद्र के नीचे था छत्तीसगढ़, आज भी मौजूद हैं साक्ष्य, बनेगा एशिया का सबसे बड़ा फॉसिल्स पार्क

जल्द किसानों को दिया जाएगा एटीएम

इसी तरह एमसीबी जिले के 14 हजार 676 किसानों के खातों में 188 करोड़ 92 लाख 37 हजार 182 रुपए का भुगतान किया जिसमें 25 करोड़ 53 लाख 12 हजार 377 रुपए ऋण वसूली हुई है यानी किसानों के खाते में करीब 163 करोड़ 39 लाख 24 हजार रुपए हैं जिसे निकालने के लिए भीड़ उमड़ रही है. मामले में खड़गवां शाखा प्रबंधक धर्मेंद्र शर्मा का कहना है कि नकदी की कमी के कारण किसानों को कम भुगतान दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि किसानों को एटीएम देने की तैयारी है. जल्द ही खड़गवां में एटीएम शुरू हो जाएगा जिससे व्यवस्था ठीक हो जाएगी.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close