विज्ञापन
Story ProgressBack

Women's Day Special: ट्रेनी IPS ने अनूठे ढंग से मनाया महिला दिवस, घूंघट वाली महिलाओं से चलवाया ट्रैक्टर

Women's Day in Gwalior: ग्वालियर में महिला दिवस के मौके पर एक ट्रेनी आईपीएस ने अनोखे ढंग से कार्यक्रम का आयोजन किया. इसमें गांव की घूंघट लेने वाली महिलाओं से खेती कराकर उन्हें घर से बाहर निकलने और काम करने के लिए प्रेरित किया गया.

Read Time: 3 min
Women's Day Special: ट्रेनी IPS ने अनूठे ढंग से मनाया महिला दिवस, घूंघट वाली महिलाओं से चलवाया ट्रैक्टर
ग्वालियर में देखने को मिला अनोखे ढंग का महिला दिवस समारोह

Gwalior News: 8 मार्च को पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) मनाया गया. ग्वालियर में पुलिस अधीक्षक (SP) की पहल पर एक ट्रेनी आईपीएस (Trainee IPS) ने इस मौके पर अनूठा कार्यक्रम किया. उन्होंने गांव में घूंघट में रहने वाली महिलाओं के साथ ट्रैक्टर (Tractor) से खेतों में जुताई और बुवाई करने की प्रतियोगिता आयोजित की. इससे घर के अंदर कैद रहने वाली महिलाओं को बाहर आकर पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने और काम करने के लिए प्रेरित किया गया.

ट्रेनी आईपीएस की अनूठी पहल

पुलिस अधीक्षक राजेश चंदेल के मार्गदर्शन में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर ग्वालियर पुलिस की ओर से ट्रेनी आईपीएस अनु बेनीवाल और एसडीओपी बेहट संतोष पटेल ने रतवाई गांव में अनोखी प्रतियोगिता का आयोजन किया. इसमें उनके द्वारा महिलाओं को ट्रैक्टर चलाने की ट्रेनिंग दिलाई गई और फिर महिला दिवस पर ट्रैक्टर चलाने की प्रतियोगिता आयोजित की गई. जिसमें साड़ी पहने महिलाओं ने पूरे उत्साह के साथ बढ़-चढ़कर भाग लिया.

एसपी ने खुद किया सबका सम्मान

प्रशिक्षण और प्रतियोगिता के सकारात्मक परिणाम को देखते हुए खुद पुलिस अधीक्षक रतवाई गांव पहुंचे और वहां ट्रैक्टर चलाने वाली माताओं, बहनों और बेटियों का सम्मान किया. इसके साथ ही महिलाओं को पुरुषों की बराबरी करने के लिए प्रेरित भी किया. कमलेश जाट गांव की बुआ ने बताया कि उसने जिंदगी में बेलन-हंसिया के अलावा स्टेयरिंग कभी नहीं पकड़ा था. आज ट्रैक्टर से जुताई करके बहुत अच्छा लगा

ये भी पढ़ें :- छत्तीसगढ़ कांग्रेस के बड़े नेताओं ने चुनाव लड़ने को भरी हामी...आधी सीटों पर नए चेहरे उतारेगी पार्टी

नई बहुओं ने भी की हिस्सेदारी

नई बहुओं ने भी आईपीएस अनु बेनिवाल के साथ जुताई की और कहा कि हम बेलन के साथ ट्रैक्टर भी जरूर चलाएंगे. गांव की एक बच्ची अंबिका ने कहा कि वो पत्रकार बनना चाहती है, लेकिन शुरुआती दौर में उसकी डायरी भाई ने फाड़ दी, यह कहकर कि ये काम आपका नहीं है. आज वही भाई पुलिस के साथ मुझे ट्रैक्टर चलाने को कह रहा था.

ये भी पढ़ें :- Harda Factory Blast: भूख हड़ताल पर बैठे पीड़ितों से मिले दिग्विजय सिंह, CM से बात कर मुआवजे का दिलाया आश्वासन

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close