विज्ञापन
Story ProgressBack

Tikamgarh: कलेक्ट्रेट पहुंचे किसान ने जहर खाकर की खुदखुशी की कोशिश, पत्नी बोलीं- तहसीलदार... 

MP News Today : अपना काम करवाने दफ्तरों के चक्कर काट थक चुके एक किसान ने मौत को गले लगाने का प्रयास किया है. कलेक्ट्रट पहुंचकर उसने जहर खा लिया। हालांकि समय पर अस्पताल ले जाने से उसकी जान बच गई. 

Read Time: 3 min
Tikamgarh: कलेक्ट्रेट पहुंचे किसान ने जहर खाकर की खुदखुशी की कोशिश, पत्नी बोलीं- तहसीलदार... 

Farmer attempted suicide: मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ (Tikamgarh) जिले के किसान ने जहर खाकर खुदखुशी (suicide) करने का प्रयास किया है. इसकी सूचना अजब पुलिस को मिली तो पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया. समय पर इलाज मिलने से उसकी जान बच गई है. बताया जा रहा है कि किसान अपने प्लाट के नामान्तरण कराने को लेकर काफी परेशान था. वह कई दिनों से दफ्तरों के चक्कर काट रहा था. किसान की पत्नी ने तहसीलदार पर भी कई आरोप लगाए हैं. इधर पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है. 

हालत में सुधार बताया जा रहा

टीकमगढ शहर के पुरानी टिहरी के रहने वाले सचिन्द्र साल काफी दिनों से अपने प्लाट के नामान्तरण को लेकर तहसील ऑफिस के चक्कर काट रहा था. लेकिन, नामांतरण नहीं हुआ. इससे परेशान होकर किसान ने खुदकुशी (suicide) करने की ठान ली.  वह बुधवार को जब कलेक्ट्रट पहुंचा, तो उसके पास चूहा मारने की दवा थी. उसने कलेक्ट्रेट पहुंचकर चूहा मारने की दवा खा ली. इसके बाद उसकी हालत बिगड़ने लगी और उसे उल्टियां होने लगी. घटना की खबर लगते ही देहात थाना पुलिस ने उसको जिला अस्पताल में भर्ती करवाया. जहां पर अब उसकी हालत में सुधार बताया जा रहा है.

ये भी पढ़ें Amit Shah on CAA-NRC: CAA पर अमित शाह की दो टूक, कभी वापस नहीं होगा यह कानून

किसान की पत्नी ने भी लगाए आरोप 

इधर, किसान की पत्नी ने भी तहसीलदार पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. किसान की पत्नी राधा कुशवाहा ने कहा कि सचेन्द्र नामांतरण को लेकर काफी परेशान था. उसकी जमीन पर लोग कब्जा किए हुए हैं और वह हमारी जमीन नहीं छोड़ रहे हैं. एक एकड़ जमीन पर कब्जा किया हुआ है, जिससे काफी परेशान हैं. प्लाट के नामांतरण के लिए बार-बार दफ्तर जा रहा था, लेकिन तहसीलदार एक भी नहीं सुन रहे थे. इस पूरी घटना के बाद अफसरों में हड़कम्प मचा हुआ है. नामान्तरण के लिए किसान के पास पर्याप्त दस्तावेज थे या नहीं? और यदि नहीं थे, तो नामान्तरण कैसे होता? यदि पूरे दस्तावेज थे, तो फिर क्या कमी थी?  इस पूरे एंगल से जांच चल रही है. इधर, टीकमगढ़ जिले के SDM कौशल सरल का कहना है कि जिस व्यक्ति ने जहर खाया है, उसके पिता ने सारी जमीन बेच दी थी. शिकायतकर्ता का कोई भी मामला तहसील में लंबित नहीं है. 

ये भी पढ़ें मध्य प्रदेश में मोहन सरकार आज शुरू करेगी 'धार्मिक पर्यटन हेली सेवा', जानिए- क्या है ये सुविध
 

                                                                        

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close