विज्ञापन
Story ProgressBack

Scam: 93 लाख के गेहूं घोटाले में समूह अध्यक्ष का मास्टर माइंड हुआ गिरफ्तार, ऐसे करते थे गोलमाल

MP Wheat Scam: सतना के धारकुंडी थाना में आठ लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज है. इन लोगों पर गेहूं के 13 ट्रक, जिनकी किमत लगभग 93 लाख होगी, को गायब करने का आरोप है. 

Read Time: 3 mins
Scam: 93 लाख के गेहूं घोटाले में समूह अध्यक्ष का मास्टर माइंड हुआ गिरफ्तार, ऐसे करते थे गोलमाल
पुलिस ने किया गेहूं ट्रक चोरी के मामले में मास्टरमाइंड को गिरफ्तार

Satna News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सतना (Satna) जिले में जैतमाल बाबा महिला स्वसहायता समूह द्वारा चले गेहूं से लोड 13 ट्रक (कीमत 93 लाख रुपए) गायब होने के बहुचर्चित मामले में अब गिरफ्तारियों का दौर शुरू हो गया. शुक्रवार को पुलिस (Police) ने मामले के मास्टर माइंड (Master Mind) समूह अध्यक्ष के देवर शिवा सिंह को गिरफ्तार कर लिया. माना जा रहा है कि जल्द ही अब अन्य आरोपियों को भी पकड़कर उनके ऊपर जरूरी कार्रवाई की जाएगी. ज्ञात हो कि धारकुंडी थाने में समूह की अध्यक्ष, दलाल, ट्रांसपोर्टर , तीन ऑपरेटर सहित कुल आठ लोगों पर नामजद प्रकरण दर्ज है.

आरोपियों में समूह की अध्यक्ष सीतागिरी, समूह ऑपरेटर अभिलाषा सिंह और समिति के दलाल शिवा सिंह तथा परिवहनकर्ता के मैनेजर सम्राट सिंह, नागरिक आपूर्ति निगम के ऑपरेटर नरेन्द्र पाण्डेय और धनंजय द्विवेदी तथा सतीश कुमार द्विवेदी और राकेश सिंह के विरुद्घ FIR नामजद दर्ज है.

क्या था मामला

जैतमाला बाबा समूह के द्वारा 8 मई को आठ ट्रक और 13 मई को पांच ट्रक लोड कर भण्डारण के लिए लखनवाह के यूनिट क्रमांक 2 गोदाम भेजा गया था. आठ ट्रकों में कुल 2360 क्विंटल और पांच ट्रकों में 15 सौ क्विंटल अनाज भेजा गया. इन्हीं ट्रकों की टीसी डायवर्ट कर रेलवे रैक प्वाइंट दिखाया गया था और फर्जी तरीके से किसानों के नाम पर भुगतान कर दिया गया. जांच अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि 13 ट्रकों की बिल्टी नहीं बनाई गई. जबकि, उक्त ट्रकों की बिल्टी परिवहनकर्ता की लॉगिन आईडी हैक कर आरोपियों द्वारा बनाई गई थी. 

ये भी पढ़ें :- Murder Case: सबूतों के अभाव में बरी हुए दो आरोपी, अम्बिकापुर कोर्ट ने सुनाई दो को आजीवन कारावास की सजा

अन्य आरोपियों की तलाश

धारकुंडी थाना प्रभारी अभिषेक पाण्डेय ने बताया कि इस मामले के अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है. प्रकरण कायम होने के लगभग 39 दिन बाद पुलिस ने पहली गिरफ्तारी की. जबकि, सात अन्य आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है. पूर्व डीएसओ नागेन्द्र सिंह को इसी केस के संबंधन में निलंबित किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें :- MP News: अवैध उत्खनन से नाराज ग्रामीणों ने बीच सड़क पर रुकवा दिए डंपर, आगे क्या हुआ जानिए...

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Spark Award: पीएम स्ट्रीट वेंडर योजना में मध्य प्रदेश पहले स्थान पर, आज दिल्ली में मिलेगा सम्मान
Scam: 93 लाख के गेहूं घोटाले में समूह अध्यक्ष का मास्टर माइंड हुआ गिरफ्तार, ऐसे करते थे गोलमाल
Mumbai Interactive session on investment opportunities in Madhya Pradesh CM Mohan Yadav will meet one-to-one with industrial representatives
Next Article
MP में निवेश बढ़ाने के लिए CM मोहन यादव कल जाएंगे मुंबई, इंटरेक्टिव सेशन में इनसे करेंगे बात
Close
;