विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 26, 2023

भिंड : एक करोड़ 12 लाख रुपए हजम कर गए शिक्षा विभाग के अधिकारी, FIR के बाद आरोपी फरार

शिक्षा विभाग के पूर्व अधिकारी अंजन कुमार श्रीवास्तव ने मृत और स्थानांतरित कर्मचारियो के यूनिक कोड के आधार पर हाउस रेंट अलाउंस (HNA) के एक करोड़ 12 लाख रुपए अपने परिजनों और रिश्तेदारों के खाते में ट्रांसफर कर लिए. FIR होने के बाद आरोपी फरार हैं

Read Time: 3 mins
भिंड : एक करोड़ 12 लाख रुपए हजम कर गए शिक्षा विभाग के अधिकारी, FIR के बाद आरोपी फरार
एक करोड़ 12 लाख के घोटाले के बाद पुलिस ने कई धाराओं में भ्रष्टाचारियों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है. आरोपी एफआईआर के बाद फरार हो गए हैं
भिंड:

भिंड : मध्य प्रदेश के भिंड जिले के शिक्षा विभाग में एक बड़ा घोटाला सामने आया है. यह घोटाला एक ऑडिट रिपोर्ट में उजागर हुआ है. शिक्षा विभाग के लोगों ने मिलकर मृत और स्थानांतरित कर्मचारियों के यूनिक कोड का इस्तेमाल कर उनके हाउस रेंट अलाउंस (HNA) का करीब एक करोड़ 12 लाख रुपए अपने परिजनों के खाते में ट्रांसफर कर लिया.

घोटाला सामने आने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी हरिभुवन सिंह तोमर ने सिटी कोतवाली में एक तत्कालीन बीईओ, दो प्राचार्य, एक लेखपाल और दो बाबू सहित 6 लोगों पर मामला दर्ज कराया है. मामला दर्ज होने के बाद सभी कर्मचारी फरार बताए गए हैं. 

कोष और लेखा अधिकारी को मिली थी शिकायत

दरअसल ग्वालियर के संयुक्त संचालक के कोष एवं लेखा अधिकारी को घोटाले की शिकायत मिली थी. इस शिकायत के आधार पर जांच दल गठित कर मामले की जांच कराई गई, जिसमें पाया गया कि भिंड ब्लॉक के शिक्षा विभाग के पूर्व अधिकारी अंजन वाजपेयी ने यह पूरी गड़बड़ी की है. इस मामले में अंजन वाजपेयी के साथ शिक्षा विभाग के कई और अधिकारी और कर्मचारी भी शामिल रहे हैं.

12tiu4so

आरोपियों ने एक करोड़ 12 लाख रूपये अपने परिजनों के खातेमें ट्रांसफर कर लिए. FIR के बाद सभी आरोपी फरार हैं

एक करोड़ 12 लाख रुपए का है घपला

जांच में पता चला कि अंजन कुमार श्रीवास्तव ने मृत और स्थानांतरित कर्मचारियो के यूनिक कोड के आधार पर हाउस रेंट अलाउंस (HNA) के एक करोड़ 12 लाख रुपए अपने परिजनों और रिश्तेदारों के खाते में ट्रांसफर कर लिए. यह राशि 28 मई 2018 से लेकर 2023 के बीच ट्रांसफर की गई है. इस पर कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव के आदेश पर जिला शिक्षा अधिकारी हरिभवन सिंह तोमर ने शहर के सिटी कोतवाली पहुंचकर 6 आरोपियों के खिलाफ शिकायती पत्र दिया है.

ये भी पढ़ें : भिंड में कांग्रेस पर बरसें केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, कार्यकर्ताओं को दिए जीत के मंत्र

और नाम भी आ सकते हैं सामने

पुलिस ने तत्कालीन बीईओ, दो प्राचार्य एक लेखपाल और दो बाबुओं के खिलाफ IPC की धारा 409, 420, 467, 468, 471, 120बी और IT एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. FIR के बाद सभी आरोपी स्कूल से फरार हो गए हैं. हालांकि घोटाले का खुलासा होने के बाद कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव का कहना है कि इस मामले में और भी आरोपियों के नाम सामने आ सकते हैं जिनके भी नाम सामने आएंगे उनके खिलाफ भी उचित कार्रवाई की जाएगी.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Invest MP: मुंबई में CM मोहन ने उद्योगपतियों से की वन टू वन चर्चा, कहा- संभावनाएं हैं अपार निवेश होगा शानदार
भिंड : एक करोड़ 12 लाख रुपए हजम कर गए शिक्षा विभाग के अधिकारी, FIR के बाद आरोपी फरार
Inflation Kitchen budget spoiled due to increase in prices of vegetables these are prices in Dewas Mandi
Next Article
Inflation: एमपी में आसमान में पहुंचे सब्जियों के दाम, बिगड़ रहा रसोई बजट!
Close
;