विज्ञापन
Story ProgressBack

MP Cabinet Meeting: मोहन कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसला, अब विधायकों और सांसदों को खुद भरना होगा अपना टैक्स

CM Mohan Yadav: सीएम डॉ. मोहन यादव ने प्रदेश के आला अधिकारियों के साथ अहम बैठक की. इसमें एमपी विधानसभा में हाल ही में पेश किए गए कई विधेयकों को लेकर चर्चा हुई और कई को मंजूरी भी दी गई.

Read Time: 3 mins
MP Cabinet Meeting: मोहन कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसला, अब विधायकों और सांसदों को खुद भरना होगा अपना टैक्स
CM Mohan Yadav Cabinet Meeting

Madhya Pradesh New Rules: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव (Dr. Mohan Yadav) ने रविवार, 1 जुलाई को अपने विधानसभा कैबिनेट (Vidhan Sabha Cabinet) के साथ अहम बैठक की. इसमें सीएम ने कई बड़े नियमों को मंजूरी दी और कुछ पुराने नियमों में बदलाव भी किए गए. इसमें सबसे खास नियम मंत्रियों के टैक्स (Minsiters Pay Tax) भरने से जुड़ा है. अब हर मंत्री को अपना टैक्स सरकार को खुद ही भरना होगा, इसमें सरकार की तरफ से कोई मदद नहीं दी जाएगी. इसके अलावा, अब प्रदेश के सभी कुलपतियों को कुलगुरु (Kulguru) के नाम से जाना जाएगा. आइए आपको बताते हैं कि सरकार ने किन नियमों को लागू किया है और किन नियमों में बदलाव किए गए है. 

एनेक्सी वीबी-1 के रिनोवेशन के लिए 107 करोड़ रुपये पास

सीएम डॉ. मोहन यादव की अध्यक्षता में विधानसभा में कैबिनेट की बैठक हुई. इसमें सबसे पहले 107 करोड़ रुपये मंत्रालय की एनेक्सी वीबी-1 के रिनोवेशन के लिए पास किए गए. इसके बाद विधानसभा में पेश होने वाले विधेयकों का भी अनुमोदन किया गया और कई विधेयकों को पास किया गया. 

इन विधेयकों में मप्र मंत्री वेतन एवं भत्ता संशोधन विधेयक 2024, मप्र माल एवं सेवा कर द्वितीय संशोधन विधेयक 2024 और मप्र खुले नलकूप में इंसानों के गिरने से होने वाली दुर्घटनाओं की रोकथाम विधेयक 2024 शामिल है. गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम में गोवध के लिए ले जाए जा रहे वाहनों के अधिग्रहण में किए जा रहे बदलाव के अधिनियम का अनुमोदन किया गया.

कुलपति को दी गई कुलगुरु की उपाधि 

डॉ. मोहन यादव के कैबिनेट बैठक में प्रदेश के शिक्षा विभाग को लेकर बड़ा फैसला लिया गया. कैबिनेट ने उच्च शिक्षा विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए फैसला लिया कि प्रदेश के सभी यूनिवर्सिटी के कुलपतियों को कुलगुरु कहा जाएगा. इसको औपचारिक रूप से सर्वसहमति के साथ मंजूरी दी गई. कैबिनेट में हुए अहम फैसलों को लेकर कैलाश वियायवर्गीय ने जानकारी दी. 

खुद अपना टैक्स भरेंगे मंत्री

पहले मंत्रियों को मिलने वाला वेतन भत्ता सरकार देती थी. लेकिन, नए कानून के अनुसार अब मंत्रियों को अपना टैक्स खुद ही भरना होगा. इसमें सरकार उनकी कोई सहायता नहीं करेगी. कैबिनेट में इसे पास कर दिया गया. विधानसभा अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष ने भी यह घोषणा करते हुए कहा कि वह इनकम टैक्स खुद भरेंगे. साथ ही, लघुवनोपज से जो भी राशि सरकार के पास आएगी, उसका उपयोग आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में किया जाएगा.

ये भी पढ़ें :- NEET Result Scam मामले ने पकड़ा तूल, कांग्रेस ने पेपर लीक पर ऐसे किया प्रदर्शन

गौ तस्करों के वाहन को लेकर सख्त कार्रवाई

एमपी में गौवंश को लेकर लगातार खबरें सामने आती रहती हैं. इसको लेकर भी कैबिनेट ने बड़ा फैसला लिया. कैबिनेट ने यह मंजूरी दी है कि गौवंश के परिवहन में शामिल वाहन अब राजसात किए जाएंगे. अवैध उत्खनन पर भी गौ तस्करों के वाहन राजसात होंगे. इसके अलावा, अवैध बोरिंग को लेकर भी सरकार ने सख्त रुख अपनाया है. अब ड्रिलिंग करने के बाद उसे बंद करना ड्रिलिंग करने वाले के जिम्मे माना जाएगा. ऐसा नहीं करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. 

ये भी पढ़ें :- MP News: सेना और नेवी प्रमुख के बीच गजब का कनेक्शन आया सामने, दोनों ही रह चुके हैं सहपाठी

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
रेवती रेंज में पौधारोपण शुरू: महिलाओं ने बजाए शंख, विजयवर्गीय ने की पूजा-अर्चना... इंदौर में आज रोपे जाएंगे 11 लाख पौधे
MP Cabinet Meeting: मोहन कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसला, अब विधायकों और सांसदों को खुद भरना होगा अपना टैक्स
indore-Crime: After interrogating 400 people and examining 500 CCTV cameras, the accused of robbery were caught, a very interesting information came to light.
Next Article
Crime: 400 लोगों से पूछताछ और 500 CCTV कैमरे की जांच के बाद लूट के आरोपी गिरफ्तार, एक रोचक जानकारी आई सामने
Close
;