विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jul 08, 2023

देवी मां का सिद्ध मंदिर और बैंक नोट प्रेस है देवास जिले की पहचान

अब देवास को प्रदेश का तीसरा इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट एरिया घोषित करने की तैयारी है. इसके लिए शहर के आसपास की 12 हजार एकड़ जमीन खरीदने की तैयारी है. जिसके बाद यहां डेवलपमेंट शुरू होगा.

Read Time: 3 mins
देवी मां का सिद्ध मंदिर और बैंक नोट प्रेस है देवास जिले की पहचान

मालवा का छोटा सा शहर है देवास. लेकिन इसकी खूबियां इतनी है कि इसे अनदेखा नहीं किया जा सकता. मध्यप्रदेश का ये ऐसा शहर है जहां इंड्स्ट्रीज की भी कोई कमी नहीं है. इसी को देखते हुए देवास को इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट एरिया में डेवलेप करने पर भी काम किया जा रहा है. बैंक छापने वाली सरकारी प्रेस यानी कि बैंक नोट प्रेस भी देवास में ही स्थित है. जहां 500, 200, 100 रु. जैसे नोट छपते हैं.

माता की टेकरी

देवास की माता की टेकरी के दर्शन करने दूर दूर से लोग आते हैं. इस टेकरी पर माता तुलजा भवानी और चामुंडा देवी विराजित हैं. कुछ साल पहले तक दोनों माताओं के दर्शन के लिए भक्तों को 300 से ज्यादा सीढियां चढ़नी होती थीं. लेकिन अब उनकी राह काफी आसान हो चुकी है. अब छोटी माता और बड़ी माता के दर्शन के लिए रोप-वे शुरु हो चुका है. ये दोनों देवियां देवास पर राज करने वाले राजघरानों की कुलदेवियां भी हैं.

राजपरिवारों का इतिहास

देवास पर दो राजघरानों का राज रहा है और दोनों के बीच की कहानी बेहद दिलचस्प है. बताया जाता है कि बाजीराव पेशवा ने ये तुकोजीराव प्रथम और जीवाजी राव प्रथम को मालवा की ये रियासत सौंपी थी. इतिहास से जुड़े किस्से और कहानियों के मुताबिक ये एकमात्र ऐसी रियासत थी जहां एकसाथ दो राजघरानों की हुकूमत हुआ करती थी, जिन्हें पवार सीनियर और पवार जूनियर के नाम से जाना जाता था. दोनों की सीमा का फैसला सिर्फ एक रोड से होता था जिसे सामताल रोड कहा जाता है. बीजेपी में मंत्री रहे तुकोजी राव पवार का ताल्लुक सीनियर राजघराने से था. अब उनकी पत्नी गायत्री राजे भी बीजेपी से विधायक हैं.

इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट एरिया बनाने की तैयारी

अब देवास को प्रदेश का तीसरा इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट एरिया घोषित करने की तैयारी है. इसके लिए शहर के आसपास की 12 हजार एकड़ जमीन खरीदने की तैयारी है. जिसके बाद यहां डेवलपमेंट शुरू होगा. इससे बड़ी संख्या में रोजगार तो मिलेगा ही इंदौर भोपाल इंडस्ट्रियल कॉरिडोर बनाने के काम में भी गति आएगी. इसके बाद देवास भी पीथमपुर की तरह प्रदेश का एक बड़ा इंडस्ट्रियल एरिया बन सकेगा.

अन्य जानकारी

  • क्षेत्र: 7020 वर्ग किमी
  • आबादी: 15,63,715
  • भाषा: हिंदी
  • घनत्व: 223
  • पुरुष: 8,05,359
  • महिला: 7,58,356
  •  विधानसभा सीटें - 5
  • ( सोनकच्छ, देवास, हाटपिपलिया, खातेगांव, बागली)
  •  तहसील-9
  •  जनपद पंचायत - 6
  • ग्राम पंचायत - 495

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
मंदसौर में चोरों ने दी बंगले में चोरी को अंजाम, वजनी तिजोरी नहीं टूटी तो उखाड़कर ले गए चोर
देवी मां का सिद्ध मंदिर और बैंक नोट प्रेस है देवास जिले की पहचान
Diarrhea spread Villagers affected in Bankalpur village of Ashoknagar
Next Article
MP News: मध्य प्रदेश के इस गांव में बढ़ा डायरिया का प्रकोप, 36 से ज्यादा ग्रामीण हो गए बीमार
Close
;