विज्ञापन
Story ProgressBack

MP News: दबंगों ने खाई खोदकर रोका दर्जनों गांवों का रास्ता, गुस्साए ग्रामीण बोले- रास्ता नहीं मिला, तो नहीं देंगे वोट

Gwalior News: ग्रामीणों का यह भी कहना है कि इस रास्ते को वह अपने जन सहयोग से भी बनाने को तैयार थे, जिसके लिए उन्होंने आपस में चंदा भी कर लिया था और काम भी प्रारंभ कर दिया था, लेकिन दबंग मलकीत सिंह और उसके सहयोगियों ने आकर लोगों को डराया धमकाया और गोली मारने की धमकी देते हुए काम को बंद करवा दिया.

Read Time: 4 mins
MP News: दबंगों ने खाई खोदकर रोका दर्जनों गांवों का रास्ता, गुस्साए ग्रामीण बोले- रास्ता नहीं मिला, तो नहीं देंगे वोट

Madhya Pradesh New: मध्य प्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) में दबंग ने दौलतपुर (Daulatpur), दोनी, मेना, कराईया, इटमा, वीरगवा, पचौरा, आदि समेत दर्जनों गांवों को जोड़ने वाले मुख्य मार्ग को जेसीबी की मदद से गड्ढे खोदकर बंद कर दिया है. इससे इन गावों के रहने वाले लोगों को गांव से बाहर आने-जाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

ग्रामीणों ने इसकी शिकायत टप्पा तहसील से लेकर जिला कलेक्टर और स्थानीय जनप्रतिनिधियों तक को की है, लेकिन उनकी सुनवाई कहीं नहीं हुई.  इससे दुखी होकर दौलतपुर और दोनी मैना के सैकड़ों ग्रामीणों ने अब लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का ऐलान कर दिया है. ग्रामीणों का कहना है कि अपनी समस्या को लेकर वह ग्वालियर लोकसभा से भाजपा के प्रत्याशी भरत सिंह कुशवाहा के पास भी गए थे, लेकिन उन्होंने भी चुनाव का हवाला देते हुए इन लोगों को वापस भेज दिया. दरअसल, नेता जी को यह डर सता रहा है कि अभी चुनाव है हमारा नुकसान हो जाएगा. इस तरह इस मामले में ग्रामीणों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है, जिससे त्रस्त होकर अब ग्रामीणों ने लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का मन बना लिया है.

9 किमी ज्यादा काटने पड़ते हैं चक्कर

आपको बता दें कि मुख्य मार्ग को जोड़ने वाले इस रास्ते के अवरुद्ध होने से दर्जनों गांव के ग्रामीणों को लगभग 9 किलोमीटर का चक्कर काट कर अपनी खेती, बाजार और स्कूल पढ़ने वाले बच्चों को स्कूल जाना पड़ रहा है. 9 किलोमीटर के फेर वाला यह रास्ता भी जर्जर हालत में है, जिसकी वजह से इससे पहुंचने में भी ग्रामीणों को लंबा समय लगता है. हालत ये है कि अगर कोई व्यक्ति बीमार हो जाता है, तो समस्या और बड़ी हो जाती है.

रास्ता खोलने पर देते हैं जान से मारने की धमकी

 ग्रामीणों का यह भी कहना है कि इस रास्ते को वह अपने जन सहयोग से भी बनाने को तैयार थे, जिसके लिए उन्होंने आपस में चंदा भी कर लिया था और काम भी प्रारंभ कर दिया था, लेकिन दबंग मलकीत सिंह और उसके सहयोगियों ने आकर लोगों को डराया धमकाया और गोली मारने की धमकी देते हुए काम को बंद करवा दिया, जिसकी शिकायत सभी ग्रामीणों ने एकत्रित होकर पंचनामा बनाकर तहसीलदार से लेकर कलेक्टर तक से की, लेकिन उनके रास्ते को किसी ने खुलवाना उचित नहीं समझा.

ये भी पढ़ें- Korba Lok Sabha Seat: यहां अपने ही कार्यकर्ता बिगाड़ सकते हैं भाजपा का खेल, इस मुद्दे ने बढ़ाई सरोज पांडेय की मुसीबत

पुराने भाजपाइयों पर लगाया सौतेला व्यवहार का आरोप

कुछ लोगों का तो यह भी कहना था कि वे केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए हैं. इसके बाद भी भाजपा नेताओं का उन्हें साथ नहीं मिल रहा है. इन लोगों का कहना है कि इस रास्ते को खुलवाने की शिकायत लेकर वह भाजपा के स्थानीय विधायक और लोकसभा प्रत्याशी भारत सिंह कुशवाह के पास भी गए, लेकिन भाजपा में होते हुए भी उनके साथ पुराने भाजपाई सौतेला व्यवहार करते हैं. भाजपा के लोकसभा प्रत्याशी भारत सिंह कुशवाहा ने भी चुनाव में अपना नुकसान होने का हवाला देते हुए इस रोड को खुलवाना उचित नहीं समझा. इसी से परेशान होकर अब ग्रामीणों ने लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का फैसला लिया है.

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election: चुनाव से पहले तैयार कर लें ये कागजात, वरना नहीं दे पाएंगे वोट

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP News: स्कूल-कॉलेजों में राम और कृष्ण को पढ़ाए जाने पर गरमाई सियासत, दिग्विजय सिंह ने कर दी ये बड़ी मांग
MP News: दबंगों ने खाई खोदकर रोका दर्जनों गांवों का रास्ता, गुस्साए ग्रामीण बोले- रास्ता नहीं मिला, तो नहीं देंगे वोट
Big action by NCPCR team in Raisen district of Madhya Pradesh, 36 child laborers freed
Next Article
MP News: मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में NCPCR की टीम की बड़ी कार्रवाई, 36 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त
Close
;