विज्ञापन
Story ProgressBack

सार्थक पहल: पुलिस ने गरीब बुजुर्ग को दिया होली गिफ्ट, रंग-गुलाल में पैसे खर्च न करके बना दिया आशियाना

Gwalior News: बैठक में उपस्थित हस्तिनापुर के प्रमुख ग्रामीणों द्वारा हस्तिनापुर के आदिवासी बस्ती में एक बुजुर्ग विधवा आदिवासी महिला (Tribal Women) कोमल बाई पत्नी देवी सिंह आदिवासी की बात ध्यान में लायी गई. उन्होंने बताया कि बुजुर्ग महिला का पति बीमारी के कारण इस दुनिया में नहीं रहा और फिर दोनों बेटे गुजर गये. उसके बाद नाती-पोतों के सहारे एक झोपड़ी में रहकर जीवन यापन कर रही है.

Read Time: 4 min
सार्थक पहल: पुलिस ने गरीब बुजुर्ग को दिया होली गिफ्ट, रंग-गुलाल में पैसे खर्च न करके बना दिया आशियाना

Madhya Pradesh News: इस दिनों पूरे देश मे होली के रंग देखे जा रहे हैं. यह रंगोत्सव (Festival of Colors) होलिका दहन (Holika Dahan) के दिन से शुरू होकर पांच दिनों यानी रंग पंचमी तक चलता है. इस दौरान लोग रंग-गुलाल उड़ाने पर काफी पैसा खर्च करते हैं, लेकिन ग्वालियर जिले (Gwalior District) के एक थाने (Police Station) की पुलिस (MP Police) ने होली पर कुछ अलग ही किया. थाने के लोगों ने रंग और गुलाल पर ख़र्च होने वाले पैसे आपस में जमा किये और वर्षों से झोंपड़ी में रहकर गुजर-बसर कर रही एक बुजुर्ग महिला के लिए टीन शेड से एक मजबूत घर अपने हाथों से बनाकर दिया. पुलिस द्वारा दिए गए इस होली गिफ्ट (Holi Gift) की चर्चा ग्वालियर से लेकर राजधानी भोपाल (Bhopal) तक हो रही है.

MP News ग्वालियर पुलिस

MP News ग्वालियर पुलिस

ऐसे बना इस अनूठी होली का प्लान

होली का त्योहार आपसी भाई चारा और शांति से सम्पन्न हो इसलिये ग्वालियर पुलिस अधीक्षक (Gwalior Superintendent of Police) धर्मवीर सिंह ने निर्देश दिये थे कि होली से पहले सभी थानों में शांति समिति की बैठक की जाये, जिसके पालन में हस्तिनापुर थाने में यह बैठक आयोजित हुई. इसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उत्तर शियाज़ केएम, एसडीओपी (SDOP) बेहट संतोष कुमार पटेल व थाना प्रभारी राजकुमार राजावत के द्वारा शांति समिति की बैठक ली गई.

बैठक में थाना प्रभारी  द्वारा यह बात रखी गई कि थाने पर हर वर्ष होने वाली होली में पुलिस जितने रुपयों के रंग ख़रीदती है और होली में खर्च करती है, उतने रुपये किसी के बेसहारा के कल्याण में खर्च करेगी. बैठक में उपस्थित हस्तिनापुर के प्रमुख ग्रामीणों द्वारा हस्तिनापुर के आदिवासी बस्ती में एक बुजुर्ग विधवा आदिवासी महिला (Tribal Women) कोमल बाई पत्नी देवी सिंह आदिवासी की बात ध्यान में लायी गई. उन्होंने बताया कि बुजुर्ग महिला का पति बीमारी के कारण इस दुनिया में नहीं रहा और फिर दोनों बेटे गुजर गये. उसके बाद नाती-पोतों के सहारे एक झोपड़ी में रहकर जीवन यापन कर रही है.
MP News ग्वालियर पुलिस

MP News ग्वालियर पुलिस

गृह प्रवेश पर थाना प्रभारी ने कन्या भोज भी कराया

पुलिस अधिकारी बैठक से ही सीधे मौक़े पर पहुंचे तो हालात देखकर सभी दुखी हो गए, उस महिला की बहुत ही दयनीय स्थिति थी. वो जिस झोपड़ी में रह रही थी वो जगह-जगह टूटी हुई थी. पुलिस ने होली के दूसरे दिन यानी 26 मार्च मंगलवार को जब थाने पर पुलिस की होली खेली जाती है तब सभी अफसर थाने से सीधे उसी झोंपड़ी पर पहुंचे. सभी ने खुद अपने हाथों के गैंती-फावड़ा लेकर गड्ढे खोदे और पिलर गाड़े. उसके बाद मौक़े पर एसडीओपी संतोष पटेल व हस्तिनापुर की पुलिस ने अपने हाथों से टीन शेड लगाया व अग़ल-बग़ल लकड़ी की टटिया बनाकर ग्रीन नेट से सजाया. इसके साथ ही लिपाई-पुताई करके उस जगह को रहने योग्य बनाया और नया आशियाना बनाकर दिया.

इस मौके पर गांव के समाज सेवी ऋषभ यादव ने अम्मा के लिए गद्दा, रज़ाई व कुर्सी दिये. वर्षों से टपकती झोंपड़ी में रह रही बुजुर्ग महिला और उसके नाती अपना खूबसूरत नया घर देखकर काफी खुश नजर आए बल्कि बुजुर्ग महिला की आंखों में तो खुशी के आंसू छलछला उठे.
MP News ग्वालियर पुलिस

MP News ग्वालियर पुलिस

फिर वोट जागरूकता रैली निकाली 

इसके बाद पुलिस और प्रशासन के लोगों ने हस्तिनापुर थाने से रंगों की फेरी निकली जिसमें पुलिस के साथ गांव वाले ढोल- बाजे के साथ निकले. एसडीओपी बेहट संतोष पटेल ने जगह जगह लोगों को चुनाव जागरूकता गीत गाया जिसके बोल थे- रंग गुलाल लगाना है, वोट डालने जाना है. वोट डालना बहुत ज़रूरी, वोट के बिन ज़िंदगी अधूरी. लोकतंत्र का जश्न मनाना है-वोट डालने जाना है.

पुलिस का क्या कहना है?

एसडीओपी बेहट संतोष पटेल का कहना है कि यह पहल छोटी है लेकिन यह पुलिस की वर्दी पहनने के बाद मानवता के रंग दिखाने वाली पहल है. इसमें टीम के कप्तान थाना प्रभारी राजकुमार राजावत के साथ कदम से कदम मिलाकर खाकी का सम्मान बढ़ाने वाले सउनि वीर सिंह, हवलदार मनोज, वकील सिंह, आरक्षक सुनील परिहार,देशराज,धर्मेंद्र पवैया, राघवेंद्र सिंह, नरेंद्र सिंह,शिवम सिंह, रघुवंशी राठौर,सर्वेश गुप्ता, नागेश शर्मा, सत्येंद्र धाकड़ की सराहनीय भूमिका रही. हम सबके जीवन में इससे सचमुच गर्व का अमिट रंग भर गया.

यह भी पढ़ें :

** EVM की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने के लिए कांग्रेस का प्लान! पूर्व CM भूपेश बघेल का देखिए ये बयान

** रंग में भंग: ग्वालियर में रंग को लेकर हुआ विवाद, दो गुटों ने खेली खून की होली, लाठी-डंडों से हुई मारपीट

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close