विज्ञापन
Story ProgressBack

एक टीचर के भरोसे कैसे चलेगा पूरा स्कूल ? देखिए MP में शिक्षा के वादों की हकीकत

MP News Barwani : MP सरकार शिक्षा में सुधार के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है.... लेकिन स्कूलों की बुनियादी समस्याएं आज भी जस के तस है. ताजा मामला बड़वानी (Barwani) जिले से सामने आया है... जहां पर एक प्राथमिक स्कूल सिर्फ एक महिला टीचर के भरोसे  चलता नज़र आ रहा है. 

एक टीचर के भरोसे कैसे चलेगा पूरा स्कूल ? देखिए MP में शिक्षा के वादों की हकीकत
एक टीचर के भरोसे कैसे चलेगा पूरा स्कूल ? देखिए MP में शिक्षा के वादों की हकीकत

Madhya Pradesh News : MP सरकार शिक्षा में सुधार के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है.... लेकिन स्कूलों की बुनियादी समस्याएं आज भी जस के तस है. ताजा मामला बड़वानी (Barwani) जिले के मंडवाड़ा के मुंडियापुरा सरकारी प्राथमिक स्कूल का है. जहां सन 1955 से चल रहे इस स्कूल में 80 छात्रों को पढ़ाने के लिए सिर्फ एक शिक्षिका को जिम्मेदारी दी गई है. आलम ऐसा है कि कक्षा 1 से पांचवी तक के बच्चों को एक ही रूम में बिठाकर पढ़ाना पड़ रहा है.  ऐसे में सवाल उठता है कि अगर प्रदेश में शिक्षा का स्तर ऐसा रहेगा तो देश का भविष्य कहे जाने वाले बच्चों का खुद का भविष्य कैसे उज्ज्वल होगा?

बच्चों के घरवालों ने जताई नाराजगी

सोमवार को मुंडियापुरा के शासकीय प्राथमिक विद्यालय में स्कूल खुलने से पहले ही छात्र-छात्राओं के अभिभावकों ने क्लास रूम के हालात देखकर नाराज़गी जताई. अभिभावकों का गुस्सा इस बात पर था कि यहां एक ही टीचर 80 बच्चों को पढ़ा रही हैं. पहले इस स्कूल में तीन टीचर थे, जिनमें से एक टीचर रिटायर हो गए और दूसरे टीचर अपनी B. Ed की डिग्री पूरी करने के लिए छुट्टी पर हैं.

मामले में क्या बोलीं महिला टीचर ?

अब एकमात्र शिक्षिका के कंधों पर इतनी बड़ी जिम्मेदारी आ गई है, जिससे न तो बच्चों को ठीक से पढ़ाया जा पा रहा है और न ही दूसरे काम कराए जा रहे हैं. इसका असर बच्चों के विकास पर पड़ रहा है. महिला टीचर जयंती सोलंकी ने बताया कि आला अधिकारियों को टीचरों की कमी की जानकारी है.

ये भी पढ़ें : 

जब 8वीं के छात्र नहीं पढ़ पाएंगे हिंदी... तो MP में कैसे होगा शिक्षा का विकास ?

लोगों ने बताया कि एक ही टीचर होने के कारण सभी बच्चों को पढ़ाना मुश्किल हो रहा है. ये बच्चे गरीब और आदिवासी पिछड़े तबके से आते हैं. हमने कई बार अधिकारियों को इस समस्या के बारे में बताया लेकिन इस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

नए टीचरों के लाने की बात

स्कूल के एक टीचर रिटायर हो गए हैं और दूसरे टीचर B. Ed डिग्री कर रहे हैं. ऐसे में उन्हें एक ही कक्षा में बच्चों को संभालना पड़ रहा है. गेस्ट टीचर आने की प्रक्रिया चल रही है और जल्द ही नए टीचरों को लाने की बात कही गई है.

ये भी पढ़ें : 

MP में दम तोड़ रही शिक्षा व्यवस्था, बिन स्कूल झोपड़ी में पढ़ने को मजबूर बच्चे 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Crime ! पहले Instagram पर की चैटिंग, फिर रेप के बाद करने लगा ब्लैकमेल
एक टीचर के भरोसे कैसे चलेगा पूरा स्कूल ? देखिए MP में शिक्षा के वादों की हकीकत
Bhopal Ineligible 66  Nursing colleges Students will be shifted to other 
Next Article
MP के अपात्र 66 नर्सिंग कॉलेजों के विद्यार्थियों को दूसरे कॉलेजों में किया जाएगा शिफ्ट, जानें पूरी डिटेल
Close
;