विज्ञापन
Story ProgressBack

MP के सरकारी असफर कब छोड़ेंगे घूसखोरी ! उज्जैन और धार में फिर दबोचे गए 2 बाबू

MP News in Hindi : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सरकारी अफसरों के घूसखोरी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे. आज प्रदेश के दो ज़िलों से रिश्वतखोरी का मामला सामने आया है. ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा कि प्रदेश में भ्रष्टाचारी अपने चरम पर हैं. जहां सरकारी कामों के लिए भी जनता से न सिर्फ पैसों की मांग की जा रही बल्कि उनसे मोटी रकम मांग कर उन्हें काम न करने की धमकी भी दी जा रही है.

Read Time: 3 mins
MP के सरकारी असफर कब छोड़ेंगे घूसखोरी ! उज्जैन और धार में फिर दबोचे गए 2 बाबू
MP के सरकारी असफर कब छोड़ेंगे घूसखोरी ! उज्जैन और धार में फिर दबोचे गए 2 बाबू

Corruption Rife in MP : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सरकारी अफसरों के घूसखोरी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे. आज प्रदेश के दो ज़िलों से रिश्वतखोरी का मामला सामने आया है. पहली खबर उज्जैन (Ujjain) की है जहां एक पटवारी ने 14 बीघा जमीन को नापने के लिए 210000/- रुपए की रिश्वत की मांग तो वहीं, धार (Dhar) जिले के एक Coordinator को भी Self Help Group Operation के नाम पर 3,000 रुपये की रिश्वत वसूलते हुए रंगे-हाथों पकड़ा गया. ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा कि प्रदेश में भ्रष्टाचारी अपने चरम पर हैं. जहां सरकारी कामों के लिए भी जनता से न सिर्फ पैसों की मांग की जा रही बल्कि उनसे मोटी रकम मांग कर उन्हें काम न करने की धमकी भी दी जा रही है. आइए आपको दोनों ज़िलों के मामले को सिलसिलेवार तरीके से बताते हैं:

उज्जैन में पटवारी ने मांगे 2 लाख रूपये

दरअसल, फरियादी घनश्याम चौधरी ने SP लोकायुक्त को शिकायत दी थी. इस शिकायत में घनश्याम ने बताया था कि उनसे मनोहर बिलावले नाम के पटवारी ने 14 बीघा जमीन को नापने के लिए 70 हजार के हिसाब से 2,10,000/- रुपए की रिश्वत की मांग की थी. खबर मिलते ही DSP सुनील तालान के आदेश पर एक्शन लिया गया. इधर, पटवारी सौदा करने के बाद 2,10,000 से 1,90,000 रुपए लेने पर सहमत हुआ. इसके बाद उसे आज 26 तारीख को पहली किस्त में डेढ़ लाख रुपए दिए जाने थे. घनश्याम ने आरोपी पटवारी को मांगलिया तिराहे इंदौर में बुलाया और जैसे ही पटवारी ने नगद ₹50,000 और ₹1,00,000 का चेक लिया. वैसे ही लोकायुक्त की 8 लोगों की टीम ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया.

धार में एक सरकारी बाबू 3,000 लेते धराए

धार ज़िले का मामला तो घूसखोरी के साथ दबंगई का भी प्रतीत होता है. जहां बीते दिन इंदौर कार्यालय में शिकायत मिली थी कि निसरपुर में तैनात एक को-ऑर्डिनेटर समूह के संचालन के लिए तीन हज़ार रूपये की मांग की थी. आरोपी ने फरियादी को दफ्तर बुलाकर कहा था कि तुम्हारी पत्नी स्व सहायता समूह चलाती है. इसके लिए उसे हर महीने 12 हजार रूपये मिलते हैं. अगर तुम्हारी पत्नी आगे भी इस समूह को चलाना चाहती है तो तुम्हें मुझे 3 हजार रुपये देने होंगे. अगर तुमने मुझे पैसे नहीं दिए तो मैं ख़राब रिपोर्ट भेजकर तुम्हारी बीवी का नाम इससे हटवा दूंगा. इसके बाद फरियादी अपनी फरियाद लेकर लोकायुक्त कार्यालय पहुंचा जहां आरोपी बृजमोहन गर्ग 3 हजार रुपये लेते रंगे हाथों धरा गया.

ये भी पढ़ें : 

पैर फिसलने से नदी में डूबा किशोर, बचाने के लिए कूद पड़ी दो महिलाएं... पल भर में तीनों की हुई मौत

MP में धड़ल्ले से क्यों काटे जा रहे 'बाओबाब' ? 10 लाख में बिकने वाले एक पेड़ की जानिए कहानी

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP News: महिला डॉक्टर ने लगाया सिविल सर्जन पर मानसिक प्रताड़ना के आरोप, कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश
MP के सरकारी असफर कब छोड़ेंगे घूसखोरी ! उज्जैन और धार में फिर दबोचे गए 2 बाबू
MPSC Result 2021 Gwalior Pawan Ghuriya passed PAC exam in first attempt became Deputy Collector
Next Article
MPPSC के 1st Attempt में पवन बने डिप्टी कलेक्टर, गरीब बच्चों पर कही बड़ी बात 
Close
;