विज्ञापन
Story ProgressBack

VIDEO: डर और दहशत के साए में किर्गिस्तान में 5 दिन फ्लैट में बंद रहे चेतन मालविया, घर लौटकर सुनाई आपबीती

Indian Student Returned Home: किर्गिस्तान से लौटे चेतन मालविया ने आपबीती सुनाते हुए बताया कि 17 अप्रैल की घटना के बाद सभी भारतीय छात्र वहां डर और दहशत के साए में थे और करीब 5 दिनों तक अपने फ्लैट में बंद रहे, क्योंकि बाहर निकलने पर स्थानीय लोग मारपीट कर थे, इसलिए हम बाहर नहीं निकले.

Read Time: 3 mins
VIDEO: डर और दहशत के साए में किर्गिस्तान में 5 दिन फ्लैट में बंद रहे चेतन मालविया, घर लौटकर सुनाई आपबीती
परिवार के साथ किर्गिस्तान से लौटे चेतन मालवीया

Kirgizstan Crisis: किर्गिस्तान में भारतीय समेत विदेशी छात्रों में हमलों की खबरों के बाद मध्य प्रदेश सरकार के प्रयासों से अपने घर लौटे एमबीबीएस छात्र चेतन मालवीया ने अपनी आपबीती साझा की है. हमले5 दिन तक फ्लैट में कैद रहे मालवीया को भारत में वापसी के लिए मध्य प्रदेश सरकार और भारतीय दूतावास ने संयुक्त प्रयास करते हुए मालवीया की वापसी सुनिश्चित हो सकी. 

किर्गिस्तान से लौटे चेतन मालविया ने आपबीती सुनाते हुए बताया कि 17 अप्रैल की घटना के बाद सभी भारतीय छात्र वहां डर और दहशत के साए में थे और करीब 5 दिनों तक अपने फ्लैट में बंद रहे, क्योंकि बाहर निकलने पर स्थानीय लोग मारपीट कर थे, इसलिए हम बाहर नहीं निकले.

स्थानीय व बाहरी छात्रों के बीच विवाद के बाद किर्गिस्तान में बिगड़े हालात

गौरतलब है गत 17 मई को किर्गिस्तान में स्थानीय और कुछ बाहरी देश के लोगों के बीच हुए विवाद के बाद 18 मई से किर्गिस्तान में हालत बिगड़ने लगे थे. स्थानीय लोग किर्गिस्तान पर रहकर मेडिकल की पढ़ाई करने वाले छात्रों और अन्य लोगो के साथ मारपीट करने लगे थे. ऐसे में वहां रहने वाले भारतीय छात्र काफी डरे हुए थे.

MP सरकार और भारतीय दूतावास की मदद से घर पहुंचे चेतन मालवीया

मामले को तूल पकड़ता देख मध्य प्रदेश सरकार और भारतीय दूतावास ने भारतीय छात्रों से बात की थी और मदद का भरोसा दिया था. हिंसा के बीच बड़वानी जिले के सेंधवा के समीप चाचरिया के रहने वाले छात्र चेतन मालविया भारत लौटने के बाद मीडिया से बातचीत में किर्गिस्तान के हालात बताए.

Latest and Breaking News on NDTV

 

परिवार संग बैठे किर्गिस्तान से लौटे चेतन मालवीया

17 अप्रैल की घटना के बाद दहशत के साए में जीने को मजबूर थे छात्र

एमबीबीएस छात्र मालवीया ने बताया कि 17 अप्रैल की घटना के बाद सभी छात्र दहशत के साए में किर्गिस्तान में जीने को मजबूर थे. मालवीया ने बताया किर्गिस्तान से भारत लौटने के लिए उन्हे दो देशों का सफर करना पड़ा. अप्रैल को किर्गिस्तान के बिश्बेक से कजाकिस्तान की राजधानी अल्माटी पहुंचे, फिर वहां से उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद पहुंचे.

दो देशों का सफर करने के बाद हमवतन पहुंचे छात्र चेतन मालवीया

चेतन मालवीया ने बताया कजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान का सफर करने के बाद  25 अप्रैल को भारतीय छात्र दिल्ली पहुंचे. उन्होंने बताया कि इस दौरान उन्होंने 4 घंटे का रास्ता 4 दिन में तय किया. चेतन के मुताबिक किर्गिस्तान में हालात खराब होने पर यूनिवर्सिटी ने उनकी जरूरत की चीजों के लिए ध्यान रखा.

हालात खराब होने के बाद किर्गिस्तान में पोस्टपोन की गई परीक्षाएं

फिलहाल हमारी परीक्षा आगे बढ़ा दी गई है। ऑनलाइन क्लासेस चल रही है संभवत 15 अगस्त के बाद हमने वापस लौटना होगा। चेतन के पिता कैलाश मालविया ने बताया कि बेटा सकुशल वापस लौट आया है इसकी हम बहुत खुशी है। हम चाहते है कि जब तक हालात पूरी तरह सामान्य नहीं हो जाते तब बच्चो की क्लासेस और परीक्षा ऑनलाइन ही आयोजित की जाए

ये भी पढ़ें-Kyrgyzstan Crisis: किर्गिस्तान से रतलाम लौटे छात्र पुष्पेंद्र सिंह, बेटे को गले लगाकर पिता ने सरकार को कहा 'Thankyou'

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Mhow: आर्मी एरिया में बकरी चराने गए बच्चे ने उठाया बम, फटने से हुई मौत, एक अन्य बच्चा घायल
VIDEO: डर और दहशत के साए में किर्गिस्तान में 5 दिन फ्लैट में बंद रहे चेतन मालविया, घर लौटकर सुनाई आपबीती
child marriage in Indore Department of Women and Child Development child marriage Act Indore Administration stopped child marriage of a 15 year old minor girl Indore Police
Next Article
Child Marriage: पंद्रह साल की नाबालिग ने शादी नहीं करने पर दी भागने की धमकी.....प्रशासन ने रोका बाल विवाह
Close
;