विज्ञापन
Story ProgressBack

जुकाम से बिल्कुल अलग हैं साइनस के लक्षण, इससे बचने के लिए जानिए कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में...

अधिकांश साइनस इन्फेक्शन वायरस के कारण होते हैं. वायरल साइनसाइटिस को दवाओं का इस्तेमाल करके खत्म नहीं किया जा सकता है. आप इसे कुछ घरेलू उपायों को अपना कर भी आराम दे सकते है.

Read Time: 4 min
जुकाम से बिल्कुल अलग हैं साइनस के लक्षण, इससे बचने के लिए जानिए कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में...
फाइल फोटो

Sinus Symptoms: अधिकांश साइनस इन्फेक्शन वायरस (Sinus infection virus) के कारण होते हैं. वायरल साइनसाइटिस (Viral Sinusitis) को दवाओं का इस्तेमाल करके खत्म नहीं किया जा सकता है. आपके साइनस इन्फेक्शन के लक्षण सात से दस दिनों में अपने आप गायब हो जाते हैं. अगर आपको ज्यादा समस्या है, तो आप इसे कुछ घरेलू उपायों को अपना कर आराम दे सकते है. जब आपको साइनस कंजेशन, खांसी, सिरदर्द, कानों में भारीपन जैसे लक्षण महसूस होने लगे तो आपको घरेलू उपचार करना शुरू कर देना चाहिए.

पहले जानते हैं क्या होता है साइनस (what is sinus)

अमेरिकन एकेडमी ऑफ एलर्जी अस्थमा एंड इम्यूनोलॉजी के अनुसार यदि आपकी नाक बंद है, आप अपने चेहरे पर दबाव महसूस करते है, खांसी है और नाक से गाढ़ा डिस्चार्ज आ रहा है, तो आपको राइनोसिनुसाइटिस (Causes of Rhinosinusitis) हो सकता है, जिसे आमतौर पर साइनसाइटिस (Causes of Sinusitis) कहा जाता है.

साइनस आपके गालों के भीतर, आपकी आंखों के आसपास और आपकी नाक के पीछे खोखली कैवेटी हैं. इनमें बलगम होता है, जो आपके द्वारा सांस लेने वाली हवा को गर्म, नम और फ़िल्टर करने में मदद करता है. जब कोई चीज़ बलगम को सामान्य रूप से निकलने से रोकती है, तो संक्रमण हो सकता है.

जुकाम और साइनस में क्या अंतर है 

जुकाम आमतौर पर वायरल इन्फेक्शन के कारण होता है, ज्यादातर यह राइनोवायरस के कारण होता है. कोरोना वायरस जैसे अन्य वायरस भी जुकाम के लक्षण पैदा कर सकते हैं. वहीं साइनस का लक्षण साइनसाइटिस है. यह अक्सर साइनस के सूजन या इन्फेक्शन के कारण होते हैं, जो वायरल इन्फेक्शन, जीवाणु इन्फेक्शन , एलर्जी जैसे कारकों के कारण हो सकते हैं.

इसके इन्फेक्शन में नाक बहना या बंद होना, छींक आना, गले में खराश, खांसी और कभी-कभी हल्का बुखार आ सकता है, लेकिन साइनसाइटिस के लक्षणों में नाक बंद होना, चेहरे पर दर्द या दबाव, नाक से थिक डिस्चार्ज और कभी-कभी बुखार हो सकते हैं. साइनस की समस्या के कारण अक्सर आंखों, गालों और माथे के आसपास साइनस वाले क्षेत्रों में परेशानी या दर्द होता है.

साइनेस के लिए कुछ घरेलू उपाय ( Home remedies for sinus)

1. अपने चेहरे को भाप दें (Do steam)

साइनस में सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है अपने साइनस के रास्ते को गर्म करना और मॉइस्चराइज करना. भाप लेने से साइनस के ऊतकों को आराम मिलता है और उसकी सूजन भी कम होती है. इसके लिए आप गर्म पानी का शावर ले सकते हैं या अपने नाक पर या गालों पर गर्म पानी में कपड़ा गीला करके रख सकते है.

2. गर्म पानी से करे नाक की सफाई 

नाक में साइनस में रहने वाले बैक्टीरिया और कफ को बाहर निकालने के लिए गुनगुना पानी कर उसमें नमक डालकर इसका इस्तेमाल किया जाता है. ऐसा करने के लिए आपको साफ पानी लेना है उसमें नमक डालकर उसे 3 से 5 मिनट तक गरम कर या हल्का गुनगुना पानी कर भी यूज कर सकते हैं.

3. मनुका शहद

सर्दी जुकाम और साइनस जैसी बीमारियों में आप मनुका शहद का यूज़ कर सकते हैं. यह नाक में मौजूद सभी बैक्टीरिया को खत्म करता है और आपको काफी अच्छा फील कराता है. मनुका शहद में मिथाइलग्लॉक्सल की मात्रा ज्यादा होती है जो उसे साइनस के इलाज के लिए उपयोगी बनाता है.

ये भी पढ़ें - Diwali 2023: दिवाली की साफ-सफाई करते समय याद रखें ये बातें, काम करने में होगी आसानी

ये भी पढ़ें - इन वजहों से बच्चों के टेढ़े-मेढ़े हो जाते हैं दांत, सीधे दांतों के ल‍िए पैरेंट्स करें ये काम

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close