विज्ञापन
Story ProgressBack

Chaitra Navratri Day 5: नवरात्रि के पांचवें दिन ऐसे करें मां स्कंदमाता की पूजा, चढ़ाएं विशेष चीज का भोग

Chaitra navratri day 5: नवरात्रि में मां की पूजा का महत्व बहुत होता है. पूजा के साथ-साथ भोग या प्रसाद का भी महत्व है. 9 दिन नौ देवियों को अलग-अलग भोग लगते हैं. आइये जानते हैं पांचवे दिन मां स्कंदमाता को किस खास चीज से लगाए भोग.

Read Time: 3 mins
Chaitra Navratri Day 5: नवरात्रि के पांचवें दिन ऐसे करें मां स्कंदमाता की पूजा,  चढ़ाएं विशेष चीज का भोग
Mata Skandmata: Chaitra navratri day 5: नवरात्रि के 5वें दिन कैसे करें मां स्कंदमाता की पूजा.

Skandmata Bhog: शनिवार 13 अप्रैल को चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri 2024) का पांचवां दिन है. चैत्र नवरात्रि के 5वें दिन (Chaitra navratri day 5) मां दुर्गा के पांचवा स्वरूप मां स्कंदमाता (Skandmata) की पूजा करते हैं. हर साल चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी यानि पांचू तिथि को मां स्कंदमाता की उपासना का विधान है. इस बार मां स्कंदमाता की पूजा सौभाग्य योग में होगी. 

कहा जाता है कि स्कंदमाता रूप की आराधना करने से शत्रुओं की पराजय के साथ-साथ माता मन की हर इच्छा को पूरा करती हैं. यदि मां स्कंदमाता को आप उनका प्रिय भोग (Devi skandmata prasad) लगाते हैं तो इससे माता की विशिष्ट कृपा आप पर होगी. आइए जानते है माता की कैसे करें पूजा और कौन सा भोग उन्हें लगाए.

मां स्कंदमाता पूजन विधि- (Maa Skandmata Puja Vidhi)

नवरात्रि के पांचवे दिन (Chaitra navratri day 5) स्कंदमाता की पूजा के लिए सुबह स्नान करें. इसके बाद सफेद रंग के वस्त्र धारण करें. पूजा के लिए हाथ में लाल पुष्प लेकर देवी स्कंदमाता का आह्वान करें. देवी को अक्षत, गंध, फूल, धूप, बताशा, पान, सुपारी, लौंग चढ़ाएं. माता की आरती करें. इस दौरान शंख बजाएं और मंत्रों का जाप करें.

मां स्कंदमाता मंत्र जाप- (Maa Skandmata Mantra)

स्कंदमाता की पूजा करते समय आप इस मंत्र का जाप जरूर करें.

या देवी सर्वभूतेषू मां स्कंदमाता रूपेण संस्थिता

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:

सफेद और पीला रंग है बेहद प्रिय (Maa Skandmata  Bhog)

मां दुर्गा के पांचवें स्वरूप स्कंदमाता को सफेद और पीला रंग बेहद ही प्रिय है. यदि आप सफेद वस्त्र धारण करके माता की पूजा करते हैं तो इससे आप पर विशेष कृपा होगी. साथ ही माता स्कंदमाता को सफेद रंग के फूल चढ़ाए और सच्चे मन से देवी की आराधना करें. ऐसा करने से आपका व्रत भी सफल होगा.

नवरात्रि के पांचवें दिन माता रानी को दूध और चावल से बनी खीर और केले का भोग जरूर लगाएं. माता को यह भोग अत्यंत प्रिय होता है और जो कोई माता की सच्चे मन से स्नान करके इस भोग को लगाता है उन भक्तों पर माता की विशेष कृपा बनती है.

दूध और चावल से बनाएं मिठाई (Maa Skandmata  Bhog)

आप चाहें तो माता रानी को दूध और चावल से बनी मिठाई का भी भोग लगा सकते हैं. इसे बनाने के लिए आपको चावल पकाने हैं और उसमें दूध-शक्कर डालकर अच्छे से मिलाना है और उसके बाद उसकी बर्फ़ी जमा दें. स्कंद माता को भोग लगाने के लिए एक अच्छी मिठाई है.

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी ज्योतिष व लोक मान्यताओं पर आधारित है. इस खबर में शामिल सूचना और तथ्यों की सटीकता के लिए NDTV किसी भी तरह की ज़िम्मेदारी या दावा नहीं करता है.)

यह भी पढ़ें: नवरात्रि में अगर माता दिख जाएं इस रूप में तो समझिए आपका विवाह होगा जल्द...

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
International Yoga Day 2024: कई बीमारियों का इलाज है योग, करने से मिलते हैं फायदे ही फायदे, जानिए कैसे
Chaitra Navratri Day 5: नवरात्रि के पांचवें दिन ऐसे करें मां स्कंदमाता की पूजा,  चढ़ाएं विशेष चीज का भोग
To control sugar level, stay away from these things, the difference will be visible within a month.
Next Article
Sugar Level को कंट्रोल करना है बेहद आसान ! सिर्फ इन चीज़ों से बना लें दूरी
Close
;