विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 19, 2023

'विपक्ष का यही आचरण रहा तो 2024 में सीटें और कम होना पक्का है', PM मोदी ने कसा तंज

मोदी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि इन दलों का आचरण स्पष्ट रूप से संकेत देता है कि उन्होंने विपक्ष में रहने का मन बना लिया है और इसके लिए अभ्यास कर रहे हैं. मोदी ने भाजपा सांसदों से संयम बरतने और लोकतांत्रिक मानदंडों का पालन करने को कहा.

'विपक्ष का यही आचरण रहा तो 2024 में सीटें और कम होना पक्का है', PM मोदी ने कसा तंज
फाइल फोटो

PM Narendra Modi: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को विपक्षी दलों पर संसद में सुरक्षा चूक की घटना को 'मौन और अप्रत्यक्ष' समर्थन देने का आरोप लगाया और कहा कि यदि उनका यही आचरण रहा तो 2024 के लोकसभा चुनावों में वे और भी कम सीटों के साथ विपक्ष में ही बैठे रह जाएंगे. इस साल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसदीय दल की आखिरी बैठक को संबोधित करते हुए मोदी ने 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ गठबंधन के प्रचार अभियान का विषय तय किया और साथ ही 'इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इनक्लूसिव अलायंस' यानी 'इंडिया' गठबंधन पर उनकी बैठक के मद्देनजर निशाना भी साधा.

संसद की कार्यवाही बाधित करने के लिए विपक्षी दलों की आलोचना करते हुए मोदी ने कहा कि वे हालिया विधानसभा चुनावों में हार से हताश होकर इस घटना को 'राजनीतिक तूल' दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य उनकी सरकार को उखाड़ फेंकना है लेकिन सरकार का लक्ष्य भारत का उज्ज्वल भविष्य सुनिश्चित करना है. संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने प्रधानमंत्री के हवाले से कहा, 'कुछ लोग भाजपा को सत्ता से हटाने के इरादे से एकजुट हो रहे हैं जबकि हम देशभक्त हैं और भारत की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं. वे सरकार को हटाने के लिए अपनी ताकत का इस्तेमाल कर रहे हैं जबकि हम भारत की भलाई के लिए अपनी ताकत का इस्तेमाल कर रहे हैं.'

'यही आचरण रहा तो 2024 में और कम हो जाएगी संख्या'

मोदी ने कहा कि संसद में विपक्ष का यही आचरण रहा तो 2024 के लोकसभा चुनावों में उनकी संख्या और कम हो जाना सुनिश्चित है जबकि भाजपा की सीटों की संख्या बढ़ेगी. सभागार में कुछ खाली पंक्तियों की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि इन्हें 2024 के चुनावों के बाद भरा जाएगा. उन्होंने 13 दिसंबर को दो लोगों के दर्शक दीर्घा से लोकसभा कक्ष में कूदने और कैन से धुआं फैलाने की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि लोकतंत्र में विश्वास रखने वाला कोई भी व्यक्ति इस तरह के कृत्य को स्वीकार नहीं करेगा. उन्होंने कहा कि इस कृत्य की एकजुट होकर निंदा की जानी चाहिए थी.

यह भी पढ़ें : PM के चेहरे पर चुनाव बाद फैसला लेगा 'इंडिया' गठबंधन, ममता, केजरीवाल ने दिया खरगे के नाम का प्रस्ताव

'विपक्ष का मौन समर्थन चिंताजनक है'

एक सूत्र के मुताबिक, उन्होंने कहा, 'दुर्भाग्य से, मैं जो देख रहा हूं वह यह है कि विपक्ष चुनावों में हारने की अपनी हताशा को बाहर निकाल रहा है और पूरी घटना को राजनीतिक रंग दे रहा है. वे इसे मौन और अप्रत्यक्ष समर्थन भी दे रहे हैं जो चिंताजनक है. घटना का समर्थन करना और इस तरह की बातें कहना कि वे और क्या कर सकते थे, चिंताजनक और निंदनीय है.' कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने हाल ही में कहा था कि सुरक्षा में सेंध के पीछे बेरोजगारी और महंगाई जैसे मुद्दे हैं. भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद के अनुसार प्रधानमंत्री ने कहा, 'लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास रखने वाली पार्टी खुले तौर पर या पीछे से इसे कैसे सही ठहरा सकती है?'

यह भी पढ़ें : बुरा हाल! खाट पर अस्पताल जाती गर्भवती महिला की यह तस्वीर खोल रही व्यवस्थाओं की पोल

'इन दलों ने विपक्ष में रहने का मन बना लिया है'

मोदी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि इन दलों का आचरण स्पष्ट रूप से संकेत देता है कि उन्होंने विपक्ष में रहने का मन बना लिया है और इसके लिए अभ्यास कर रहे हैं. मोदी ने भाजपा सांसदों से संयम बरतने और लोकतांत्रिक मानदंडों का पालन करने को कहा. उन्होंने कहा, 'हमें अपनी भाषा को नियंत्रण में रखते हुए और लोकतंत्र की सीमाओं के भीतर रहते हुए विपक्ष को बेनकाब करना चाहिए. आने वाले दिनों में, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि अन्य लोग भाग ले रहे हैं या नहीं, हमें संसद की कार्यवाही में भाग लेना चाहिए.' उन्होंने कहा कि दोनों सदनों में कुछ महत्वपूर्ण विधेयक चर्चा के लिए आ रहे हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
NGT का निर्देश- MP के सभी कलेक्टर ग्रीन पटाखा फर्जीवाडे पर दंडात्मक एक्शन लें, QR कोड भी जांचें
'विपक्ष का यही आचरण रहा तो 2024 में सीटें और कम होना पक्का है', PM मोदी ने कसा तंज
Unlocking Indias Dream Top 5 Lucrative Government Jobs
Next Article
युवाओं के लिए बड़ी खबर ! इन 5 नौकरियों में मिलेगी सबसे ज़्यादा सैलरी
Close
;