विज्ञापन
Story ProgressBack

IT Notice: मजाक नहीं! एक रुपये के विवाद में CA को चुकानी पड़ी ₹50 हजार की फीस- दिल्ली के शख्स का दावा

Income Tax Department: दिल्ली के एक शख्स अपूर्व जैन ने एक्स पर लिखा है कि मैं मजाक नहीं कर रहा हूं. हाल ही में आयकर विभाग का एक नोटिस मिला जिसमें 1 रुपए का विवाद सुलझाने के लिए मुझे सीए को 50 हजार रुपए की भारी-भरकम फीस चुकानी पड़ी.

Read Time: 3 mins
IT Notice: मजाक नहीं! एक रुपये के विवाद में CA को चुकानी पड़ी ₹50 हजार की फीस- दिल्ली के शख्स का दावा

Income Tax Return: इनकम टैक्स रिर्टन (ITR Filing FY 2024-25) फाइल करने की आखिरी तारीख नजदीक आ रही है. ऐसे में सभी आयकर दाता ITR फाइल करने के लिए सीए (CA) और अन्य एक्सपर्ट्स का सहारा ले रहें. क्योंकि इनकम टैक्स रिर्टन दायर करते वक्त जरा सी चूक आप तक नोटिस (Income Tax Department Notice) भिजवा सकती है. ऐसे ही अनोखे मामले का दावा दिल्ली के एक शख्स ने किया है. उसने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स (पूर्व में Twitter) पर लिखा है कि एक रुपए का विवाद सुलझाने के लिए उसने 50 हजार रुपए की फीस चुकाई है. आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला?

पहले देखिए सोशल मीडिया पोस्ट

इकनॉमिक्स टाइम्स (ET) की एक खबर के मुताबिक दिल्ली के एक शख्स अपूर्व जैन ने एक्स पर लिखा है कि मैं मजाक नहीं कर रहा हूं. हाल ही में आयकर विभाग का एक नोटिस मिला जिसमें 1 रुपए का विवाद सुलझाने के लिए मुझे सीए को 50 हजार रुपए की भारी-भरकम फीस चुकानी पड़ी.

कहां से शुरु हुआ ये मामला?

एक्स पर EngiNerd. नामक एक यूजर ने 8 जुलाई को एक पोस्ट शेयर किया था जिसमें लिखा था कि निर्मला सीतारमण द्वारा 2.5 लाख से अधिक की राशि पर पीएफ ब्याज पर Tax लगाने के लगभग 3 साल हो चुके हैं. पीएफ के पैसे पर टैक्स लगाना वेतनभोगी वर्ग के लिए एक क्रूर निर्णय था, लेकिन सबसे मजेदार बात यह है कि हमें कितना टैक्स देना है, इसकी गणना करने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है. ईपीएफओ आमतौर पर आईटीआर की समय सीमा समाप्त होने के बाद पिछले वित्तीय वर्ष के लिए ब्याज का भुगतान करता है, इसलिए आईटीआर भरते समय आपके पास कोई डेटा नहीं होता है.

इसी यूजर ने आगे लिखा कि नया कर लागू कर दो और सो जाओ. कर्मचारी को इसे मैन्युअल रूप से गणना करने के लिए एक दिन की छुट्टी लेनी चाहिए और यदि वे राशि की थोड़ी सी भी गलत गणना करते हैं, तो उन्हें नोटिस भेजें. यह कितनी शर्म की बात है कि यह सरकार डिजिटल इंडिया को अपनी उपलब्धि के रूप में बढ़ावा देती है.

EngiNerd की इस पोस्ट पर जमकर कमेंट हो रहे हैं. उसी में अपूर्व ने भी अपनी बात रखी थी. इसके बाद उन्होंने एक के बाद एक पोस्ट व रिप्लाई किए हैं.

यह भी पढ़ें : Cabinet Meeting: मोहन कैबिनेट का बड़ा फैसला, MP में ई-विधान App, सरकार खरीदेगी जेट प्लेन-हेलिकॉप्टर

यह भी पढ़ें : अब सरकार नहीं भरेगी मंत्रियों का इनकम टैक्स: सीएम मोहन

यह भी पढ़ें : Poshan Tracker App: डाटा में गड़बड़ी का आरोप, नाराज आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा, जानिए पूरा मामला

यह भी पढ़ें: Good News: MP के मंत्री का ऐलान, स्मार्ट PDS योजना शुरू करेंगे, लाडली बहनों को ₹450 में देंगे गैस सिलेंडर

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Prime Minister College of Excellence: इस दिन अमित शाह MP के सभी जिलों में करेंगे कॉलेज का शुभारंभ-CM मोहन
IT Notice: मजाक नहीं! एक रुपये के विवाद में CA को चुकानी पड़ी ₹50 हजार की फीस- दिल्ली के शख्स का दावा
Indian Bank Recruitment 2024 1500 Apprenticeships Eligibility & Application Details
Next Article
Indian Bank में Freshers के लिए 1500 पदों पर निकली Vacancy, जानें हर एक डिटेल
Close
;