विज्ञापन
Story ProgressBack

AAA रेटिंग वाला भारत का पहला निजी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर बना अदाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड

Adani Ports & SEZ: वित्त वर्ष में एपीएसईजेड ने 419.95 एमएमटी का कार्गो वॉल्यूम किया, जो पिछले वर्ष की तुलना में 24 फीसदी ज्‍यादा है. एपीएसईजेड, विश्‍व स्तर पर विविधीकृत अदाणी समूह का एक हिस्सा, पश्चिमी तट पर रणनीतिक रूप से स्थित सात बंदरगाहों और टर्मिनलों और पूर्वी तट पर सात बंदरगाहों और टर्मिनलों के साथ देश का सबसे बड़ा बंदरगाह डेवलपर और ऑपरेटर है, जो देश के कुल पोर्ट वॉल्यूम के 27 फीसदी का प्रतिनिधित्व करता है.

Read Time: 3 mins
AAA रेटिंग वाला भारत का पहला निजी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर बना अदाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड

CARE Ratings: अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन (एपीएसईजेड) (Adani Ports and Special Economic Zone (APSEZ)) ने मंगलवार को केयर रेटिंग्स द्वारा अपनी क्रेडिट रेटिंग को बढ़ाकर एएए करने की घोषणा की. न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक कंपनी ने एक बयान में कहा, यह क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों द्वारा भारत में किसी भी जारीकर्ता को दी गई उच्चतम संभावित रेटिंग है, जो एपीएसईजेड की साख के सबसे मजबूत स्तर और उसके सभी वित्तीय मार्गदर्शन को पूरा करने की क्षमता को दर्शाता है.

APSEZ के MD करण अदाणी ने इस पर क्या कहा?

एपीएसईजेड के प्रबंध निदेशक (Managing Director), करण अदाणी ने कहा, "हम अपने वित्तीय अनुशासन और डिलीवरेजिंग, विविध परिसंपत्ति आधार के साथ-साथ ग्राहक आधार और इस क्षेत्र में वैश्विक स्तर पर उच्चतम लाभप्रदता के प्रति प्रतिबद्धता की मान्यता को महत्व देते हैं."

इस विकास के साथ एपीएसईजेड यह मान्यता पाने वाला पहला बड़े आकार का निजी बुनियादी ढांचा डेवलपर बन गया है.

रेटिंग एपीएसईजेड के मजबूत एकीकृत व्यवसाय मॉडल, प्रमुख उद्योग की स्थिति, स्वस्थ लाभप्रदता के साथ संचालन में मजबूत वृद्धि, उच्च तरलता और कम उत्तोलन के साथ मिलकर संचालित होती है.

कंपनी ने क्या कहा?

कंपनी ने कहा कि अधिग्रहण के बाद बंदरगाह परिसंपत्तियों में बदलाव के इसके सफल ट्रैक रिकॉर्ड और बंदरगाह गेट से ग्राहक गेट तक सेवाएं प्रदान करने वाली परिवहन उपयोगिता के रूप में इसके एकीकृत दृष्टिकोण के कारण वित्तवर्ष 2019-24 के लिए वॉल्यूम में सभी भारतीय बंदरगाहों के लिए 4 फीसदी सीएजीआर की तुलना में 15 फीसदी की वार्षिक वृद्धि हुई है.

वित्त वर्ष में एपीएसईजेड ने 419.95 एमएमटी का कार्गो वॉल्यूम किया, जो पिछले वर्ष की तुलना में 24 फीसदी ज्‍यादा है. एपीएसईजेड, विश्‍व स्तर पर विविधीकृत अदाणी समूह का एक हिस्सा, पश्चिमी तट पर रणनीतिक रूप से स्थित सात बंदरगाहों और टर्मिनलों और पूर्वी तट पर सात बंदरगाहों और टर्मिनलों के साथ देश का सबसे बड़ा बंदरगाह डेवलपर और ऑपरेटर है, जो देश के कुल पोर्ट वॉल्यूम के 27 फीसदी का प्रतिनिधित्व करता है.

कंपनी का लक्ष्य अगले दशक में दुनिया के सबसे बड़े बंदरगाहों और लॉजिस्टिक्स प्लेटफार्मों में से एक बनना है.

यह भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ की बेटी ने रचा इतिहास! NEET की असफलता से Army में लेफ्टिनेंट डॉक्टर बनने तक, ऐसी है जोया की कहानी

यह भी पढ़ें : गर्मियों में AC जेब पर पड़ रहा भारी, अपनाइए समझदारी! बिजली कंपनी ने बताया कैसे 30% तक कम होगा बिल

यह भी पढ़ें : 4 ​महीने में 90 से ज्यादा नक्सली ढ़ेर, मोदी-शाह की चुनौती 'सरेंडर करो या मरो', CG में कैसे दम तोड़ रहा नक्सलवाद

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
NEET के बाद अब NET Exam पर उठे सवाल, एडमिट कार्ड न मिलने से परीक्षार्थी परेशान, NTA नहीं कर रहा समाधान
AAA रेटिंग वाला भारत का पहला निजी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर बना अदाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड
viral News Kali Puja Noodles and momos in Prasad, this is the trend here, know everything about Chinese Kali Temple Tangra, Kolkata
Next Article
Kali Puja: प्रसाद में नूडल्स व मोमोज... जानिए चाइनीज काली मंदिर के बारे में सब कुछ
Close
;