विज्ञापन
Story ProgressBack

Online Fraud : घर में बरकत के नाम पर महिला ने ऐसे गंवाए ₹36 लाख !

How to Spot Online Fraud : ठगी करने वाले गिरोह ने घर में शांति, अच्छी नौकरी, और स्वास्थ्य लाभ दिलाने का झांसा देकर एक महिला से 36 लाख 73 हजार रुपये ठग लिए.

Read Time: 3 mins
Online Fraud : घर में बरकत के नाम पर महिला ने ऐसे गंवाए ₹36 लाख !
Online Fraud : घर में बरकत के नाम पर महिला ने ऐसे गंवाए ₹36 लाख !

Online Scam : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) से ऑनलाइन ठगी का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. ठगी करने वाले गिरोह ने घर में शांति, अच्छी नौकरी, और स्वास्थ्य लाभ दिलाने का झांसा देकर एक महिला से 36 लाख 73 हजार रुपये ठग लिए. घटना बिलासपुर के सरकंडा थाना की है. घटना का खुलासा होने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन आपको बता दें कि ऑनलाइन ठगी का ये कोई पहले मामला नहीं है. अक्सर जालसाजों की बातों में आकर लोग पानी मेहनत की कमी पल भर में गंवा देते हैं. ऐसे में लोगों को सतर्क होना बेहद जरूरी है.

महला ने बताई आपबीती

मिली जानकारी के मुताबिक, महिला सोनगंगा कॉलोनी की रहने वाली है. ने 10 जनवरी 2024 को थाने में शिकायत दर्ज कराई. महिला ने बताया कि उनका स्वास्थ्य कुछ दिनों से खराब चल रहा था और उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी ज्योतिषी जानकारी के लिए Google पर "हनुमन्त निकेतन डॉट कॉम" साइट पर जानकारी सर्च की. इसके बाद, उन्हें एक मोबाइल नंबर से कॉल आया जिसमें आशीष त्रिपाठी नाम के शख्स ने हवन-पूजन के नाम पर 3350 रुपये जमा करने को कहा.

कहाँ से शुरू हुआ सिलसिला ?

महिला ने 3350 रुपये आशीष त्रिपाठी के खाते में ट्रांसफर कर दिए. इसके बाद, अलग-अलग तारीखों में उनसे संपर्क कर हवन-पूजन, दान-दक्षिणा, गौदान, विन्ध्यवाशिनी दान, मारन क्रिया दान, बंधक क्रिया दान, सुरक्षा कवच दान आदि के लिए पैसे मांगते रहे. इन झांसों में आकर महिला ने कुल 36 लाख 73 हजार रुपये अलग-अलग किस्तों में ट्रांसफर कर दिए.

लाखों ठगने के बाद और डिमांड

हद तो तब हो गई... जब इतने पैसे ऐंठने के बाद भी आरोपी थमने का नाम नहीं ले रहा था. जब इतना पैसा लुटाने के बाद महिला को ठगे जाने का एहसास हुआ तो उसने पुलिस से मदद लेने की सोची.  इधर, पुलिस ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए छानबीन शुरू की. तहकीकात के दौरान पुलिस और सायबर सेल की टीम ने बैंक स्टेटमेंट, ATM फुटेज और तकनीकी इनपुट से प्रयागराज में छुपे शातिर अपराधी तक पहुंचने में सफलता हासिल की.

ये भी पढ़ें :

कारोबारी से ठगी का 'विदेशी कनेक्शन' ! महंगी पड़ी Facebook की दोस्ती

आगे की तहकीकात में जुटी पुलिस

इसके बाद पुलिस ने आरोपी आशीष त्रिपाठी उर्फ अभिवन त्रिपाठी (22)  को प्रयागराज, उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है. इस तरह हवन-पूजा के झांसे में आकर 36 लाख 73 हजार की ऑनलाइन ठगी का यह मामला सामने आया है, जिसमें पुलिस की तत्काल कार्रवाई से इस गिरोह का पर शिकंजा कसा. अब पुलिस ये खंगालने में जुटी है कि आरोपी के तार और कहां-कहां से जुड़े हुए हैं.

ये भी पढ़ें :

Online Fraud : इलाज के पैसों पर ठगों ने किया हाथ साफ, महिला ने SP से लगाई गुहार

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
छत्तीसगढ़ में डायरिया से अस्पतालों में मचा हाहाकार, देखिए ताजा रिपोर्ट
Online Fraud : घर में बरकत के नाम पर महिला ने ऐसे गंवाए ₹36 लाख !
Congress protested in Dhamtari against increased electricity prices said this regarding Matari Vandan Yojana
Next Article
CG News: प्रदेश सरकार पर बरसी कांग्रेस,कहा-'महतारी वंदन योजना की राशि ऐसे वापस ले रही है सरकार'
Close
;