विज्ञापन
Story ProgressBack

अजब गजब ! जब तक नहीं आएगा पानी... तब तक कुंवारे ही रहेंगे इस गांव के लड़के

Off Beat News in Hindi : इस गांव में कई सालों से पानी की समस्या बनी हुई है... यही पानी की समस्या इस गांव के लिए इतनी विकराल और बड़ी हो गई है कि इस गांव में किसी कुंवारे लड़के की शादी भी नहीं हो पा रही है.

Read Time: 4 mins
अजब गजब ! जब तक नहीं आएगा पानी... तब तक कुंवारे ही रहेंगे इस गांव के लड़के
अजब गजब ! जब तक नहीं आएगा पानी... तब तक कुंवारे ही रहेंगे इस गांव के लड़के

No Water No Weddings Story : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के धमतरी (Dhamtari) जिले से महज 20 किलोमीटर की दूरी में बसे ग्राम मोहलई से एक ऐसी बाते सामने आई है जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे....जी हां, इस गांव में कई सालों से पानी की समस्या बनी हुई है... यही पानी की समस्या इस गांव के लिए इतनी विकराल और बड़ी हो गई है कि इस गांव में किसी कुंवारे लड़के की शादी भी नहीं हो पा रही है. अब आप सोच रहे होंगे कि पानी की किल्लत और कुंवारे लड़कों की शादी का क्या लेना देना है...? तो आपको बता दें कि इस गांव के लोगों का कहना है कि अगर कोई भी इस गांव में रिश्ता लेकर आता भी है तो कोई अपनी लड़की इस गांव के लड़के को नहीं देना चाहता. ऐसा इसलिए क्योंकि रिश्ता लेकर आने वालों का मानना है कि अगर इस गांव में कोई भी लड़की शादी होकर आती है तो उससे सिर्फ पानी ही भरवाया जाएगा.

पानी की समस्या से गांव में मचा हाहाकार

गांव के लोग इस समस्या से काफी परेशान हो चुके हैं और पानी के लिए तरस रहे हैं. यहां पानी की समस्या इस कदर बढ़ गई है,कि गांव में दिन में चार बार टैंकर आता है और पूरे गांव के लिए इस टैंकर से पानी दिया जाता है. गांव के लोग जैसे ही देखते हैं कि टैंकर आ रहा है, वैसे ही सभी अपने घरों के बर्तन पानी का डब्बा लेकर टैंकर के पास पहुंच जाते हैं और बारी-बारी से पानी भरते है.... लेकिन गांव में इतनी जनसंख्या है कि टैंकर के आने से भी पानी की समस्या दूर नहीं हो पा रही है क्योंकि उन्हें पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है. गर्मी के दिनों में ये समस्या और ज्यादा बढ़ गई है. लोग पानी के लिए तरस रहे हैं. अगर मोहलई गांव में कोई भी बाहरी व्यक्ति जाता है. तो सिर्फ उन्हें गांव में एक ही नजारा देखने को मिलता है और वो है...खाली बर्तन लेकर इधर-उधर पानी की तलाश में भटके लोग!

पानी की तलाश में भटकते गांव के बच्चे

पानी की तलाश में भटकते गांव के बच्चे

सुबह से शाम सिर्फ पानी की ही तलाश

चाहे महिला हो या पुरुष हो.... या फिर छोटे बच्चे या बुजुर्ग कोई भी व्यक्ति इस गांव का सिर्फ पानी ही भरते नजर आता है. लोग इस गांव में चाहे दिन हो या रात बेटी,बहु,बेटा सभी को साइकिल चलाना सीख रहे हैं...ताकि साइकिल सीख कर वह पानी भरने जा सके. सुनकर आपको यह बात हैरान जरूर करेगी लेकिन यह बात बिल्कुल सत्य है. गांव के ग्रामीणों का कहना है कि कई सालों से यहां पानी की समस्या बनी हुई है जिसकी शिकायत कई बार कलेक्टर से कर चुके हैं. इसके बाद भी इस गांव में समस्या जस की तस बनी हुई है. इसका कोई भी निराकरण नहीं किया गया है जिसका खामियाज़ा गांव वालों को भुगतना पड़ रहा है. ग्रामीणों का कहना है कि जिस दिन टैंकर से पानी नहीं मिल पाता तो वो दूसरे गांव में जाकर पानी भरते हैं.

गांव के कुँओं पर पड़ा सूखा

गांव के कुँओं पर पड़ा सूखा

कब आएगा पानी ?? और कब होगी शादी ?

वहीं, गांव की महिलाएं हैं उन्होंने कहा कि इस गांव में जितना कुआं है. वह सूख चुका है जितने हैंडपंप बने हुए हैं वो भी सूखे पड़े हैं. किसी में भी पानी नहीं आता. पानी का टंकी बनी हुई है. उससे भी पानी नहीं आता है. कुछ नल से पानी भी आता है तो वह इस्तेमाल करने लायक बिल्कुल भी नहीं रहता है. नल जल योजना का भी लाभ उन्हें नहीं मिल पा रहा है. ग्रामीण इसी पल का इंतजार कर रहे है... कि उन्हें कब इस परेशानी से छुटकारा मिलेगा. और उनकी परेशानी कब दूर होगी. ऐसे में गावं वालों का सवाल है कि जब तक इस गांव में पानी की समस्या का हल नहीं निकलेगा तब तक कैसे कुंवारों की शादी होगी? वहीं, पानी की समस्या को लेकर ज़िम्मेदार अधिकारी गोल-मोल जवाब देते नज़र आए.

ये भी पढ़ें : 

पुलिसवालों की दबंगई पर SP का एक्शन ! अवैध वसूली करने वाले 2 कांस्टेबल सस्पेंड

बॉस ने किया रेप तो लड़की ने ऑफिस में की खुदकुशी... WhatsApp चैट ने खोले राज

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Successor Of BSP Supremo: ये नेता होगा बसपा सुप्रीमो मायावती का उत्तराधिकारी? पार्टी में दूसरे नंबर का है नेता!
अजब गजब ! जब तक नहीं आएगा पानी... तब तक कुंवारे ही रहेंगे इस गांव के लड़के
Protesters of Satnam community enraged by the vandalism in Jait Kham, set fire to the Collectorate premises during the protest in  Baloda bazar
Next Article
Baloda Bazar News: जैतखाम में तोड़फोड़ से भड़के सतनाम समाज के लोग, प्रदर्शन के दौरान कलेक्ट्रेट परिसर में लगाई आग
Close
;