विज्ञापन
Story ProgressBack

Negligence: मानसून से पहले खुल गई बिजली की प्री-मानसून मेंटेनेंस की पोल, हल्की सी हवा चलने पर बाधित हो रही बिजली सप्लाई 

CG News: बारिश का मौसम शुरू होने से पहले ही प्रशासन की तैयारियों का भंडाफोड़ हो गया है. बिजली की कटौती को लेकर लोगों को कोई राहत नहीं मिल रही है.

Read Time: 3 mins
Negligence: मानसून से पहले खुल गई बिजली की प्री-मानसून मेंटेनेंस की पोल, हल्की सी हवा चलने पर बाधित हो रही बिजली सप्लाई 
बिजली विभाग की लापरवाही से लोगों को हो रही परेशानी

Koriya News: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरिया (Koriya) जिले में बरसात (Monsoon in Chhattisgarh) शुरू होने से पहले ही प्री-मानसून मेंटेनेंस के कामों की पोल खुल गई है. मानसून से पहले बिजली विभाग (Electricity Department) ने मेंटेनेंस के नाम पर कई घंटों की बिजली कटौती की थी. खास बात यह है कि इस बार मेंटनेंस साल भर चलता रहा, लेकिन हालात सब के सामने है. जरा सी हवा चलती है या पानी गिरता है, तो बिजली उपकरणों में फॉल्ट आ जाता है. इससे घंटों लाइट गुल रहती है. वहीं, भीषण गर्मी (Heat Waves in Chhattisgarh) में कम वोल्टेज के चलते कूलर-पंखे भी सही तरीके से हवा नहीं करते हैं. ऐसे में लोगों के लिए इस गर्मी को झेलना बहुत मुश्किल हो गया है.

मेंटेनेंस के लिए की थी बिजली कटौती

सीएसपीडीसीएल ने विद्युत उपकरणों के रखरखाव और फीडर के मेंटेनेंस को लेकर शहर में 6 घंटे से अधिक बिजली बंद किया था. इसके बावजूद भी शहर में अघोषित विद्युत कटौती जारी है. सबसे ज्यादा परेशानी ग्रामीण फीडर अंतर्गत आने वाले इलाकों में हो रही है. जरा सी हवा चलने पर बिजली के उपकरणों में फॉल्ट होने के कई मामले सामने आ चुके हैं, जिससे कई इलाकों में घंटों बिजली की सप्लाई बाधित हो जाती है. वहीं, शहर में कई इलाकों में लो-वोल्टेज की समस्या बनी हुई है.

बिजली विभाग की तैयारी पूरी नहीं

बिजली विभाग की तैयारी पूरी नहीं

कम वोल्टेज से हो रही परेशानी

शहरवासियों ने बताया कि काफी समय से इलाके में वोल्टेज की समस्या बनी हुई है. शिकायत करने के बाद वोल्टेज की समस्या का समाधान किया जाता है. कभी वोल्टेज ज्यादा और कभी कम होता रहता है, जिस कारण कंप्यूटर, अन्य मशीन व उपकरण को चलाने में दिक्कत होती है. पिछले कुछ दिन से अघोषित बिजली कटौती हो रही है. कभी भी लाइट चली जाती है. 

खपत बढ़ी, आपूर्ति घटी

शहर में गर्मी से बिजली की खपत भी काफी बढ़ गई है. जिले में 30 से 36 मेगावाट तक बिजली खपत हो रही है. ग्रामीण फीडरों में लोड बढ़कर 160 मेगावाट तक पहुंच रहा है. इससे बिजली विभाग को लोड डिवाइड करने व अन्य तकनीकी परेशानियों को सामना करना पड़ रहा है. बढ़ती गर्मी के साथ ही लोगों की परेशानी बढ़ी है. खासकर दोपहर के समय लोग इस समस्या से अधिक जूझ रहे हैं. इस समय में पानी मोटर लोड नहीं उठा रहे.

ये भी पढ़ें :- Dhar: बीत गए 39 साल... अबतक नहीं मिल पाया न्याय, समाजसेवी ने शुरू किया अनिश्चितकालीन उपवास 

लोड शेडिंग को कराया जा रहा-केशव चंद्रा

सहायक विद्युत अभियंता बैकुंठपुर केशव चंद्रा ने कहा कि कुछ स्थानों को छोड़कर इस तरह की शिकायत न के बराबर ही मिल रही है. जहां से भी शिकायत मिल रही है, उन जगहों पर लोड शेडिंग को चेक कराया जा रहा है. जहां भी समस्याएं हुई, उन सभी जगहों पर मानसून से पहले ही गड़बड़ी दूर कर ली गई है.

ये भी पढ़ें :- Illegal Plotting: भू-माफिया और रेवेन्यू इंस्पेक्टर के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, लगाए अवैध प्लॉटिंग के आरोप

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
छत्तीसगढ़ : बीजापुर में नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, 2 जवान शहीद, 4 घायल
Negligence: मानसून से पहले खुल गई बिजली की प्री-मानसून मेंटेनेंस की पोल, हल्की सी हवा चलने पर बाधित हो रही बिजली सप्लाई 
Surajpur SDM broke journalist's mobile, assaulted Congress workers...incident captured in CCTV
Next Article
Chhattisgarh: SDM ने तोड़ा पत्रकार का मोबाइल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की मारपीट...सीसीटीवी में घटना कैद
Close
;