विज्ञापन
Story ProgressBack

Narayanpur Naxal Encounter: 8 नक्सली ढेर, एक जवान शहीद, सुरक्षा बलों ने इस साल 130 से ज्यादा को मार गिराया

Anti Naxal Operation in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के CM विष्णु देव साय यह पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि उनके प्रदेश छत्तीसगढ़ में यदि नक्सली गोली की भाषा ही समझेंगे तो सरकार उनको उसी भाषा में जवाब देगी. वहीं सरकार उनके आत्मसमर्पण के लिए बात करने को भी तैयार है.

Read Time: 4 mins
Narayanpur Naxal Encounter: 8 नक्सली ढेर, एक जवान शहीद, सुरक्षा बलों ने इस साल 130 से ज्यादा को मार गिराया

Anti-Naxal Operation in Narayanpur: नारायणपुर में (Narayanpur Encounter) नक्सली मुठभेड़ में 8 नक्सलियों को ढेर कर दिया गया है. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इस महीने की 12 तारीख को जिले के अबुझमाड़ क्षेत्र में स्थित कुतुल, फरसबेड़ा और कोड़तामेटा गांव के जंगल में नक्सल विरोधी अभियान शुरू किया गया था. इस घटना में सुरक्षाबल का एक जवान शहीद हो गया तथा दो अन्य घायल हैं. इस अभियान में अभियान में नारायणपुर-कोण्डागांव-कांकेर- दन्तेवाड़ा जिले का डीआरजी, विशेष कार्य बल और भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के 53वीं वाहिनी का बल शामिल थे. दो दिन से इलाक़े में एंटी नक्सल ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) लॉन्च किया गया है. पुलिस के अनुसार पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आज सुबह से सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ जारी है, इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने आठ नक्सलियों को मार गिराया है. इस घटना में सुरक्षाबल का एक जवान शहीद हुआ है तथा दो अन्य जवान घायल हैं. घायल जवानों को जंगल से बाहर निकालने की कोशिश की जा रही है. पिछले दो दिनों में भी क्षेत्र में कई बार रुक-रुककर गोलीबारी हुई है. क्षेत्र में तलाश अभियान जारी है. 

बदल रहा है नक्सल प्रभावित इलाका

छत्तीसगढ़ के CM विष्णु देव साय यह पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि उनके प्रदेश छत्तीसगढ़ में यदि नक्सली गोली की भाषा ही समझेंगे तो सरकार उनको उसी भाषा में जवाब देगी. वहीं सरकार उनके आत्मसमर्पण के लिए बात करने को भी तैयार है. वहीं छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम (Deputy Chief Minister Chhattisgarh) विजय शर्मा (Vijay Sharma) के अनुसार छत्तीसगढ़ से माओवाद की काली छाया जल्द दूर होगी. 13 जून तक 128 नक्सली हुए ढेर, 503 नक्सलियों की गिरफ्तारी हुई और 437 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है. सरकार “नियद नेल्लानार योजना” से बस्तर के नक्सल प्रभावित गांवों को सुविधाएं मिल रही हैं. ग्रामीणों को मूलभूत सुविधाओं के साथ अधोसंरचना विकास का लाभ मिल रहा है. सरकार के अनुसार ढाई दशक से लंबा समय आतंक के साये में बिताने के बाद जगरगुंडा, अरनपुर, बेदरे, सिलगेर, चिंतलनार, ताड़मेटला, तर्रेम  इलाकों के हालात और तस्वीर में बड़ा बदलाव दिखने लगा है. बदलाव की सबसे बड़ी वजह सड़क है. नियद नेल्लानार योजना के माध्यम से सुकमा के दूरस्थ जगरगुंडा में जहां सड़क नहीं बन पाती थी वहीं अब सरकार के संकल्प से सड़कें बन रही हैं.

केंद्रीय गृह (Union Home Minister) मंत्री अमित शाह (Amit Shah)  पिछले कुछ समय से यह कहते रहते हैं कि आने वाले 2 साल में नक्सलवाद को समाप्त कर देंगे. शाह का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के तीसरे टर्म में नक्सलवाद से पूर्ण मुक्त होगा छत्तीसगढ़, ये मोदी की गारंटी है.

डिप्टी सीएम विजय शर्मा का कहना है कि हम तो नक्सलियों से ही पूछना चाहते हैं कि, वे बताएं समर्पण नीति में क्या चाहते हैं? बंदूक रखकर जंगल में घूमने का क्या मतलब? मुख्यधारा में चलें, लोकतंत्र अपनाएं, देश और समाज की उन्नति करें. 

पिछले 5 महीने तक ही इस साल छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों के साथ अलग-अलग मुठभेड़ों में 110 से ज्यादा नक्सली मारे जा चुके थे. 10 मई को बीजापुर जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 12 नक्सली मारे गए थे. वहीं, 30 अप्रैल को नारायणपुर और कांकेर जिले की सीमा पर सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन महिलाओं सहित 10 नक्सली मारे गए थे. इसके अलावा, सुरक्षाबलों ने 16 अप्रैल को कांकेर जिले में मुठभेड़ में 29 नक्सलियों को मार गिराया था.

यह भी पढ़ें : Narayanpur Naxal Encounter: नारायणपुर में सुरक्षा बल टीम ने 7 नक्सलियों को मार गिराया, इस साल अब तक 112 ढेर

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Indian Railway: रंग लायी अश्विनी वैष्णव-विष्णु देव साय की मुलाकात, छत्तीसगढ़ के ये प्रोजेक्ट जल्द होंगे शुरू
Narayanpur Naxal Encounter: 8 नक्सली ढेर, एक जवान शहीद, सुरक्षा बलों ने इस साल 130 से ज्यादा को मार गिराया
Dhamtari: The government built a stadium for the players, but forgot to make a way for commuting, know what is the whole matter
Next Article
Dhamtari Mini Stadium: खिलाड़ियों के लिए स्टेडियम तो बना दिया, लेकिन आने-जाने का रास्ता बनाना भूल गया प्रशासन !
Close
;