विज्ञापन
Story ProgressBack

मूलभूत सुविधाओं के अभाव में कोरिया के लोगों ने किया मतदान बहिष्कार का ऐलान, शासन-प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप

Koriya Lok Sabha Voters Boycott: कोरिया के स्थानीय लोगों को उनकी मूलभूत सुविधाएं आज तक नहीं मिल पाई. इसको लेकर यहां के लोगों ने चुनाव का बहिष्कार करना शुरू कर दिया है.

Read Time: 3 mins
मूलभूत सुविधाओं के अभाव में कोरिया के लोगों ने किया मतदान बहिष्कार का ऐलान, शासन-प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप
Lok Sabha Elections 2024 का लोग कर रहे हैं बहिष्कार

Lok Sabha voting Boycott: लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Elections 2024) को लेकर सरगर्मी तेज हो चुकी है. इस बीच मतदाता (Voters) अब अपने मत को लेकर अधिक सजग होते नजर आ रहे हैं. ऐसा ही एक मामला नगर पालिका निगम चिरमिरी (Chirmiri) से सामने आया. यहां इलाके में अपनी मूलभूत सुविधाओं (Basic Facilities) के लिए भी लोग तरस रहे हैं. ऐसे में यहां लोगों ने लोकसभा चुनाव का बहिष्कार (Lok Sabha Elections Boycott) करने का मन बना लिया है. चुनाव को लेकर गेल्हापनी के स्थानीय लोगों ने मतदान न करने की घोषणा कर दी है. स्थानीय निवासियों का कहना है कि वह इस लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे.

मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं लोग

बता दें कि जिले के जिस गेल्हापनी इलाके में लोग लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने की बात कह रहे हैं, यह इलाका नगर निगम चिरमिरी में आता है. मनेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र में आने वाले इस क्षेत्र से प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल विधायक हैं. बावजूद इसके, आजादी के 76 साल बाद भी यह क्षेत्र मूलभूत सुविधाओं से वंचित है. यहां के ज्यादातर इलाकों में लोग एसईसीएल के पुराने क्वार्टरों में रहने को मजबूर हैं. बिजली के नाम पर एसईसीएल कंपनी की ही बिजली लोगों को मिलती है. बीते करीब दो महीने से बिजली-पानी सहित अन्य जरूरी सुविधाओं के अभाव के बाद भी यहां सुनवाई करने वाला कोई भी जिम्मेदार व्यक्ति नहीं है.

जब तक सुविधा नहीं, तब तक वोट नहीं: स्थानीय लोग

इस क्षेत्र के स्थानीय लोगों का कहना है कि 'कई बार हमने विधायक और कैबिनेट मंत्री से निवेदन किया है और अपनी समस्याओं से उन्हें अवगत कराया है. लेकिन, आज तक हमारी समस्याओं का निराकरण नहीं हुआ.' उनका कहना है कि काफी लंबे समय से स्वच्छता, बिजली, पानी, स्वास्थ्य और शिक्षा की मांग वे लोग कर रहे हैं, लेकिन अब तक उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई है. नागरिकों का शासन-प्रशासन के द्वारा की जा रही अनदेखी एवं मूलभूत सुविधाओं की कमी के कारण व्यथित होकर स्थानीय लोग अब लोकसभा चुनाव का बहिष्कार कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें :- Raipur: बिजली विभाग के ट्रांसफॉर्मर में लगी भीषण आग, दमकल की 6 गाड़ियां कर रही हैं आग पर काबू पाने की कोशिश

आज तक पूरे नहीं हुए नेताओं के वादे

स्थानीय लोगों का कहना है कि नेता चुनाव के वक्त आते हैं, बात करके और वादे करके चले जाते हैं, लेकिन आज तक एक भी वादा पूरा नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले उन्होंने वार्ड में बैनर-पोस्टर के जरिए चुनाव का बहिष्कार किया था और आज भी बहिष्कार कर रहे हैं, क्योंकि जब तक सभी मूलभूत सुविधाएं नहीं मिलेंगी, तब तक वे वोट नहीं डालेंगे.

ये भी पढ़ें :- Chhattisgarh: इस तरह से बर्थडे सेलिब्रेशन करना पड़ा भारी? आग लगने से मचा हड़कंप

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
पूर्व कांग्रेस विधायक अग्नि चंद्राकर के निधन पर दिग्गज नेताओं ने जताया शोक, आज होगा अंतिम संस्कार
मूलभूत सुविधाओं के अभाव में कोरिया के लोगों ने किया मतदान बहिष्कार का ऐलान, शासन-प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप
Balodabazar Violence Arson in Collector-SP office Ruckus during demonstration of Satnami Samaj Section 144 imposed
Next Article
Baloda Bazar के कलेक्ट्रेट में आगजनी, 100 से अधिक गाड़ियां भी फूंकी... जानें छत्तीसगढ़ में क्यों भड़की हिंसा?
Close
;